Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजपुलिसवाला लव जिहादी: इमरान ने नाम और मजहब छिपा हिंदू युवती को फाँसा, बड़े...

पुलिसवाला लव जिहादी: इमरान ने नाम और मजहब छिपा हिंदू युवती को फाँसा, बड़े भाई के साथ मिल किया रेप-धर्म परिवर्तन का डाला दबाव

युवती ने शिकायत पत्र में आगे लिखा कि एक दिन इमरान ने उसके साथ मारपीट करके भगा दिया और किसी से शिकायत करने पर मारने की धमकी दी। दोनों भाई ने धमकी देते हुए कहा कि वे पुलिस में हैं और उनका कोई कुछ बिगाड़ नहीं सकता। पीड़िता के आवेदन पर कोतवाली पुलिस ने दोनों सिपाही भाइयों के के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत में लव जिहाद का एक मामला सामने आया है। यहाँ इमरान नाम के एक पुलिसकर्मी ने अपना धर्म और पहचान छुपाकर एक हिंदू युवती को अपने चंगुल में फँसाया। इसके बाद लगातार उसका शोषण करता रहा। इतना ही नहीं उसने अपने बड़े भाई के साथ मिलकर उसका रेप किया और धर्म परिवर्तन का दबाव डाला। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

युवती मूल रूप से यूपी के सहारनपुर के कोतवाली थाना क्षेत्र की रहने वाली है। पीड़िता ने पीलीभीत के एसपी को अपनी शिकायत दी। उस शिकायत में उसने कहा कि तीन साल उसकी मुलाकात शामली जिले के रहने वाले एक युवक से हुई थी। उस दौरान उसने अपनी पहचान और धर्म छिपाते हुए अपना नाम रोहित बताया था। उसने कहा था कि वह पुलिस में है।

युवती का आरोप है कि कुछ समय बाद रोहित ने उसे प्रपोज किया और फिर शादी करने की बात कही। शादी के वादे की आड़ में रोहित बना इमरान उसे अलग-अलग होटलों में ले जाने लगा और वहाँ वह दुष्कर्म करता था। पीड़िता ने कहा कि कई बार मना करने के बाद भी वह जबरन शारीरिक संबंध बनाता था। दुष्कर्म के कारण गर्भवती होने पर उसने जबरदस्ती गर्भपात भी करवा दिया।

पीड़िता का कहना है कि वह जब भी इमरान से शादी की बात करती थी तो वह उसके साथ दुर्व्यवहार करता था। शादी के लिए बार-बार कहने के बाद रोहित बना इमरान उसे एक मंदिर में लेकर गया और वहाँ शादी की। पीड़िता का कहना है कि शादी करने के बाद वह उसे साथ रखने से मना कर दिया। इस दौरान वह उस पर गंदे-गंदे आरोप भी लगाता था।

पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा है कि रोहित के व्यवहार से तंग आकर उसने उसके बारे में पता लगाना शुरू किया। युवती को पता चला कि आरोपित पीलीभीत के न्यू एरिया थाने में तैनात है और उसका नाम रोहित नहीं, बल्कि इमरान मिर्जा है। पीड़िता का कहना है कि इसकी जानकारी होने के बावजूद वह इमरान से शादी के लिए तैयार थी, लेकिन वह इसके लिए तैयार नहीं हुआ।

पीड़िता ने कहा कि लगभग 6 महीना पहले उसने न्यूरिया थाने में आरोपित इमरान मिर्जा के खिलाफ शिकायत की थी। इसके बाद उसे सस्पेंड कर दिया गया था। 25 जनवरी 2023 को इमरान उससे मिलने पहुँचा और मनाने लगा। इसके बाद इमरान युवती से शपथ पत्र दिलवाकर अपने साथ ले गया। इमरान उसे शामली में किराए के कमरे पर रखा।

पीड़िता का कहना है कि शामली में इमरान ने शामली पुलिस में तैनात अपने बड़े भाई फुरकान से उसकी मुलाकात करवाई। इसके बाद दोनों भाई रोज उसके कमरे पर आने लगे और रिवॉल्वर दिखाकर उससे रेप करने लगे। महिला का आरोप है कि इस दौरान दोनों उससे मारपीट भी करते थे। महिला ने आरोप लगाया कि दोनों आरोपित भाई उस पर धर्म परिवर्तन का भी दबाव बनाते थे।

युवती ने शिकायत पत्र में आगे लिखा कि एक दिन इमरान ने उसके साथ मारपीट करके भगा दिया और किसी से शिकायत करने पर मारने की धमकी दी। दोनों भाई ने धमकी देते हुए कहा कि वे पुलिस में हैं और उनका कोई कुछ बिगाड़ नहीं सकता। पीड़िता के आवेदन पर कोतवाली पुलिस ने दोनों सिपाही भाइयों के के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस जगन्नाथ मंदिर में फेंका गया था गाय का सिर, वहाँ हजारों की भीड़ ने जुट कर की महा-आरती: पूछा – खुलेआम कैसे घूम...

रतलाम के जिस मंदिर में 4 मुस्लिमों ने गाय का सिर काट कर फेंका था वहाँ हजारों हिन्दुओं ने महाआरती कर के असल साजिशकर्ता को पकड़ने की माँग उठाई।

केरल की वायनाड सीट छोड़ेंगे राहुल गाँधी, पहली बार लोकसभा लड़ेंगी प्रियंका: रायबरेली रख कर यूपी की राजनीति पर कॉन्ग्रेस का सारा जोर

राहुल गाँधी ने फैसला लिया है कि वो वायनाड सीट छोड़ देंगे और रायबरेली अपने पास रखेंगे। वहीं वायनाड की रिक्त सीट पर प्रियंका गाँधी लड़ेंगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -