Wednesday, September 28, 2022
Homeराजनीतिसिद्धू की पत्नी का टिकट कटने पर अमरिंदर सिंह ने कहा ये सब बकवास...

सिद्धू की पत्नी का टिकट कटने पर अमरिंदर सिंह ने कहा ये सब बकवास है

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर निशाना साधते हुए नवजोत कौर ने कहा था कि कैप्टन अमरिंदर सिंह को लग रहा है कि वो 13 की 13 सीटें जीत रहे हैं और इसलिए पजाब में नवजोत सिंह की ज़रूरत नहीं है और इसीलिए उनके पति केवल उन्हीं जगहों पर प्रचार कर रहे हैं जहाँ उनकी ज़रूरत है।

भाजपा छोड़कर कॉन्ग्रेस में आए नवजोत सिंह सिद्धू के तल्ख़ तेवर तो जगज़ाहिर हैं, लेकिन सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर भी पिछले कुछ दिनों से सुर्ख़ियों में छाईं हुई हैं। हाल ही में उन्होंने अपने पति के पक्ष में उनके प्रचार को लेकर बड़ा बयान दिया था जिसकी मुख्य वजह उन्होंने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को बताया था। उन्होंने सीधे तौर पर कहा था कि उनके पति को प्रचार के लिए इसलिए अवसर नहीं दिया जा रहा है क्योंकि पंजाब के मुख्यमंत्री ख़ुद नहीं चाहते कि उनके पति (नवजोत सिंह सिद्धू) प्रचार करें। इसके अलावा सिद्धू की पत्नी ने ख़ुद टिकट न दिए जाने पर भी मुख्यमंत्री को ही दोषी ठहराते हुए कहा था कि उन्होंने जानबूझकर उन्हें टिकट नहीं दिया।

नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी द्वारा लगातार किए जा रहे हमलों पर पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने चुप्पी तोड़ते हुए नवजोत कौर के सभी आरोपों का खंडन किया और कहा, “कौर को दो जगह अमृतसर और भटिंडा से टिकट का ऑफ़र दिया गया था, लेकिन उन्होंने मना कर दिया। वो चंडीगढ़ से चुनाव लड़ना चाहती थीं, जबकि पार्टी ने फ़ैसला किया कि वो इस सीट के लिए फिट उम्मीदवार नहीं हैं।” आपको बता दें कि नवजोत कौर ने आरोप लगाया था कि आशा कुमारी की वजह से उन्हें टिकट नहीं दिया गया था। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पर निशाना साधते हुए नवजोत कौर ने कहा था कि कैप्टन अमरिंदर सिंह को लग रहा है कि वो 13 की 13 सीटें जीत रहे हैं और इसलिए पजाब में नवजोत सिंह की ज़रूरत नहीं है और इसीलिए उनके पति केवल उन्हीं जगहों पर प्रचार कर रहे हैं जहाँ उनकी ज़रूरत है।

इससे पहले भी कॉन्ग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू और मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच कई मुद्दों पर मतभेद की ख़बरें सामने आ चुकी हैं। आए दिन कॉन्ग्रेसी खेमे से उथल-पुथल की ख़बरें पार्टी में बढ़ते रोष की सच्ची तस्वीरों को बयाँ करती हैं। प्रतीत तो यही होता है कि नवजोत सिंंह सिद्धू के अट्टहास भरे अंदाज़ वाली टीका-टिप्पणियाँ भी कॉन्ग्रेस का मन नहीं बहला पा रही हैं। ख़ुद को टिकट न दिए जाने और पति के पक्ष में नवजोत कौर का यूँ खुलकर सामने आना इस बात का संकेत है कि कहीं न कहीं कॉन्ग्रेस पार्टी सदस्यों में बढ़ता असंतोष अपने पैर पसारता दिख रहा है जिसके नतीजे जल्द सामने होंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPA के समय ही IB ने किया था आगाह, फिर भी PFI को बढ़ने दिया गया’: पूर्व मेजर जनरल का बड़ा खुलासा, कहा –...

PFI पर बैन का स्वागत करते हुए मेजर जनरल SP सिन्हा (रिटायर्ड) ने ऑपइंडिया को बताया कि ये संगठन भारतीय सेना के समांतर अपनी फ़ौज खड़ी कर रहा था।

‘सारे मुस्लिम युवकों को जेल में डाल दिया जाएगा, UAPA है काला कानून’: PFI बैन पर भड़के ओवैसी, लालू यादव और कॉन्ग्रेस MP

असदुद्दीन ओवैसी के लिए UAPA 'काला कानून' है। लालू यादव ने RSS को 'PFI सभी बदतर' कह दिया। कॉन्ग्रेसी कोडिकुन्नील सुरेश ने RSS को बैन करने की माँग की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,793FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe