Saturday, January 28, 2023
Homeराजनीतिसैनिटरी पैड्स पर आदित्य ठाकरे की फोटो, कोरोना संकट में शिवसेना के प्रचार का...

सैनिटरी पैड्स पर आदित्य ठाकरे की फोटो, कोरोना संकट में शिवसेना के प्रचार का तरीका: MNS ने जताया विरोध

वरिष्ठ मनसे नेता संदीप देशपांडे ने कहा कि ओल्ड मुंबई के कोलाबा में शिवसेना कार्यकर्ताओं ने 500 सैनिटरी नैपकिन्स बाँटे। उन्होंने आरोप लगाया कि महिलाओं के बीच वितरित किए गए इन सभी सैनिटरी नैपकिन्स के पैकेट्स पर 'युवा सेना' के अध्यक्ष आदित्य ठाकरे की तस्वीर थी।

महाराष्ट्र में शिवसेना के कार्यकर्ताओं द्वारा आदित्य ठाकरे की तस्वीर वाली सैनिटरी पैड्स वितरित किए जाने पर विवाद खड़ा हो गया है। सैनिटरी पैड्स के पैकेट्स पर राज्य के पर्यावरण एवं पर्यटन मंत्री उद्धव ठाकरे की तस्वीर होने के कारण मनसे ने शिवसेना पर जम कर निशाना साधा। आदित्य, उद्धव ठाकरे के बेटे हैं और महाराष्ट्र सरकार में ख़ासी दखल रखते हैं। वो पहले भी विपक्ष के निशाने पर रहे हैं।

गुरुवार (मई 21, 2020) को वरिष्ठ मनसे नेता संदीप देशपांडे ने कहा कि ओल्ड मुंबई के कोलाबा में शिवसेना कार्यकर्ताओं ने 500 सैनिटरी नैपकिन्स बाँटे। उन्होंने आरोप लगाया कि महिलाओं के बीच वितरित किए गए इन सभी सैनिटरी नैपकिन्स के पैकेट्स पर ‘युवा सेना’ के अध्यक्ष आदित्य ठाकरे की तस्वीर थी। मुंबई में कोरोना वायरस लॉकडाउन के बीच किए जा रहे राहत-कार्य के दौरान ऐसा किया गया

बता दें कि महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के अब तक 47,190 मामले सामने आ चुके हैं, जिनमें से 32,209 मामले अभी भी सक्रिय हैं। कुल 13,404 लोग ठीक हो चुके हैं, वहीं 1577 ने इस ख़तरनाक संक्रमण के कारण अपनी जान गँवाई है। महाराष्ट्र में कुल कोरोना केसेज में से 61% अकेले मुंबई से आए हैं। महानगर में कोरोना मरीजों की संख्या 29,000 के पार हो गई है। मरने वालों में भी 60% राजधानी से ही हैं।

उधर आदित्य ठाकरे ने कहा है कि टूरिज्म के मामले में उनकी सरकार महाराष्ट्र को ग्लोबल स्टेज पर ले जाने के लिए काम कर रही है। उन्होंने दावा किया कि होटल इंडस्ट्री के लिए फ़ैसले लेने वाला महाराष्ट्र पहला राज्य होगा। इसके लिए एक टास्क फोर्स का गठन किया गया है। उन्होंने दावा किया कि सरकार विभिन्न प्रयास कर के ये सुनिश्चित करना चाहती है कि प्रत्येक पर्यटक राज्य के किसी भी शहर में कम से कम 36 घंटे रुकें।

वहीं सैनिटरी नैपकिन्स पर आदित्य के फोटो को लेकर शिवसेना की तरफ से कोई स्पष्टीकरण नहीं आया है। आदित्य ठाकरे पर  CAA, NRC विरोधी छात्र परिषद लिखा हुआ है। और नीचे पोस्टर में उमर खालिद, ऋचा सिंह, AMUSU अध्यक्ष सलमान इम्तियाज, जावेद अख्तर, जामिया छात्र नेता हम्मादुररहमान, सादिया शेख जैसे लोगों के साथ मंच साझा करने का आरोप भी लग चुका है। पत्रकार अंजना ओम कश्यप ने उन्हें ‘पप्पू’ कहा था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हमारा सनातन धर्म भारत का राष्ट्रीय धर्म: बोले CM योगी, ऐतिहासिक नीलकंठ महादेव मंदिर में की पूजा

सीएम योगी ने देश की सुरक्षा और विरासत की रक्षा के लिए लोगों से व्यक्तिगत स्वार्थ से ऊपर उठकर राष्ट्रीय धर्म के साथ जुड़ने का आह्वान किया।

शेयर गिराओ, उससे अरबों कमाओ: अडानी पर आरोप लगाने वाला Hindenburg रिसर्च का काला चिट्ठा, अमेरिका में चल रही जाँच

Hindenburg रिसर्च: संस्थापक रह चुका है ड्राइवर। जानिए उस कंपनी के बारे में जिसने अडानी समूह के 2 लाख करोड़ रुपए डूबा दिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
242,733FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe