Tuesday, September 21, 2021
Homeदेश-समाज14 घंटे पहले गार्ड को गोली मार भागे थे 3 बदमाश, UP पुलिस के...

14 घंटे पहले गार्ड को गोली मार भागे थे 3 बदमाश, UP पुलिस के साथ मुठभेड़ में 2 हुए ढेर: तीसरे की तलाश जारी

"यूपी पुलिस से जब बाइक सवार बदमाशों का आमना-सामना हुआ तो उन्होंने पुलिस टीम पर फायर कर दिया। इस दौरान एक इंस्पेक्टर की जैकेट को छूती हुई गोली निकल गई, जबकि ए​​क सिपाही जख्मी हो गया। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए दोनों बदमाशों पर गोलियाँ चला दीं, जिससे..."

उत्तर प्रदेश की जौनपुर पुलिस ने मंगलवार (10 अगस्त) को दो शातिर बदमाशों को मुठभेड़ में मार गिराया। यह मुठभेड़ आज सुबह साढ़े पाँच बजे सिंगरामऊ थाना क्षेत्र के बहरा पीली नदी के समीप हाईवे और रेलवे क्रासिंग के बीच हुई। बताया जा रहा है कि मारे गए बदमाशों में से एक का नाम अभिषेक गौतम और दूसरे का नाम नितिन मौर्य है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुठभेड़ में मारे गए दोनों बदमाश सोमवार (9 अगस्त) को धनियामऊ में कैश वैन लूटने के प्रयास में और गार्ड को गोली मारने की घटना में शामिल थे। जौनपुर पुलिस अधीक्षक अजय साहनी ने बताया कि मंगलवार की सुबह 4 बजे गश्त के दौरान पुलिस को दो संदिग्ध लोगों की सूचना प्राप्त हुई। सूचना पर आसपास के थानों की पुलिस को अलर्ट कर दिया गया।

अजय साहनी के मुताबिक, पुलिस से जब बाइक सवार बदमाशों का आमना-सामना हुआ तो उन्होंने पुलिस टीम पर फायर कर दिया। इस दौरान एक इंस्पेक्टर की जैकेट को छूती हुई गोली निकल गई, जबकि ए​​क सिपाही जख्मी हो गया। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए दोनों बदमाशों पर गोलियाँ चला दीं, जिससे वे घायल हो गए। इसके बाद बदमाशों को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहाँ डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। उन्होंने बताया कि घटना के 14 घंटे बाद ही एनकाउंटर किया गया।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मौके से नौ एमएम की पिस्टल और कारतूस बरामद हुई है। मुठभेड़ के बाद पुलिस ने कई थाने की फोर्स जिला अस्पताल पर तैनात कर दी थी। बता दें कि बक्शा थाना क्षेत्र के धनियामऊ बाजार में सोमवार दोपहर को कैश वैन लूटने के प्रयास में इन बदमाशों ने गार्ड को गोलियों से छलनी कर उसकी हत्या कर दी थी। इस सनसनीखेज वारदात को अंजाम देने के बाद फरार तीन में से दो लुटेरों को पुलिस ने आज मुठभेड़ में मार गिराया, जबकि तीसरा बदमाश फरार है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज योगेश है, कल हरीश था: अलवर में 2 साल पहले भी हुई थी दलित की मॉब लिंचिंग, अंधे पिता ने कर ली थी...

आज जब राजस्थान के अलवर में योगेश जाटव नाम के दलित युवक की मॉब लिंचिंग की खबर सुर्ख़ियों में है, मुस्लिम भीड़ द्वारा 2 साल पहले हरीश जाटव की हत्या को भी याद कीजिए।

अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालत में मौत: पंखे से लटकता मिला शव, बरामद हुआ सुसाइड नोट

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में मौत हो गई है। महंत का शव बाघमबरी मठ में सोमवार को फाँसी के फंदे से लटकता मिला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,474FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe