Monday, December 5, 2022
HomeराजनीतिAAP की जीत, विकास के एजेंडे की जीत होगी: कॉन्ग्रेस ने केजरीवाल की तारीफों...

AAP की जीत, विकास के एजेंडे की जीत होगी: कॉन्ग्रेस ने केजरीवाल की तारीफों के बाँधे पुल

अधिकतर एग्जिट पोल्स में आम आदमी पार्टी की बड़ी जीत की भविष्यवाणी की जा रही है। हालाँकि, भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर और मनोज तिवारी ने दावा किया है कि सभी एग्जिट पोल्स के आँकड़े इस बार फेल हो जाएँगे।

दिल्ली में विधानसभा चुनाव को लेकर कॉन्ग्रेस पहले ही हार मान गई है। कॉन्ग्रेस के बड़े नेता अब आम आदमी पार्टी के मुखिया अरविन्द केजरीवाल की तारीफों के पुल बाँधने लगे हैं। कॉन्ग्रेस दिल्ली में हुए चुनावी मुकाबले में कहीं भी नहीं दिख रही है, इसीलिए पार्टी ने अब भाजपा विरोध के नाम पर उसी AAP का समर्थन शुरू कर दिया है, जिसके ख़िलाफ़ उसने चुनाव लड़ा था। ऐसा बयान कोई और नहीं बल्कि लोकसभा में कॉन्ग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ही दे रहे हैं। अधीर रंजन के इस बयान से चर्चा शुरू हो गई है कि क्या जानबूझ कर कॉन्ग्रेस ने पूरी ताक़त लगा कर चुनाव नहीं लड़ा?

अधीर रंजन चौधरी ने कहा है कि इस चुनाव में जहाँ भाजपा ने सांप्रदायिक अजेंडे को आगे बढ़ाया, वहीं अरविन्द केजरीवाल विकास के मुद्दे को लेकर जनता के बीच गए। उन्होंने कहा कि अरविन्द केजरीवाल की जीत का अर्थ होगा विकास के मुद्दे की जीत होना। तो क्या कॉन्ग्रेस पार्टी ने मान लिया है कि दिल्ली में उसका अस्तित्व खत्म है और राहुल गाँधी व प्रियंका गाँधी भी पार्टी को बचाने में कामयाब नहीं हुए? जो पार्टी 2013 तक लगातार 15 वर्षों में सत्ता में रही थी, अब वो अस्तित्व बचाने के लिए भी जूझ रही है।

अधिकतर एग्जिट पोल्स में आम आदमी पार्टी की बड़ी जीत की भविष्यवाणी की जा रही है। हालाँकि, भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर और मनोज तिवारी ने दावा किया है कि सभी एग्जिट पोल्स के आँकड़े इस बार फेल हो जाएँगे। मुस्लिमों ने आम आदमी पार्टी को एकमुश्त वोट दिया है, ऐसा सामने आ रहा है। कॉन्ग्रेस के कई मुस्लिम वोटरों ने भी अब केजरीवाल की पार्टी का रुख कर लिया है क्योंकि भाजपा को हराने के लिए कई इमामों ने भी चुनावी प्रचार किया था।

मुस्लिम बाहुल्य या रिजर्व सीटों पर पड़े सबसे ज्यादा वोट, AAP के लिए हुई एकतरफ़ा वोटिंग!

32.25% वोटरों की राय को किया गया नज़र-अंदाज़: दिल्ली Exit Polls में बड़ी गड़बड़ी?

जब जश्न मनाने की AAP की तैयारियाँ धरी रह गई… इसलिए Exit Polls को झुठला सकती है BJP

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अमेरिका का पैसा और सिक्योरिटी, चीन का लैब… ऐसे लीक हुआ कोरोना वायरस: वुहान में काम कर चुके वैज्ञानिक की किताब में खुलासा –...

एंड्रयू हफ ने चीन में WIV में काम किया था। उनका दावा है कि कोविड-19 एक मानव निर्मित वायरस है, जो WIV से लीक हो गया था। किताब में खुलासा।

हवाई सफर हुआ आसान, अब करिए Digi Yatra: आपका चेहरा ही बोर्डिंग पास, जानिए FRT का कब-कहाँ-कैसे मिलेगा फायदा

डिजी यात्रा (Digi Yatra)। डिजी यात्रा सेंट्रल इकोसिस्टम (DYCE)। चेहरा पहचान प्रणाली (FRT)। यदि हवाई यात्रा करते हैं तो इन शब्दों से नाता जोड़ लीजिए, क्योंकि अब चेहरा ही आपका बोर्डिंग पास है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,909FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe