Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजलुलु मॉल के कोने में बैठ बुर्काधारी महिला ने पढ़ी नमाज, Video वायरल: UP...

लुलु मॉल के कोने में बैठ बुर्काधारी महिला ने पढ़ी नमाज, Video वायरल: UP पुलिस जाँच में जुटी, CCTV फुटेज से खुलेगी सच्चाई

पुलिस का इस मामले में कहना है कि अभी उन्हें पक्का नहीं पता कि ये वीडियो कब और कहाँ का है। वह इस वीडियो के बारे में जानकारी जुटा रहे हैं। उनके मुताबिक, 5 सितंबर 2022 को यह इंटरनेट पर वायरल होने के बाद उनके संज्ञान में आई।

लखनऊ के लुलु मॉल से कथिततौर पर एक बार फिर नमाज पढ़ने की घटना सामने आई है। सोशल मीडिया पर इसका वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में एक महिला कोने में बैठ नमाज पढ़ रही है। लोग इसे शेयर करके दावा कर रहे हैं कि ये जगह लुलु मॉल की ही है।

हालाँकि, पुलिस का इस मामले में कहना है कि अभी उन्हें पक्का नहीं पता कि ये वीडियो कब और कहाँ का है। वह इस वीडियो के बारे में जानकारी जुटा रहे हैं। उनके मुताबिक, सोमवार (5 सितंबर 2022) को यह इंटरनेट पर वायरल होने के बाद उनके संज्ञान में आई। इसके बाद पुलिस टीम फौरन लुलु मॉल गई और सीसीटीवी कैमरे चेक होने शुरू हुए। मामले की जाँच अभी चल ही रही है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, इंस्पेक्टर शैलेंद्र गिरी ने बताया कि वह लोग पता लगा रहे हैं कि ये वीडियो कितने दिन पहले का है। सारी जाँच-पड़ताल हो रही है।

लुलु मॉल में पढ़ी गई नमाज

उल्लेखनीय है कि इसी साल जुलाई महीने में लुलु मॉल का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। इसमें 9 व्यक्तियों को नमाज पढ़ते हुए रिकॉर्ड किया गया था। उस वक्त सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस प्रकार के तत्वों से सख्ती से निपटने का आदेश भी दिया था।

वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए पुलिस ने भी तब 9 में से 4 लोगों को गिरफ्तार किया था। वहीं पुलिस कमिश्नर ने बताया था कि गिरफ्तार किए गए चारों अभियुक्तों के खिलाफ धारा 153 A (1) 341, 505 295 A के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

लखनऊ पुलिस कमिश्नर ध्रुवकांत ठाकुर ने इन आरोपितों की गिरफ़्तारी की जानकारी देते हुए कहा था कि चारों गिरफ्तार किए गए अभियुक्त साथ में ही लुलु मॉल के अंदर नमाज अदा की थी। CCTV के माध्यम से आरोपितों की शिनाख्त की गई थी। रेहान, लुकमान, नोमान लखनऊ के इंदिरानगर थाने के खुर्रमनगर के अबरार में रहते हैं। अतिफ खान लखीमपुर के मोहम्मदी का रहने वाला है। लुकमान और नोमान दोनों सगे भाई हैं, जो कि सीतापुर के लहरपुर थानाक्षेत्र के मंगोलपुर के रहने वाले हैं। ये बाइक से मॉल में नमाज पढ़ने के लिए पहुँचे थे।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आजादी के वक्त थे 3 मुस्लिम बहुल जिले, अब 9 हैं: बंगाल BJP प्रमुख ने कहा- असम और बंगाल में डेमोग्राफी बदलाव सोची-समझी रणनीति,...

बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने असम के सीएम हिमंता के उस बयान का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने डोमोग्राफी बदलाव की बात कही थी।

शुक्र है मीलॉर्ड ने भी माना कि वो इंसान हैं! चाइल्ड पोर्नोग्राफी देखने को मद्रास हाई कोर्ट ने नहीं माना था अपराध, अब बदला...

चाइल्ड पोर्नोग्राफी को अपराध नहीं बताने वाले फैसले को मद्रास हाई कोर्ट के जज एम. नागप्रसन्ना ने वापस लिया और कहा कि जज भी मानव होते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -