Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजजालंधर में कश्मीरी और पंजाबी छात्रों के बीच पत्थरबाजी, लात-घूँसे: लड़की से छेड़खानी, पगड़ी...

जालंधर में कश्मीरी और पंजाबी छात्रों के बीच पत्थरबाजी, लात-घूँसे: लड़की से छेड़खानी, पगड़ी गिराने का आरोप… मस्जिद घेर कर बैठे लोग, नहीं पढ़ने दी नमाज

मारपीट के बाद गाँव में बनी मस्जिद के आगे 50 लोग लाठियाँ लेकर बैठ गए। इसी मस्जिद में CT इंस्टिट्यूट के छात्र नमाज़ पढ़ने जाया करते थे। हालात तनावपूर्ण होने की वजह से वो शुक्रवार की नमाज़ नहीं पढ़ पाए।

पंजाब के जालंधर में एक इंस्टिट्यूट में पढ़ने वाले कश्मीरी और पंजाबी छात्रों के बीच गुरुवार (29 फरवरी 2024) को भिड़ंत हो गई। इस झगड़े में दोनों तरफ से जमकर लात-घूँसे चले। एक पक्ष के अनुसार विवाद की वजह कश्मीर की एक छात्रा से छेड़खानी होना बताया जा रहा है। इसके उलट सिख छात्रों ने कश्मीरियों पर बेवजह मारपीट के बाद अपनी पगड़ी तक उतारने का आरोप लगाया है। हालात को काबू में करने के लिए पुलिस बुलानी पड़ी।

इस मामले में अब तक 14 छात्रों को निलंबित किया जा चुका है। इंस्टिट्यूट प्रशासन घटना की जाँच करा रहा है। विवाद से नाराज एक पक्ष के समर्थकों ने पास की एक मस्जिद में मुस्लिमों को नमाज़ भी नहीं अदा करने दी।

घटना जालंधर के सदर थानाक्षेत्र की है। यहाँ के शाहपुर इलाके में सीटी इंस्टीट्यूट का परिसर है। जम्मू कश्मीर स्टूडेंट एसोशिएशन ने आरोप लगाया है कि विपक्षी छात्रों का गुट एक कश्मीरी छात्रा से अभद्रता कर रहा था। इस अभद्रता की शिकायत इंस्टिट्यूट प्रशासन से की गई लेकिन उसे अनदेखा कर दिया गया। यह विवाद थोड़े समय बाद भड़क गया और मारपीट शुरू हो गई। आरोप है कि इस दौरान कश्मीरी छात्रों को पीटा गया। जम्मू एंड कश्मीर स्टूडेंट एसोशिएशन ने पुलिस से इस मामले में हस्तक्षेप और कश्मीरी छात्रों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की गुजारिश की है।

फिलहाल अभी तक दोनों तरफ से FIR दर्ज नहीं हुई है। इंस्टिट्यूट प्रशासन की आंतरिक कमिटी इस मामले की जाँच में जुटी है। मारपीट का एक वीडियो भी जम्मू कश्मीर स्टूडेंट एसोशिएशन ने अपने X हैंडल पर शेयर किया है। आरोप है कि दोनों तरफ से एक-दूसरे पर पत्थरबाजी की गई और कुर्सियाँ फेंकी गईं। इस वीडियो के माध्यम से चिन्हित किए गए 14 छात्रों को फिलहाल सस्पेंड कर दिया गया है।

घटनास्थल पर लगे CCTV फुटेज आदि के माध्यम से विवाद के असल कारणों की पड़ताल की जा रही है।

पुलिस ने भी इस मामले में दोनों पक्षों की काउंसलिंग करने और इंस्टिट्यूट प्रशासन द्वारा कार्रवाई किए जाने की बात कही है।

जम्मू एंड कश्मीर स्टूडेंट असोशिएशन के दावों के उलट पंजाबी छात्रों ने कश्मीरी छात्रों पर बेवजह खुद पर हमला किए जाने का आरोप लगाया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पंजाबी छात्रों का कहना है कि मारपीट के दौरान उनकी पगड़ियाँ तक उतारी गईं।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार पंजाबी छात्रों के साथ हुई मारपीट का असर इंस्टिट्यूट के आसपास मौजूद गाँवों तक पहुँच गया। घटना के एक दिन बाद शुक्रवार को इंस्टिट्यूट के पास फतेहपुर खेड़ा गाँव में बनी मस्जिद के आगे 50 लोग लाठियाँ लेकर बैठ गए थे। इसी मस्जिद में CT इंस्टिट्यूट के छात्र नमाज़ पढ़ने जाया करते थे। हालात तनावपूर्ण होने की वजह से वो शुक्रवार की नमाज़ नहीं पढ़ पाए।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गलत वीडियो डालने वाले अब नहीं बचेंगे: संसद के अगले सत्र में ‘डिजिटल इंडिया बिल’ ला सकती है मोदी सरकार, डीपफेक पर लगाम की...

नरेंद्र मोदी सरकार आगामी संसद सत्र में डीपफेक वीडियो और यूट्यूब कंटेंट को लेकर डिजिटल इंडिया बिल के नाम से पेश किया जाएगा।

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -