Thursday, July 29, 2021
Homeदेश-समाजमेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति, रेमेडेसिविर एवं अन्य दवाओं के पर्याप्त स्टॉक हों सुनिश्चित: CM...

मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति, रेमेडेसिविर एवं अन्य दवाओं के पर्याप्त स्टॉक हों सुनिश्चित: CM योगी ने दिया सख्त आदेश

राज्य के अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति की निगरानी के अलावा, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने संबंधित विभागों से कहा है कि वे राज्य में रेमेडेसिविर इंजेक्शन की उपलब्धता पर कड़ी निगरानी रखें, ताकि दवाओं की कोई कमी न हो।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देश में कोरोना वायरस प्रकोप की दूसरी लहर के बीच मेडिकल ऑक्सीजन की बिना किसी रुकावट की आपूर्ति सुनिश्चित करने के प्रयासों को आगे बढ़ाया है। यूपी सरकार ने राज्य के सभी अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति के लिए 10 ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने का आदेश दिया है।

यूपी सरकार के सूत्रों के अनुसार, संयंत्र राज्य भर में विभिन्न स्थानों पर स्थापित किए जा रहे हैं और वे एक सप्ताह के भीतर पूरी तरह फंक्शन में आ जाएँगे। कोरोना वायरस के मामलों में लगातार वृद्धि के साथ, योगी आदित्यनाथ ने रविवार (अप्रैल 18, 2021) को अधिकारियों को राज्य के प्रत्येक अस्पताल में न्यूनतम 36 घंटे का ऑक्सीजन बैकअप सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को अस्पतालों में अग्नि सुरक्षा उपकरणों का निरीक्षण करने का भी निर्देश दिया।

सरकार ने पहले ही निर्देश जारी किए हैं कि उद्योग के काम के लिए आपूर्ति की जा रही सभी मेडिकल ऑक्सीजन को तुरंत रोक दिया जाना चाहिए, और पूरी आपूर्ति केवल अस्पतालों को उपलब्ध कराई जानी चाहिए।

वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से एक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए, योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को COVID समर्पित अस्पतालों के लिए तेजी से ऑक्सीजन सिलेंडर खरीदने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य अधिकारियों को ऑक्सीजन की 15 दिनों की माँग का आकलन करने के बाद जल्दी से कार्य करना चाहिए। सीएम ने विशेष रूप से चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना से कहा कि वे राज्य में ऑक्सीजन की आपूर्ति पर नज़र रखें।

रेमेडेसिविर इंजेक्शन और अन्य चिकित्सा सप्लाई सुनिश्चित हो

राज्य के अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति की निगरानी के अलावा, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने संबंधित विभागों से कहा है कि वे राज्य में रेमेडेसिविर इंजेक्शन की उपलब्धता पर कड़ी निगरानी रखें, ताकि दवाओं की कोई कमी न हो।

मुख्यमंत्री ने खाद्य एवं औषधि प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि कोविड -19 के मरीजों को होम आइसोलेशन में दवाओं की कमी का सामना न करना पड़े। उन्होंने एफडी कंट्रोल रूम को रेमेडेसिविर स्टॉक की बारीकी से निगरानी करने का निर्देश दिया और चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह से कहा कि वे रेमेडेसिविर की आपूर्ति शृंखला सुनिश्चित करें। इसके अलावा यूपी सरकार ने 24/7 कंट्रोल रूम भी स्थापित किया है जहाँ अधिकारी दैनिक आधार पर स्टॉक की उपलब्धता का मूल्यांकन करेंगे।

योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को दिया सख्त निर्देश दिया

अपने वर्चुअल मीटिंग में, योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को COVID-19 प्रकोप से प्रभावित क्षेत्रों में आईसीयू और आइसोलेशन बेड की क्षमता का विस्तार करने के लिए भी कहा। सीएम ने कहा कि कानपुर के जीएसवी मेडिकल कॉलेज, रामा मेडिकल कॉलेज और नारायण मेडिकल कॉलेज में सुविधाओं को अपग्रेड किया जाना चाहिए।

इसके अलावा, सीएम ने वीकेंड में लॉकडाउन और अन्य राज्यों से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग को सख्ती से अंजाम देने के दौरान स्वच्छता अभियान चलाने और फॉगिंग करने की भी सिफारिश की। उन्होंने कहा कि कोविड​​-19 से संक्रमित लोगों को पर्याप्त सुविधाओं से लैस किया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि वे जल्द से जल्द मामलों का पता लगाने और वायरस के प्रसार को रोकने के लिए RTPCR टेस्ट करें।

इसके अलावा, योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को बड़ी संख्या में लोगों को इकट्ठा न रहने और अपने घरों से बाहर निकलने वाले लोगों के लिए मास्क लगाने के ड्राइव को तेज करने के लिए कहा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें, जैसे कि मास्क न पहनने पर 1000 रुपए का जुर्माना लगाएँ।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पूरे देश में खेला होबे’: सभी विपक्षियों से मिलकर ममता बनर्जी का ऐलान, 2024 को बताया- ‘मोदी बनाम पूरे देश का चुनाव’

टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने विपक्ष एकजुटता पर बात करते हुए कहा, "हम 'सच्चे दिन' देखना चाहते हैं, 'अच्छे दिन' काफी देख लिए।"

कराहते केरल में बकरीद के बाद विकराल कोरोना लेकिन लिबरलों की लिस्ट में न ईद हुई सुपर स्प्रेडर, न फेल हुआ P विजयन मॉडल!

काँवड़ यात्रा के लिए जल लेने वालों की गिरफ्तारी न्यायालय के आदेश के प्रति उत्तराखंड सरकार के जिम्मेदारी पूर्ण आचरण को दर्शाती है। प्रश्न यह है कि हम ऐसे जिम्मेदारी पूर्ण आचरण की अपेक्षा केरल सरकार से किस सदी में कर सकते हैं?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,739FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe