Thursday, July 18, 2024
Homeराजनीति'सिखों के लिए ऐतिहासिक पल, वाहेगुरु ने सुन ली अरदास': हेमकुंट साहिब रोपवे के...

‘सिखों के लिए ऐतिहासिक पल, वाहेगुरु ने सुन ली अरदास’: हेमकुंट साहिब रोपवे के शिलान्यास पर सिख संस्थाओं ने PM मोदी को कहा धन्यवाद, ‘अकाल तख़्त’ ने दी बधाई

सिख संगत ने 12.4 किलोमीटर के रोपवे को लेकर मोदी सरकार को धन्यवाद दिया। संस्था ने कहा कि बुजुर्ग सिख भी गुरु साहिब का दर्शन के पाएँगे और यात्रा का समय भी घट जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड के चमोली में स्थित हेमकुंट साहिब का दर्शन सुगम बनाने के लिए रोपवे की सौगात दी है, जिसके बाद सिख समाज ने उन्हें धन्यवाद दिया है। ‘श्री अकाल तख़्त साहिब’ के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने गोविंदघाट और हेमकुंट साहिब को जोड़ने वाले इस रोपवे के शिलान्यास के लिए पीएम मोदी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि सिखों के लिए ये एक ऐतिहासिक पल है और इससे श्रद्धालु अधिक से अधिक संख्या में तीर्थस्थल पहुँच पाएँगे।

उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिख परंपराओं और गुरु ग्रन्थ साहिब की शिक्षाओं के प्रति गहरी संवेदना और सम्मान का प्रदर्शन किया है। इस क्रम में आपने कई कदम उठाए हैं, जिनमें गुरु तेग बहादुर जी का गुरु परब लाल किले पर मनाना भी शामिल है। जब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह अकाल तख़्त आए थे, जब सिखों से जुड़े कई ज्वलंत मुद्दों पर गहन चर्चा हुई थी। उन्होंने आश्वस्त किया था कि वो व्यक्तिगत रूप से आपसे इन मुद्दों पर चर्चा करेंगे और हम सब मिल कर इससे उबरेंगे।”

ज्ञानी हरप्रीत सिंह ने कहा कि वो अब इसके सकारात्मक परिणति की तरफ देख रहे हैं, जिससे सिख समाज का भविष्य चमकदार होगा। इसके अलावा ‘दिल्ली सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमिटी (DSGMC)’ ने भी कहा है कि सिख संगत केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय द्वारा बनवाए जा रहे इस 12.4 किलोमीटर के रोपवे को लेकर मोदी सरकार को धन्यवाद देता है। संस्था ने कहा कि बुजुर्ग सिख भी गुरु साहिब का दर्शन के पाएँगे और यात्रा का समय भी घट जाएगा।

महाराष्ट्र के नांदेड़ स्थित तख़्त सचखंड श्री हुजूर साहिब के प्रशासक ने भी पत्र लिख कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया है। संस्था ने कहा कि हेमकुंट साहिब एक स्वर्ग जैसा स्थान है, जहाँ गुरु गोविंद सिंह ने अपने पिछले जन्म में तपस्या की थी, लेकिन 19 किलोमीटर के पहाड़ी ट्रेक के कारण कई श्रद्धालु यहाँ नहीं जा पाते थे। संस्था ने कहा कि वाहेगुरु ने अब हमारी अरदास सुन ली है। ‘द सिख फोरम’, हरियाणा की गुरुद्वारा कमिटी और ‘वाहेगुरु कमिटी’ सहित कई सिख संस्थाओं और संगठनों ने इस निर्णय पर ख़ुशी जताई है।

बता दें कि शुक्रवार (21 अक्टूबर, 2022) को पीएम नरेन्द्र मोदी ने उत्तराखंड के माणा में 3400 करोड़ रुपये से अधिक की सड़क और रोपवे परियोजनाओं की आधारशिला रखी। 2 रोपवे – केदारनाथ से गौरीकुंड और हेमकुंड रोपवे के बारे में चर्चा करते हुए, प्रधानमंत्री ने बाबा केदारनाथ, बद्री विशाल और सिख गुरुओं के आशीर्वाद को इसकी प्रेरणा एवं प्रगति का श्रेय दिया। उन्होंने कामगारों और इंजीनियरों से भी बात की और लोगों से उनका ख्याल रखने की सलाह देते हुए कहा कि वो भगवान का कार्य कर रहे हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भ#$गी हो, भ$गी बन के रहो’: जामिया के 3 प्रोफेसर पर FIR, दलित कर्मचारी पर धर्म परिवर्तन का डाल रहे थे दबाव; कहा- ईमान...

एफआईआर में आरोपित नाज़िम हुसैन अल-जाफ़री जामिया मिल्लिया इस्लामिया के रजिस्ट्रार हैं तो नसीम हैदर डिप्टी रजिस्ट्रार। इनके साथ ही आरोपित शाहिद तसलीम यूनिवर्सिटी में प्रोफ़ेसर हैं।

पूजा खेडकर की माँ होटल से हुई गिरफ्तार, नाम बदलकर लिया था कमरा: महिला IAS के पिता नौकरी में रहते 2 बार हुए थे...

पूजा खेडकर का चिट्ठा खुलने के बाद उनके माता-पिता के खिलाफ भी जाँच जारी है। माँ को महाड के होटल से हिरासत में लिया गया है और पिता फरार हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -