Tuesday, January 26, 2021
Home विचार सामाजिक मुद्दे तबलीगी जमात का थूक साफ कर रहे लिबरल मूर्खों से पाला पड़े तो क्या...

तबलीगी जमात का थूक साफ कर रहे लिबरल मूर्खों से पाला पड़े तो क्या करें?

‘मूर्ख लिबरल’ लौट आए हैं। फिलहाल वे तबलीगी जमात का थूक साफ करने में लगे हैं ।क्या कभी आपका पाला ऐसे कूढ़मगज से पड़ा है? यदि नहीं तो आप सौभाग्यशाली हैं। लेकिन यदि पाला पड़ जाए तो आप इनके कुतर्कों से कैसे बचेंगे?

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पर मूर्ख लिबरलों से कैसे बात करें, इसके बारे में मैंने बीते साल दिसंबर में लिखा था। वैसे तो मूर्खों के साथ बहस करना हमेशा व्यर्थ ही होता है, लेकिन इनको जवाब देने के भी अपने मजे हैं। इसलिए मैं फिर से हाजिर हूॅं, क्योंकि ‘मूर्ख लिबरल’ भी लौट आए हैं। फिलहाल वे तबलीगी जमात का थूक साफ करने में लगे हैं।

जाहिल और दिमाग से पैदल ऐसे लोग आपको फेसबुक, ट्विटर, व्हाट्सएप जैसी जगहों पर आसानी से दिख जाएँगे। यहाँ न भी दिखें तो कुछ आपको अपने आस-पास टहलते हुए अवश्य मिल जाएँगे। क्या कभी आपका पाला ऐसे कूढ़मगज से पड़ा है? यदि नहीं तो आप सौभाग्यशाली हैं। लेकिन यदि पाला पड़ जाए तो आप इनके कुतर्कों से कैसे बचेंगे? नीचे कुछ उनके ऐसे ही बेतुके सवालों के जवाब दिए गए हैं। इन्हें पढ़ने के बाद आप आसानी से न केवल उन्हें जवाब दे पाएँगे, बल्कि उन्हें भागने को भी मजबूर कर देंगे।

लिबरल इडियट: तब्लीगी जमात वाले वायरस नहीं फैला रहे हैं। सरकार अन्य लोगों की तुलना में उन्हें ज्यादा ट्रेस कर रही। उनकी ज्यादा टेस्टिंग कर रही। लिहाजा उनकी संख्या ज्यादा है।

आप: उन्हें बताइए कि सरकार पूर्वाग्रह से किसी एक संगठन के सदस्यों की तलाश नहीं कर रही। उनकी जॉंच इस​लिए करनी पड़ रही है क्योंकि उनके साथ निजामुद्दीन के मरकज में रहे कुछ लोग संक्रमित पाए गए थे। क्या कनिका कपूर के पॉजीटिव पाए जाने के बाद सरकार ने उनकी पार्टी में शामिल सभी लोगों को ट्रेस नहीं किया था।?

लिबरल इडियट: बिल्कुल भक्त! तो क्या आप कनिका कपूर पर भी संक्रमण फैलाने का आरोप लगा रहे हैं? फिर यह नफरत सिर्फ तबलीगी जमात के लिए ही क्यों?

आप:  हाँ, बेवकूफों, कनिका कपूर को हर किसी ने दोषी बोला है। साथ में उस पर वायरस फैलाने का आरोप लगाया गया था। लोगों ने उसे जेल भेजने की भी माँग की हैं। यहाँ तक उसके खिलाफ़ पुलिस केस भी दर्ज है। आप बेवकूफों की समस्या यह है कि आप यह भी नहीं जानते कि आप किस बारे में बात कर रहे हैं।

लिबरल इडियट: लेकिन आप लोगों ने यह नहीं कहा कि कनिका कपूर किसी साजिश के तहत ऐसा कर रही थीं। आपने उस पर किसी तरह के नफ़रत का आरोप नहीं लगाया। लेकिन इस घटना के बाद से आप लोग ‘कोरोना जिहाद’ का उपयोग कर रहे हैं, क्या वो सही है!

आप: मैं जरूर कनिका पर साजिश का आरोप लगाता। लेकिन मैंने उसके सभी वीडियो खोजे और कहीं भी उसने यह बात नहीं कहीं कि उसका गाना सबसे अच्छा था और अन्य लोग उससे नीचे थे। वो ये भी नहीं मानती की उसे जन्नत नसीब हो, क्योंकि वह अच्छा गाती है और बाकी वे सभी लोग नरक में चले जाएँ जो उसके एलबम को नहीं खरीदते हैं। उसका कोई भी वीडियो आज तक ऐसा नहीं आया, जिसमें उसने दावा किया हो कि दिन में पाँच बार ‘बेबी डॉल मैं सोने दी’ गाकर वायरस ठीक किया जा सकता है।

लिबरल इडियट: आपकी बातों का कोई मतलब नहीं है।

आप: हाहाहा… इतने मासूम होने का दिखावा नहीं करते। आप जानते हैं कि मैं किस बारे में बात कर रहा हूँ। मुद्दा यह है, यदि आप अपने विश्वास को दिखाते हैं तो आपकी मान्यताओं पर सवाल उठाया जाएगा।

लिबरल इडियट: फिर आप उन हिंदुओं की मान्यताओं पर सवाल क्यों नहीं उठाते जो मंदिरों में एकत्र हुए थे (बॉलीवुड की बेवकूफ स्वरा भास्कर) द्वारा साझा किए गए एक व्हाट्सएप संदेश को पढ़ता है?

आप: स्वरा भास्कर और अनुराग कश्यप द्वारा साझा किए गए बकवास की जगह कुछ और पढ़ें। क्या आपको ऐसी किसी सभा को समर्थन देने वाला कोई मिला? कुछ ऐसी सभाएँ उन राज्यों में थीं, जो आपकी धर्मनिरपेक्ष सरकारों द्वारा शासित हैं। जैसे केरल और महाराष्ट्र में। आप उन धर्मनिरपेक्ष सरकारों को आक्रामक तरीके से ट्रेस करने और उन सभी का टेस्ट करने के लिए क्यों नहीं कहते हैं, जिन्होंने किसी मंदिर में हुए समारोह में भाग लिया हो? इस तरह से आप यह साबित कर सकते हैं कि इन सभाओं में भी वायरस फैलता है, न कि सिर्फ तबलीगी जमात के जमावड़े से। आप “टेस्ट-टेस्ट-टेस्ट” चिल्लाते रहते हैं। इसलिए उन हिंदुओं का टेस्ट करें जो आपके द्वारा दावा किए गए किसी भी कार्यक्रम में शामिल हुए थे। जाइए और अपने दावे को साबित करिए। तब आप ये देखना कि जब इन लोगों का पता लगा कर टेस्ट किया जायेगा तो वे पुलिस पर पत्थर नहीं फेंकेंगे, वे डॉक्टर का सिर नहीं फोड़ेंगे और वे नर्सों पर थूकेंगे भी नहीं।

लिबरल इडियट: ये सभी फर्जी खबरें हैं। मजहब का कोई भी आदमी ऐसी चीजें नहीं कर रहा है। 

आप: चुप चु###

लिबरल इडियट: आप केवल गाली दे सकते हैं।

आप: वीडियो और फ़ोटो जिसमें वे पुलिसकर्मियों, स्वास्थ्यकर्मियों पर हमला करते नजर आते हैं पेश करिए।

लिबरल इडियट: मजहब के लोग इस हिंदुत्ववादी व्यवस्था पर यकीन नहीं करते। अयोध्या में मंदिर बनाकर, सीएए जैसे सांप्रदायिक कानून बनाकर, कश्मीर का विशेष दर्जा छीन कर, आपने समुदाय विशेषको एक कोने में धकेल दिया है। अब वे यह मानने को तैयार नहीं हैं कि कोई भी सरकारी अधिकारी या टीम उनके इलाके का दौरा करे।

आप: उन्हें पाकिस्तान में पुलिस और सरकारी टीमों पर भी ख़ास समुदाय ने किस तरह पथराव किया है, इस बारे में समाचार दिखाएँ। उसके बाद उनसे पूछिए कि क्या उनके कहने का मतलब है कि भाजपा पाकिस्तान में भी शासन कर रही है?

लिबरल इडियट: तो आप कहना चाहते हैं कि हर जगह इस समुदाय के लोग बुरे हैं? यह और कुछ नहीं बल्कि इस्लामोफोबिया है।

आप: और आप क्या कहना चाहते हैं कि कोई भी ‘शांतिप्रिय’ कभी कुछ गलत कर ही नहीं सकता? आप हमेशा उनके अपराधों पर पर्दा डालने पर क्यों तुले रहते हैं।

लिबरल इडियट: हमने कभी इस बारे में ऐसा कुछ नहीं कहा।

आप: आपने जहाँ से शुरू किया था, वहाँ वापस जाएँ। और यहाँ से चले जाइए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Amit Kelkar
a Pune based IT professional with keen interest in politics

 

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दिल्ली में ‘किसानों’ ने किया कश्मीर वाला हाल: तलवार ले पुलिस को खदेड़ा, जगह-जगह तोड़फोड़, पुलिस वैन पर पथराव

दिल्ली में प्रदर्शनकारी पुलिस के वज्र वाहन पर चढ़ गए और वहाँ जम कर तोड़-फोड़ मचाई। 'किसानों' द्वारा तलवारें भी भाँजी गईं।

गणतंत्र दिवस 2021: सुप्रीम कमांडर राष्ट्रपति के साथ खास पगड़ी में PM… और महिला कमांडर प्रीति – परेड की तस्वीरें

गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पहुँचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जामनगर से एक विशेष पगड़ी पहनी। बलिदानी सैनिकों को दी श्रद्धांजलि।

3 बॉर्डर पर बैरीकेडिंग तोड़ ‘किसान’ प्रदर्शनकारियों की भीड़ दिल्ली में घुसी, मुकरबा चौक पर तनावपूर्ण माहौल

वीडियो में देख सकते हैं कि भारी तादाद में 'किसान' बैरीकेडिंग के पार खड़े होते हैं, फिर धीरे-धीरे उस पर चढ़ना शुरू कर देते हैं और...

झील जम गई… लेकिन तिरंगे के साथ कदम मिलते रहे: देखिए गणतंत्र दिवस 2021 की मजेदार तस्वीरें

यहाँ हम आपको गणतंत्र दिवस 2021 की देश भर की तस्वीरें दिखा रहे हैं, अलग-अलग कोने से। देश भर में कई जगहों पर तिरंगा फहराया गया।

जिन्होंने बाबरी मस्जिद के नीचे खोजा राम मंदिर, वैज्ञानिक तरीके से ढूँढा पांडवों का इंद्रप्रस्थ… मिला पद्म विभूषण सम्मान

जिन 7 लोगों को देश के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण के लिए चुना गया है, उनमें प्रोफेसर ब्रज बासी लाल (BB Lal) का नाम भी शामिल है।

आधी मूँछ में खेलने उतरेंगे अश्विन, पुजारा ने जो ऑस्ट्रेलिया में नहीं किया… अगर इंग्लैंड के खिलाफ कर देंगे तो!

पुजारा को अश्विन ने इंग्लैंड के खिलाफ किसी भी स्पिनर पर क्रिज से निकल आगे बढ़ कर उड़ा कर शॉट खेलने का चैलेंज दिया है। चैलेंज खुद भी लिया है।

प्रचलित ख़बरें

12 साल की लड़की का स्तन दबाया, महिला जज ने कहा – ‘नहीं है यौन शोषण’: बॉम्बे HC का मामला

बॉम्बे हाई कोर्ट की नागपुर बेंच ने शारीरिक संपर्क या ‘यौन शोषण के इरादे से किया गया शरीर से शरीर का स्पर्श’ (स्किन टू स्किन) के आधार पर...

राहुल गाँधी बोले- किसान मजबूत होते तो सेना की जरूरत नहीं होती… अनुवादक मोहम्मद इमरान बेहोश हो गए

इरोड में राहुल गाँधी के अंग्रेजी भाषण का तमिल में अनुवाद करने वाले प्रोफेसर मोहम्मद इमरान मंच पर ही बेहोश होकर गिर पड़े।

छठी बीवी ने सेक्स से किया इनकार तो 7वीं की खोज में निकला 63 साल का अयूब: कई बीमारियों से है पीड़ित, FIR दर्ज

गुजरात में अयूब देगिया की छठी बीवी ने उसके साथ सेक्स करने से इनकार कर दिया, जब उसे पता चला कि उसके शौहर की पहले से ही 5 बीवियाँ हैं।

15 साल छोटी हिन्दू से निकाह कर परवीन बनाया, अब ‘लव जिहाद’ विरोधी कानून को ‘तमाशा’ बता रहे नसीरुद्दीन शाह

नसरुद्दीन शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 'लव जिहाद' को लेकर तमाशा चल रहा है। कहा कि लोगों को 'जिहाद' का सही अर्थ ही नहीं पता है।

RSS को ‘निकरवाला’ बोला राहुल गाँधी ने, ‘लिकरवाला’ सुन जनता हुई ‘मस्त’: इस लेटेस्ट Video में है बहुत मजा

राहुल गाँधी जब बोलते हैं, बहुत मजा देते हैं। उनके मजे देने वाले वीडियो आप खोजेंगे 1 मिलेंगे 11... अब एक और वीडियो जुड़ गया है, एकदम लेटेस्ट।

निकिता तोमर को गोली मारते कैमरे में कैद हुआ था तौसीफ, HC से कहा- मैं निर्दोष, यह ऑनर किलिंग

निकिता तोमर हत्याकांड के मुख्य आरोपित तौसीफ ने हाई कोर्ट से घटना की दोबारा जाँच की माँग की है। उसने कहा कि यह मामला ऑनर किलिंग का है।
- विज्ञापन -

 

दिल्ली में ‘किसानों’ ने किया कश्मीर वाला हाल: तलवार ले पुलिस को खदेड़ा, जगह-जगह तोड़फोड़, पुलिस वैन पर पथराव

दिल्ली में प्रदर्शनकारी पुलिस के वज्र वाहन पर चढ़ गए और वहाँ जम कर तोड़-फोड़ मचाई। 'किसानों' द्वारा तलवारें भी भाँजी गईं।

क्रीम-पाउडर बेचने वाली प्रियंका चोपड़ा को अब पछतावा, हॉलीवुड में पहचान बनाए रखने की मजबूरी या ‘दिवाली-सिगरेट’?

प्रियंका चोपड़ा एक बार फिर चर्चा में आई हैं। इस बार मुद्दा फेयरनेस क्रीम है। प्रियंका को पछतावा है कि उन्होंने भारत में फेयरनेस क्रीम के ऐड किए।

गणतंत्र दिवस 2021: सुप्रीम कमांडर राष्ट्रपति के साथ खास पगड़ी में PM… और महिला कमांडर प्रीति – परेड की तस्वीरें

गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पहुँचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जामनगर से एक विशेष पगड़ी पहनी। बलिदानी सैनिकों को दी श्रद्धांजलि।

3 बॉर्डर पर बैरीकेडिंग तोड़ ‘किसान’ प्रदर्शनकारियों की भीड़ दिल्ली में घुसी, मुकरबा चौक पर तनावपूर्ण माहौल

वीडियो में देख सकते हैं कि भारी तादाद में 'किसान' बैरीकेडिंग के पार खड़े होते हैं, फिर धीरे-धीरे उस पर चढ़ना शुरू कर देते हैं और...

झील जम गई… लेकिन तिरंगे के साथ कदम मिलते रहे: देखिए गणतंत्र दिवस 2021 की मजेदार तस्वीरें

यहाँ हम आपको गणतंत्र दिवस 2021 की देश भर की तस्वीरें दिखा रहे हैं, अलग-अलग कोने से। देश भर में कई जगहों पर तिरंगा फहराया गया।

जिन्होंने बाबरी मस्जिद के नीचे खोजा राम मंदिर, वैज्ञानिक तरीके से ढूँढा पांडवों का इंद्रप्रस्थ… मिला पद्म विभूषण सम्मान

जिन 7 लोगों को देश के दूसरे सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण के लिए चुना गया है, उनमें प्रोफेसर ब्रज बासी लाल (BB Lal) का नाम भी शामिल है।

आधी मूँछ में खेलने उतरेंगे अश्विन, पुजारा ने जो ऑस्ट्रेलिया में नहीं किया… अगर इंग्लैंड के खिलाफ कर देंगे तो!

पुजारा को अश्विन ने इंग्लैंड के खिलाफ किसी भी स्पिनर पर क्रिज से निकल आगे बढ़ कर उड़ा कर शॉट खेलने का चैलेंज दिया है। चैलेंज खुद भी लिया है।

TikTok और UC Browser समेत 59 चाइनीज एप्स पर परमानेंट बैन, सरकार के सवालों का नहीं दे पाए जवाब!

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (MeitY) मंत्रालय ने TikTok व 58 अन्य चीनी एप्स को हमेशा के लिए प्रतिबंधित किया।

‘गजनवी फोर्स’ से जम्मू-कश्मीर के मंदिरों पर हमले की फिराक में पाकिस्तान, सैन्य प्रतिष्ठान भी आतंकी निशाने पर

जम्मू-कश्मीर के मंदिरों पर आतंकी हमलों की फिराक में हैं। सैन्य प्रतिष्ठान भी निशाने पर हैं।
00:25:31

गणतंत्र दिवस पर लिब्रांडुओं के नैरेटिव के लिए आप तैयार हैं?

कल की मीडिया में वामपंथियों और लिब्रांडुओं के नैरेटिव की झलक आज देख लीजिए ताकि आपको झटका न लगे!

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,695FollowersFollow
386,000SubscribersSubscribe