Friday, July 1, 2022
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता ने खुलकर की सावरकर की तारीफ, PM मोदी की प्रशंसा...

कॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता ने खुलकर की सावरकर की तारीफ, PM मोदी की प्रशंसा से भी नहीं चूके

"जहाँ हकदार हों, वहाँ प्रशंसा की जानी चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गाँधी जी के स्वच्छता के संदेशों को प्रसारित करने के लिए बॉलीवुड की मदद ली। इससे अधिकतर लोगों का ध्यान इस मुद्दे पर जाएगा।"

महाराष्ट्र चुनाव के मद्देनजर जब से भाजपा द्वारा अपने घोषणा पत्र में कहा गया है कि वे दोबारा सत्ता आने पर वीर सावरकर का नाम भारत रत्न के लिए भेजेंगे, तब से राजनैतिक गलियारों में उनपर बहस छिड़ गई है। विपक्ष तरह-तरह के तर्क पेश करके भाजपा के इस वादे को गैर जरूरी ठहराने की कोशिश कर रहा है। लेकिन इसी बीच कॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने वीर सावरकर की तारीफ कर दी है।

अभिषेक मनु सिंघवी ट्वीट कर स्वीकार किया कि सावरकर ने न केवल आजादी की लड़ाई में अहम भूमिका निभाई थी बल्कि वे देश के लिए जेल भी गए थे।

उन्होंने लिखा, “निजी तौर पर मैं सावरकर की विचारधारा से सहमत नहीं हूँ। लेकिन इस तथ्य को नकारा नहीं जा सकता कि वे एक काबिल व्यक्ति थे जिन्होंने आजादी की लड़ाई में महत्तवपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने दलितों के अधिकार की लड़ाई लड़ी और देश के लिए जेल गए।”

इसके बाद सिंघवी ने स्वच्छता अभियान के प्रसार के लिए प्रधानमंत्री मोदी द्वारा की गई कोशिशों की भी सराहना की। उन्होंने लिखा, “जहाँ हकदार हों, वहाँ प्रशंसा की जानी चाहिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गाँधी जी के स्वच्छता के संदेशों को प्रसारित करने के लिए बॉलीवुड की मदद ली। इससे अधिकतर लोगों का ध्यान इस मुद्दे पर जाएगा।”

वहीं, सावरकर के मुद्दे पर बता दें कि कुछ दिन पहले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी साफ बोल चुके हैं कि कॉन्ग्रेस ने इंदिरा गाँधी के प्रधानमंत्री रहते हुए सावरकर की याद में डाक टिकेट जारी की थी। इस दौरान उन्होंने साफ किया था कि वे सावरकर के ख़िलाफ़ नहीं हैं, लेकिन उनकी विचारधारा के ख़िलाफ़ हैं। इसके अलावा इस सियासी बहस में एक पत्र भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जिसमें खुद पूर्व पीएम इंदिरा गाँधी ने सावरकर की तारीफ की थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसी को ईद तक तो किसी को 17 जुलाई तक मारने की धमकी, पटाखों का जश्न तो कहीं सिर तन से जुदा के स्टेटस:...

राजस्थान के उदयपुर में कन्हैयालाल के कत्ल के बाद कहीं पर फोड़े गए पटाखे तो कहीं पर हिन्दू संगठन के कार्यकर्ता को मिली कत्ल की धमकी।

कन्हैया, उमेश, किशन… हत्या का एक जैसा पैटर्न, लिंक की पड़ताल कर रही NIA: रिपोर्ट में बताया- PFI कनेक्शन की भी हो रही जाँच

उदयपुर में कन्हैया लाल को काटा गया। अमरावती में उमेश कोल्हे तो अहमदाबाद में किशन भरवाड की हत्या की गई। बताया जा रहा है कि एनआईए इनके बीच लिंक की पड़ताल कर रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
201,558FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe