Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाज'पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाओ, वरना...': सोनीपत के पार्षद निरंजन को जान से मारने...

‘पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाओ, वरना…’: सोनीपत के पार्षद निरंजन को जान से मारने की धमकी

पार्षद निरंजन केमोबाइल नंबर को एक ग्रुप में जोड़ा गया। ग्रुप का नाम 'डॉट' था। उसमें उन पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने का दबाव बनाया गया।

सोनीपत में कुंडली नगरपालिका के एक वार्ड पार्षद निरंजन को ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने के लिए कॉल आए। कॉल पर जान से मारने की धमकी भी दी गई। फोन कर धमकी देने वाले ने कहा कि वो पीओके (पाकिस्तान के अवैध कब्जे वाले कश्मीर) से बोल रहा है। यह धमकी भरा कॉल उन्हें सोशल मीडिया ऐप टेलीग्राम पर किया गया था। टेलीग्राम पर कॉल करके उन्हें धमकी मिलने का सिलसिला लगातार जारी है।

क्या है पूरा मामला

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कुंडली निवासी पार्षद निरंजन ने पुलिस को बताया कि ‘आईडी रेड’ नामक ग्रुप से उनके टेलीग्राम पर कॉल की गई। कॉल रिसीव करने पर दूसरी तरफ से कोई युवक उन्हें गालियाँ देने लगा। बार-बार कॉल कर जान से मारने की धमकी दी गई।

पार्षद निरंजन के अनुसार कॉल पर उन्हें धार्मिक अभद्र टिप्पणी भी की गई। इसके बाद उन्होंने बार-बार कॉल को डिस्कनेक्ट करना शुरू कर दिया। इसी बीच उनके नंबर को एक ग्रुप में जोड़ा गया। ग्रुप का नाम ‘डॉट’ था। उसमें उन पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने का दबाव बनाया गया।

पार्षद का कहना है कि उन्होंने परेशान होकर अपने मोबाइल का इंटरनेट डाटा बंद कर दिया है। किसी हिंदूवादी संगठन के नाम का मैसेज करके पार्षद को इसका सदस्य बताकर गालियाँ भी दी गईं।  

‘पीओके से बोल रहा हूँ’  

पार्षद निरंजन ने बताया कि धमकी देने वाले ने कहा कि वो पीओके से बोल रहा है। कॉलर ने यह भी कहा कि वो यकीन दिलाने के लिए लोकेशन भी डाल सकता है। पार्षद ने हालाँकि यह बताया कि आरोपित हरियाणवी भाषा में बोल रहा था। लगातार मिल रही धमकियों की वजह से उन्होंने कहा कि मामला काफी गंभीर था, इसलिए इसे नजरअंदाज नहीं किया उन्होंने।

पार्षद निरंजन ने मामले की शिकायत कुंडली थाना पुलिस को दी। पुलिस ने इस मामले में धमकी देने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। थाना कुंडली पुलिस ने पार्षद की शिकायत दर्ज कर धमकी देने वाले के खिलाफ धारा 506 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि वो मामले को लेकर जाँच में जुट गई है। 

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -