Friday, July 1, 2022
Homeदेश-समाजनिजामाबाद, बेंगलुरू और अब हैदराबाद: कट्टरपंथी भीड़ ने हिंदू को पीटा क्योंकि उसके बाइक...

निजामाबाद, बेंगलुरू और अब हैदराबाद: कट्टरपंथी भीड़ ने हिंदू को पीटा क्योंकि उसके बाइक पर बैठी थी मुस्लिम लड़की

इसी तरह के एक मामले में मुस्लिम लड़की के साथ सरकारी अस्पताल जा रहे एक दलित को कुछ कट्टरपंथी मानसिकता वाले मुस्लिमों ने रोक लिया था। बेरहमी से पिटाई के बाद उसे अगवा कर लिया था।

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में कट्टरपंथी भीड़ ने एक हिंदू युवक की पिटाई कर दी। युवक का गुनाह यह था कि उसके बााइक पर एक मुस्लिम युवती बैठी थी। इस तरह की हाल में कई घटनाएँ सामने आई है। इससे पहले तेलंगाना के निजामाबाद में इसी तरह के मामले में भीड़ ने दलित युवक की पिटाई की थी। उसके बाद बेंगलुरू से एक वीडियो सामने आया था जिसमें मुस्लिम भीड़ ने बाइक सवार हिंदू युवक को रोककर धमकाया, क्योंकि वह एक मुस्लिम महिला के साथ घूम रहा था।

हैदराबाद के डीसीपी पश्चिमी जोन ने टाइम्स नाउ को बताया कि पहले युवक और युवती को एक मुस्लिम व्यक्ति ने रोका और उसके साथ मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद कुछ अन्य लोग भी लड़के को कथित रूप से पीटने में शामिल हो गए। घटना तीन दिन पुरानी है। लेकिन वीडियो सोशल मीडिया वेबसाइटों पर वायरल होने के बाद मामला सामने आया है।

पुलिस के अनुसार, आरोपित को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ इंडियन पीनल कोड की संबंधित धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। उन्होंने आगे कहा कि घटना में शामिल अन्य लोगों की पहचान करने के लिए आरोपित से पूछताछ की जा रही है।

तेलंगाना में ऐसी घटना पहली बार हुई है। इससे पहले भी हिंदू व्यक्तियों के खिलाफ ‘हेट क्राइम’ की घटनाएँ हो चुकी हैं। इन घटनाओं के दौरान कट्टरपंथी भीड़ ने मुस्लिम महिला के साथ यात्रा करने पर हिंदू पुरुषों को रोका, उनका मजाक बनाया और बेरहमी से उनकी पिटाई की।

इसी तरह के एक मामले में मुस्लिम लड़की के साथ सरकारी अस्पताल जा रहे एक दलित को कुछ कट्टरपंथी मानसिकता वाले मुस्लिमों ने रोक लिया था। उन्हें उसे बेरहमी से पीटने के बाद उसका अपहरण कर लिया था। कई घंटों के बाद जब आरएसएस के स्थानीय नेताओं ने इस मामले में हस्तक्षेप किया तो उसे छोड़ा गया। हालाँकि, बाद में लड़की के भाई ने मामले में हस्तक्षेप करते हुए बताया कि उसी ने अपनी बहन को व्यक्ति के साथ डॉक्यूमेंट लेने के लिए भेजा था।

हाल ही में ऐसी घटना कर्नाटक के बेंगलुरू में भी हुई थी। दक्षिण बेंगलुरू की इस घटना में भी हिंदू व्यक्ति मुस्लिम लड़की को बाइक पर बिठाकर जा रहा था तो मुस्लिम भीड़ ने उसे पीट दिया था। यह घटना उस वक्त सामने आई थी, जब बिना तारीख वाला वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो गया था। वीडियो में मुस्लिम भीड़ ने मुस्लिम महिला के साथ बाइक चला रहे हिंदू शख्स को रोका।

भीड़ में शामिल लोग हिंदू व्यक्ति को धमकी देते हुए उसे किसी भी मुस्लिम महिला के साथ यात्रा नहीं करने को कह रहे थे। वहीं हिंदू व्यक्ति के साथ यात्रा करने के मामले में मुस्लिम महिला का मजाक भी बनाया गया। यहीं नहीं उसे उसके परिवार का फोन नंबर देने के लिए मजबूर किया गया था। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने बताया था कि मामले में दो आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बनेंगे, नहीं थी किसी को कल्पना’: राजनीति के धुरंधर एनसीपी चीफ शरद पवार भी खा गए गच्चा, कहा- उम्मीद थी वो...

शरद पवार ने कहा कि किसी को भी इस बात की कल्पना नहीं थी कि एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र का सीएम बना दिया जाएगा।

आँखों के सामने बच्चों को खोने के बाद राजनीति से मोहभंग, RSS से लगाव: ऑटो चलाने से महाराष्ट्र के CM बनने तक शिंदे का...

साल में 2000 में दो बच्चों की मौत के बाद एकनाथ शिंदे का राजनीति से मोहभंग हुआ। बाद में आनंद दिघे उन्हें वापस राजनीति में लाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,269FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe