Friday, June 21, 2024
Homeदेश-समाजतिथि ही नहीं, अब तो समय भी बता दिया... जानिए 22 जनवरी को कितने...

तिथि ही नहीं, अब तो समय भी बता दिया… जानिए 22 जनवरी को कितने बजे गर्भगृह में होगी रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा, नेशनल नहीं इंटरनेशनल होगा कार्यक्रम

अयोध्या में दीपोत्सव की तरह ही प्राण प्रतिष्ठा आयोजन को भी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर करने की योजना तैयार की गई है। इस समय अयोध्या में तमाम मठ मंदिरों के साथ ही रामलला के मंदिर को भी विशेष फूलों से सजाया और श्रृंगार किया जाएगा। 

अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर में भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी, 2024 को अभिजीत मुहूर्त मृगषिरा नक्षत्र में दोपहर 12:20 बजे की जाएगी। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भगवान की प्राण प्रतिष्ठा में शामिल होंगे। उनके हाथों से ही प्राण प्रतिष्ठा के वैदिक अनुष्ठान पूरे किए जाएँगे।

तिथि निर्धारित होने के बाद से ही इस आयोजन को भव्य अंतरराष्ट्रीय स्वरूप देने के लिए  तैयारियाँ शुरू हो गई हैं। रविवार (19 नवंबर, 2023) को भी साकेत निलयम में संघ परिवार की बैठक हुई। इसमें समारोह के अभियान को चार चरणों में बाँटकर तैयारियों को भव्य रूप दिया जा रहा है।

दरअसल, अयोध्या में दीपोत्सव की तरह ही प्राण प्रतिष्ठा आयोजन को भी अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर करने की योजना तैयार की गई है। इस अवसर पर भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के समय अयोध्या में तमाम मठ मंदिरों के साथ ही रामलला के मंदिर को भी विशेष फूलों से सजाया और श्रृंगार किया जाएगा। 

चार चरणों में बाँटा गया पूरा आयोजन 

पहला चरण 

प्राण प्रतिष्ठा के इस पूरे कार्यक्रम को चार चरणों में बाँटा गया है। वहीं पहले चरण की शुरुआत रविवार से ही हो गई है। जो 20 दिसंबर तक चलेगा। इस दौरान पूरे समारोह की रूपरेखा तैयारी होगी, इसके लिए 10-10 लोगों की छोटी-छोटी संचालन समिति बनाई जाएगी। जो जिला जिला व खंड स्तर पर लोगों को जोड़ने का काम करेगी।

इस टोली में मंदिर आंदोलन से जुड़े कारसेवकों को भी शामिल किया जाएगा। टोलियाँ 250 स्थानों पर बैठकें कर समारोह से अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने की अपील करेंगी।

दूसरा चरण 

वहीं दूसरा चरण 1 जनवरी,  2024 से शुरू होगा। इसमें घर-घर संपर्क योजना के तहत 10 करोड़ परिवारों में पूजित अक्षत, रामलला के विग्रह का चित्र व एक पत्रक दिया जाएगा। इसके जरिए लोगों से समारोह के दिन दीपोत्सव मनाने की अपील की जाएगी।

तीसरे चरण में होगी प्राण प्रतिष्ठा

इसके बाद तीसरा चरण 22 जनवरी से शुरू होगा, इसी चरण में प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम होगा। प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम में पीएम मोदी मौजूद होंगे। उस दिन पूरे देश में उत्सव व घर-घर अनुष्ठान हो ऐसा माहौल बनाया जाएगा। 

चौथा चरण 

वहीं चौथे चरण में मंदिर प्रशासन और टोलियों की कोशिश होगी कि ज्यादा-ज्यादा राम भक्तों को राम मंदिर के दर्शन कराए जाएँ। इसके लिए देशभर में एक मुहिम चलाई जाएगी ताकि अधिकतम संख्या में रामभक्त अयोध्या पहुँचे और भगवान के दर्शन करें। चौथा चरण 22 फरवरी, 2024  तक चलेगा। 

आज रात से शुरू होगी 14 कोसी परिक्रमा

कार्यक्रम के पहले चरण में ही रामनगरी की 14 कोसी परिक्रमा भी आज से 20 नवंबर को रात 2:09 बजे से शुरू होगी। परिक्रमा में भक्तों को लगभग 42 किमी का रास्ता तय करना होगा। इसके लिए पूरी तयारी कर ली गई है। मठ और मंदिर सज गए हैं। ये परिक्रमा 21 नवंबर की रात 11:38 बजे समाप्त होगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -