Thursday, July 18, 2024
HomeराजनीतिArticle 370: चिदंबरम की शह पर आईएएस से नेता बने शाह फैसल ने दी...

Article 370: चिदंबरम की शह पर आईएएस से नेता बने शाह फैसल ने दी ‘बदला’ लेने की धमकी

फैसल ने भारतीयों को चेताते हुए कहा है कि वे तब तक ईद नहीं मनाएँगे जब तक आर्टिकल 370 के प्रावधानों को निरस्त करने और जम्मू-कश्मीर को दो केन्द्रशासित प्रदेशों में बॉंटने के फैसले से हुई 'पीड़ा' का बदला नहीं ले लेते।

कॉन्ग्रेस नेताओं के बाद अब आईएएस की नौकरी छोड़ राजनीति में आए शाह फैसल ने आर्टिकल 370 को लेकर विवादित बयान दिया है। फैसल ने जम्मू-कश्मीर के लोगों को भड़काने का प्रयास करते हुए कहा है कि वे तब तक ईद नहीं मनाएँगे जब तक बेइज्जती का बदला नहीं ले लेते।

बौखलाए फैसल ने भारतीयों को चेताते हुए कहा है कि वे तब तक ईद नहीं मनाएँगे जब तक आर्टिकल 370 के प्रावधानों को निरस्त करने और जम्मू-कश्मीर को दो केन्द्रशासित प्रदेशों में बॉंटने के फैसले से हुई ‘पीड़ा’ का बदला नहीं ले लेते।

उन्होंने ट्ववीट कर कहा है, “कैसी ईद। दुनिया भर के कश्मीरी अपनी जमीन पर अवैध कब्जे का शोक मना रहे हैं। तब तक कोई ईद नहीं मनेगी जब तक 1947 से हमसे छीनी गई हर चीज वापस नहीं ले ली जाती। जब तक हर अपमान का बदला पूरा नहीं होता ईद नहीं मनेगी।”

फैसल का यह ट्वीट कॉन्ग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की सराहना मिलने के बाद सामने आया है। चिदंबरम ने अनुच्छेद 370 पर सरकार के फैसले की आलोचना करते हुए फैसल के उस बयान का हवाला दिया था जिसमें उन्होंने इसे भारत सरकार द्वारा कश्मीरियों के साथ किया गया “सबसे बड़ा विश्वासघात” बताया था।

गौरतलब है सिर्फ़ शाह फैसल या घाटी में मौजूद अलगाववादी नेता ही नहीं, बल्कि आर्टिकल 370 का पॉवर खत्म होने पर देश की सबसे पुरानी राजनैतिक पार्टी कॉन्ग्रेस के चिदंबरम जैसे दिग्गज नेता भी लगातार भारत सरकार के फैसले पर सवाल उठा रहे हैं। जिस कारण शाह फैसल जैसे लोगों नफरत, डर और नकारात्मकता फैलाने के लिए एक नया अवसर मिल गया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भ#$गी हो, भ$गी बन के रहो’: जामिया के 3 प्रोफेसर पर FIR, दलित कर्मचारी पर धर्म परिवर्तन का डाल रहे थे दबाव; कहा- ईमान...

एफआईआर में आरोपित नाज़िम हुसैन अल-जाफ़री जामिया मिल्लिया इस्लामिया के रजिस्ट्रार हैं तो नसीम हैदर डिप्टी रजिस्ट्रार। इनके साथ ही आरोपित शाहिद तसलीम यूनिवर्सिटी में प्रोफ़ेसर हैं।

पूजा खेडकर की माँ होटल से हुई गिरफ्तार, नाम बदलकर लिया था कमरा: महिला IAS के पिता नौकरी में रहते 2 बार हुए थे...

पूजा खेडकर का चिट्ठा खुलने के बाद उनके माता-पिता के खिलाफ भी जाँच जारी है। माँ को महाड के होटल से हिरासत में लिया गया है और पिता फरार हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -