Thursday, July 7, 2022
Homeदेश-समाजबुर्का पहन अस्पताल में घूम रहा था रईस, लोगों ने पकड़कर पहले कूटा फिर...

बुर्का पहन अस्पताल में घूम रहा था रईस, लोगों ने पकड़कर पहले कूटा फिर पुलिस को सौंप दिया

आरोपित की पहचान कानपुर के चमनगंज निवासी जमील के बेटे रईस के तौर पर हुई है। वह अस्पताल की ही एक डॉक्टर गजाला अंजुम की कार चलाता है।

उत्तर प्रदेश के अकबरपुर जिला अस्पताल में एक युवक को लोगों ने बुर्का पहनकर घूमते पकड़ा। लोगों की नजर में आने के बाद उसने भागने की कोशिश की। लेकिन लोगों ने पकड़कर पहले उसकी पिटाई की और फिर पुलिस को सौंप दिया।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार आरोपित की पहचान कानपुर के चमनगंज निवासी जमील के बेटे रईस के तौर पर हुई है। वह अस्पताल की ही एक डॉक्टर गजाला अंजुम की कार चलाता है। घटना बुधवार (8 सितंबर 2021) की है।

बुर्का पहनकर घूम रहे रईस की चाल पर कुछ महिलाओं को शक हुआ तो उन्होंने इसकी जानकारी अस्पताल के कर्मचारियों को दी। सखी केंद्र की निधि सचान ने जब कर्मियों के साथ उसे रोकने की कोशिश की तो वह भागने लगा। पहले वह इमरजेंसी वार्ड में घुसा। फिर बाउंड्री वाल को फाँदने की कोशिश की। लोगों ने आतंकी समझकर शोर मचाया। इससे पहले कि वो भाग पाता कर्मचारियों ने उसे पकड़ लिया औऱ उसकी पिटाई कर दी। इसके बाद यूपी 112 पर सूचना दी गई और मौके पुलिस पहुँची। उसे कोतवाली लाया गया।

थाने में सीओ अरुण कुमार सिंह और इंस्पेक्टर तुलसीराम पांडेय ने उससे पूछताछ की तो उसने अपना नाम रईस बताया। शुरुआत में चमनगंज का पता बताया फिर कहने लगा कि वह फहीमाबाद में हलीम मुस्लिम इंटर कॉलेज के पास रहता है। बुर्का पहनकर घूमने की वजह फिलहाल स्पष्ट नहीं है। सीओ अरुण कुमार ने अमर उजाला को बताया कि उसके परिजनों को थाने बुलाया गया। फोन पर परिजनों ने उसके सिरफिरा होने की जानकारी दी। पुलिस गंभीरता से मामले की छानबीन में जुटी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

PFI की जिस रैली में लगे थे भड़काऊ नारे, उस मामले में 31 को केरल हाई कोर्ट ने दी जमानत: हिंदुओं की हत्या की...

कट्टरपंथी संगठन PFI की रैली में भड़काऊ नारे लगाने के 31 आरोपितों को केरल हाई कोर्ट ने जमानत दे दी है। यह रैली इसी साल मई में अलाप्पुझा जिले में हुई थी।

‘उड़न परी’ PT उषा, कलम के जादूगर राजामौली के पिता, संगीत के मास्टर इलैयाराजा, जैन विद्वान हेगड़े: राज्यसभा के लिए 4 नाम, PM मोदी...

पीटी उषा, विजयेंद्र गारू, इलैयाराजा और वीरेंद्र हेगड़े को राज्यसभा के लिए मनोनीत किए जाने पर पीएम मोदी ने इन सभी को प्रेरणास्त्रोत बताया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
204,228FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe