Tuesday, December 6, 2022
Homeदेश-समाजलंबी कुर्ती: छात्राओं के विरोध के बाद कॉलेज प्रशासन ने वापस लिया बेतुका फरमान

लंबी कुर्ती: छात्राओं के विरोध के बाद कॉलेज प्रशासन ने वापस लिया बेतुका फरमान

कॉलेज ने छात्राओं के शॉर्ट्स, स्‍लीवलेस या इस तरह के अन्‍य कपड़ों पर प्रतिबंध लगाते हुए कहा था कि छात्राएँ घुटने के नीचे तक की कुर्ती पहनकर ही पढ़ने आएँ। इससे पुरुष शिक्षकों का ध्‍यान नहीं भटकेगा और लड़क‍ियों को भी शादी के अच्‍छे प्रस्‍ताव मिलेंगे।

हैदराबाद के सेंट फ्रांसिस कॉलेज ने वह फरमान वापस ले लिया है जिसमें लड़कियों को केवल लंबी कुर्ती पहन कर ही आने का निर्देश दिया गया था। छात्राओं के विरोध-प्रदर्शन के बाद कॉलेज प्रशासन ने यह बेतुका आदेश वापस लिया है।

कॉलेज ने छात्राओं के शॉर्ट्स, स्‍लीवलेस या इस तरह के अन्‍य कपड़ों पर प्रतिबंध लगाते हुए कहा था कि छात्राएँ घुटने के नीचे तक की कुर्ती पहनकर ही पढ़ने आएँ। इससे पुरुष शिक्षकों का ध्‍यान नहीं भटकेगा और लड़क‍ियों को भी शादी के अच्‍छे प्रस्‍ताव मिलेंगे।

सोमवार को इस आदेश के खिलाफ छात्रों ने कॉलेज परिसर में जमकर प्रदर्शन किया। तकरीबन 150 छात्राएँ प्रदर्शन में शामिल थीं। इस दौरान कॉलेज के गेट तक जाने वाली पूरी लेन को ब्लॉक कर दिया गया था।

कॉलेज के प्राचार्य ने कहा था कि प्राधिकारी वर्ग सुबह 10.30 बजे प्रदर्शनकारियों के दो से तीन प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे। हालाँकि, छात्राओं द्वारा इसे खारिज कर दिया गया, क्योंकि उनके द्वारा रखी गई माँगों में यह भी कहा गया था कि प्रिंसिपल को गेट पर आना चाहिए और सभी को सार्वजनिक रूप से संबोधित करना चाहिए, न कि बंद दरवाजों के पीछे।

इससे पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें महिला सुरक्षा गार्ड छात्राओं की कुर्ती की लंबाई जाँच कर उन्हें कॉलेज में प्रवेश दे रही थीं। जब छात्राओं ने इस नियम को लागू करने के वजह के बारे में पूछा तो उन्हें जवाब दिया गया कि ये नियम इसलिए लागू किए जा रहे हैं, ताकि उन्हें अच्छे शादी के प्रस्ताव मिल सकें। इसके साथ  ही कॉलेज प्रबंधन की तरफ से कहा गया कि उनके कपड़ों से मेल फैकल्टी असहज हो जाते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान में गुरुद्वारे पर इस्लामी कट्टरपंथियों ने जमाया कब्ज़ा, जड़ दिया ताला: सिखों के आने-जाने पर भी रोक, कह रहे – ये हमारी मस्जिद...

लाहौर स्थित गुरुद्वारे को पाकिस्तान की इवेक्‍यू ट्रस्‍ट प्रॉपर्टी बोर्ड (ETPB) ने कट्टरपंथियों के साथ मिलकर सिख समुदाय के लिए बंद कर दिया है।

‘भारती जी, रिजर्वेशन पर आए थे नौकरी में क्या?’: पटना HC के जज के सवाल पर वकीलों ने लगाए ठहाके, ₹24 लाख की गड़बड़ी...

पटना हाईकोर्ट के जज संदीप कुमार ने एक घोटाला आरोपित अधिकारी से पूछा कि क्या उन्होंने रिजर्वेशन पर नौकरी प्राप्त किया है? अधिकारी ने 'हाँ' में जवाब दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
237,080FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe