Sunday, October 17, 2021
Homeराजनीतिअब लव के नाम पर नहीं होगा जिहाद: CM शिवराज ने भी किया कड़े...

अब लव के नाम पर नहीं होगा जिहाद: CM शिवराज ने भी किया कड़े कानून बनाने का ऐलान

"अब लव के नाम पर कोई जिहाद नहीं होगा। यदि कोई ऐसा करेगा तो ठीक कर दिया जाएगा और उसके लिए कानूनी व्यवस्थाएँ निर्मित होंगी।"

उत्तर प्रदेश और हरियाणा के बाद मध्य प्रदेश ने भी अब लव जिहाद से निपटने के लिए कड़ा कानून बनाने का निर्णय लिया है। इस बात की घोषणा स्वयं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की है।

उन्होंने सोमवार (नवंबर 2, 2020) को समाचार एजेंसी से बातचीत में स्पष्ट कहा कि अब लव के नाम पर कोई जिहाद नहीं होगा। यदि कोई ऐसा करेगा तो ठीक कर दिया जाएगा और उसके लिए कानूनी व्यवस्थाएँ निर्मित होंगी।

याद दिला दें, इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और हरियाणा के मुख्यमंत्री ऐसे ऐलान कर चुके हैं। अब मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने भी इसका ऐलान करके लोगों को आश्वस्त किया है। उन्होंने लव जिहाद के अलावा किसानों से संबंधित मुद्दों पर भी बात की।

क्या कहा था सीएम योगी आदित्यनाथ ने

जौनपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश का उल्लेख करते हुए कहा था, “हमने जो कहा था, वह करके दिखाया है। साथ ही यह भी कहने के लिए आए हैं कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक आदेश दिया है कि शादी-ब्याह के लिए धर्म परिवर्तन आवश्यक नहीं है। ऐसा नहीं किया जाना चाहिए और न ही इसे मान्यता मिलनी चाहिए। इस बात को ध्यान में रखते हुए सरकार भी निर्णय ले रही है कि हम लव जिहाद को सख्ती से रोकने का प्रयास करेंगे।”

इस मुद्दे पर आगे बोलते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था:

“हम लव जिहाद के मामलों को रोकने के लिए एक प्रभावशाली क़ानून बनाएँगे। छद्म वेश में, चोरी-छिपे नाम बदल कर जो लोग बहन-बेटियों की इज्जत के साथ खिलवाड़ करते हैं, उनके लिए पहले से मेरी चेतावनी है। अगर वह सुधरे नहीं तो राम नाम सत्य है की यात्रा अब निकलने वाली है। हम लोग मिशन शक्ति के कार्यक्रम को इसलिए आगे बढ़ा रहे हैं। मिशन शक्ति के कार्यक्रम का मतलब है कि हम हर बेटी को, हर बहन को सुरक्षा की गारंटी देंगे। इन सारी बातों के बावजूद अगर किसी ने दुस्साहस किया तो उनके लिए ऑपरेशन शक्ति अब तैयार है। इसका उद्देश्य यही है कि हम हर हाल में लड़कियों की सुरक्षा करेंगे और उनके सम्मान की सुरक्षा करेंगे। इसके अलावा न्यायालय के आदेश का भी पालन होगा और बहन-बेटियों का सम्मान सुनिश्चित होगा।”

लव जिहाद पर हरियाणा का फैसला

योगी आदित्यनाथ द्वारा भरी रैली में लव जिहाद से संबंधित कानून बनाए जाने का ऐलान करने के बाद हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने भी इस बात की जानकारी दी थी कि उनके राज्य में भी लव जिहाद के खिलाफ़ कानून बनाने पर विचार चल रहा है।

विज ने एक टीवी चैनल से भी कहा, “योगी आदित्यनाथ जी जो कहते हैं, जब कहते हैं, सत्य कहते हैं। ये लव जिहाद का इलाज करना जरूरी है बच्चियों को बचाने के लिए। अगर इसके लिए कानून बनाना पड़े, कुछ और करना पड़े तो, किया जाना आवश्यक है। हम इस पर विचार कर रहे हैं।”

यहाँ बता दें कि इससे पहले हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर भी मेवात में लगातार आ रही कई धर्मांतरण की खबरों के बाद यह ऐलान कर चुके थे कि वह धर्म स्वतंत्र विधेयक नियम लेकर आएँगे ताकि धर्म परिवर्तन के मामले में मजबूती व सख्ती से कार्य हो सके।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe