Thursday, September 23, 2021
Homeराजनीतिसावरकर की तारीफ करने पर सिंघवी से नाराज हुईं सोनिया, माँगी सफाई

सावरकर की तारीफ करने पर सिंघवी से नाराज हुईं सोनिया, माँगी सफाई

चूँकि सिंघवी का सावरकर पर बयान उस दौरान आया जब हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनावों के मद्देनजर वोटिंग चल रही थी। इसलिए कॉन्ग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष उनसे नाराज हो गईं और अपने एक विश्वस्त को फोन करके सिंघवी से उनके बयान पर सफाई माँगी।

कॉन्ग्रेस नेता अभिषेक सिंघवी द्वारा सोशल मीडिया पर वीर सावरकर की तारीफ किए जाने के बाद खबर है कि कॉन्ग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी उनसे नाराज हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हरियाणा और महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों के लिए चल रही वोटिंग के बीच सिंघवी की आई सावरकर पर टिप्पणी इस नाराजगी का मुख्य कारण है।

आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, बताया जा रहा है कि चूँकि सिंघवी का सावरकर पर बयान उस दौरान आया जब हरियाणा और महाराष्ट्र में विधानसभा चुनावों के मद्देनजर वोटिंग चल रही थी। इसलिए कॉन्ग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष उनसे नाराज हो गईं और अपने एक विश्वस्त को फोन करके सिंघवी से उनके बयान पर सफाई माँगी।

गौरतलब है कि कल सिंघवी ने सोशल मीडिया पर खुलकर कहा था कि सावरकर ने न केवल आजादी की लड़ाई में अहम भूमिका निभाई थी बल्कि वे देश के लिए जेल भी गए थे। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, “निजी तौर पर मैं सावरकर की विचारधारा से सहमत नहीं हूँ। लेकिन इस तथ्य को नकारा नहीं जा सकता कि वे एक काबिल व्यक्ति थे जिन्होंने आजादी की लड़ाई में महत्तवपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने दलितों के अधिकार की लड़ाई लड़ी और देश के लिए जेल गए।”

इसके बाद वे यहीं नहीं रुके, उन्होंने स्वच्छता अभियान के प्रसार के लिए प्रधानमंत्री मोदी द्वारा की गई कोशिशों की भी सराहना की। उन्होंने लिखा, “जहाँ हकदार हों, वहाँ प्रशंसा की जानी चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गाँधी जी के स्वच्छता के संदेशों को प्रसारित करने के लिए बॉलीवुड की मदद ली। इससे अधिकतर लोगों का ध्यान इस मुद्दे पर जाएगा।”

हालाँकि, सावरकर वाले बयान पर सिंघवी ने साफ किया था कि वे सावरकर की विचारधारा से सहमत नहीं हैं, लेकिन शाम होते-होते सवालों की झड़ी इतनी लग गई की उन्हें अपनी सफाई हर जगह पेश करनी पड़ी। इंडिया टुडे के मुताबिक पार्टी सूत्रों ने उन्हें बताया कि सिंघवी को कॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता का फोन गया था और उनसे ट्वीट के कथ्य और इसकी टाइमिंग पर सवाल किए गए। रिपोर्ट के मुताबिक सिंघवी को ये कॉल सोनिया गाँधी के कहने पर गया, जो कि सिंघवी के ट्वीट से नाराज दिखीं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात में ‘लैंड जिहाद’ ऐसे: हिंदू को पाटर्नर बनाओ, अशांत क्षेत्र में डील करो, फिर पाटर्नर को बाहर करो

गुजरात में अशांत क्षेत्र अधिनियम के दायरे में आने वाले इलाकों में संपत्ति की खरीद और निर्माण की अनुमति लेने के लिए कई मामलों में गड़बड़ी सामने आई है।

‘नागवार हुकूमत… मदीना को बना देगी आवारगी का अड्डा’: सऊदी अरब को ‘मदीना में सिनेमा’ पर भारत-पाक के मुस्लिम भेज रहे लानत

कुछ लोग सऊदी हुकूमत के इस फैसले में इजरायल को घुसा रहे हैं। उनका कहना है कि मदीना पूरे उम्माह का है न कि इजरायल के नौकरों को।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,920FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe