Thursday, June 20, 2024
Homeदेश-समाजकेरल में नॉन-हलाल रेस्तराँ खोलने वाली महिला गिरफ्तार, हत्या के प्रयास का आरोप: हाल...

केरल में नॉन-हलाल रेस्तराँ खोलने वाली महिला गिरफ्तार, हत्या के प्रयास का आरोप: हाल में बेरहमी से हुई थी पिटाई

इन्फोपार्क सर्कल इन्सपेक्टर संतोष ने बताया कि केस को 24 अक्टूबर को दर्ज किया गया था। अब इस मामले में तुशारा, अजीत, सुनील और विनूप उर्फ अप्पू गिरफ्तार हो गए हैं। सभी घटना के बाद से फरार थे।

केरल में कट्टरपंथियों के विरोध के बावजूद एक नॉन हलाल रेस्तराँ खोलने वाली महिला उद्यमी को उनके पति सहित मंगलवार (2 नवंबर 2021) को गिरफ्तार कर लिया गया। कथिततौर पर पूरा विवाद दुकान में चाट को रखने को लेकर दो पक्षों में (महिला और अन्य दुकानों में) हुआ था। बाद में पुलिस आई और तुशारा अजीत नाम की रेस्टोरेंट मालकिन, उनके पति और दो अन्य लोगों को अपने साथ ले गई।

पुलिस ने बताया कि तुशारा पर एक अन्य केस भी दर्ज है। इसमें उनपर नफरत फैलाने का आरोप लगाया गया है। कोच्चि पुलिस की मानें तो ‘नो हलाल’ रेस्तराँ चलाने वाले दंपति समेत 4 लोगों को फर्जी आरोप लगाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। केस को आईपीसी की धारा 153 (ए) के तहत रजिस्टर किया गया है।

द न्यूज मिनट की रिपोर्ट के अनुसार, इन्फोपार्क सर्कल इन्सपेक्टर संतोष ने बताया कि केस को 24 अक्टूबर को दर्ज किया गया था। अब इस मामले में तुशारा, अजीत, सुनील और विनूप उर्फ अप्पू गिरफ्तार हो गए हैं। सभी घटना के बाद से फरार थे। इन्हें हत्या के प्रयास के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

बता दें कि केरल के एर्नाकुलम के बाद अभी हाल में तुशारा एक अन्य नॉन-हलाल रेस्तराँ कोच्चि के कक्कानड में खोलना चाहती थी लेकिन उनके मुताबिक उन्हें जिहादियो ने प्रताड़ित किया क्योंकि उनका रेस्तराँ गैर हलाल खाना और पोर्क परोसता है। तुषारा का कहना था कि पुलिस उनके ख़िलाफ़ है और आरोपितों की मदद करने में लगी है। वहीं पुलिस ने ऐसे आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि इस मारपीट में कोई सांप्रदायिक एंगल नहीं है।

तुषारा ने 6 माह पहले अपने रेस्तराँ की दूसरी ब्रांच खोली थी। लेकिन वहाँ कई लोग उनका विरोध करने लगे। इसके बाद चाट स्टैंड लगाने के कारण दूसरे दुकान वालों से उनका विवाद हुआ। ये सवाल उठा कि क्या तुशारा दुकान के बाहर चाट स्टैंड लगा सकती हैं या नहीं। एक नकुल नाम के दुकान वाले ने इस मसले पर सवाल खड़ा किया था। लेकिन तुषारा ने उन्हें झापड़ मार दिया और ये विवाद झड़प में बदल गया। इसके बाद बिनॉय नामक दुकान वाला भी आया और दोनों ने आरोप लगाया कि उन्हें तुषारा ने अपने पति के साथ और अन्य लोगों की मदद से उन्हें प्रताड़ित किया है। बताया जा रहा है कि झड़प के बाद नकुल और बिनॉय के पैरों में चोट आई और दोनों अस्पताल में भर्ती हुए। इसके बाद तुशारा और उनके पति समेत 4 पर धारा 326 के तहत केस दर्ज किया गया। वहीं तुशारा की ओर से भी आरोप लगाया गया कि नकुल और बिनॉय ने उनके साथ बदसलूकी की थी।

मालूम हो कि कुछ दिन पहले तुशारा की बेटी ने अपनी माँ को एम्बुलेंस में अस्पताल ले जाने का एक वीडियो भी साझा किया था। ये वीडियो घटना के बाद का है। उन्होंने भी कहा था कि उन्हें बदमाशों ने बुरी तरह पीटा है। हालाँकि बाद में बताया गया कि वो झूठ बोल रही हैं। लेकिन वीडियो में दिख रहा था कि तुषारा अस्पताल में हैं। उन्होंने बताया था कि रेस्तराँ की दूसरी ब्रांच खोलने के लिए इस्लामवादियों से धमकियाँ मिल रही थीं। ठीक उसी तरह जैसे उन्हें पहली बार ब्रांच खोलने पर मिल रही थी। इस्लामवादी नॉन-हलाल बोर्ड लगाने के खिलाफ धमकी दे रहे थे। तुशारा ने अपने फेसबुक लाइव में यह भी कहा था कि उनकी रेस्तराँ में नॉन-हलाल खाना परोसने और उसके बाहर इसका पोस्टर लगाने की वजह से उन्हें बेरहमी से पीटा गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

UGC-NET जून 2024 परीक्षा रद्द, 18 जून को 11.21 लाख छात्रों ने दी थी परीक्षा: साइबर क्राइम सेल से मिला सेंधमारी का इनपुट,...

परीक्षा प्रक्रिया की उच्चतम स्तर की पारदर्शिता और पवित्रता सुनिश्चित करने के लिए भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय ने निर्णय लिया है कि यूजीसी-नेट जून 2024 परीक्षा रद्द की जाए।

मंच से उड़ा रहे थे भगवान राम और माता सीता का मजाक, नीचे से बज रही थी सीटी: एक्शन में IIT बॉम्बे, छात्र पर...

भगवान का मजाक उड़ाने वाले छात्रों के खिलाफ 1.20 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया। वहीं कुछ छात्रों को हॉस्टल से निलंबित भी किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -