Monday, June 17, 2024
Homeराजनीतिमहाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक का नया दावा- BJP के कहने पर NCB ने...

महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक का नया दावा- BJP के कहने पर NCB ने 3 को छोड़ा, पहले कहा था- आर्यन खान को भाजपा वालों ने पकड़ा

मलिक का आरोप है कि एनसीबी ने ऋषभ सचदेवा, प्रदीप गाबा और आमिर फर्नीचरवाला को इसलिए छोड़ दिया, क्योंकि उनके लिए स्थानीय और दिल्ली के बीजेपी नेताओं ने एजेंसी को कॉल किया था।

ड्रग्स केस में फिल्म अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन की गिरफ्तारी के बाद जारी सियासत थमती नहीं दिख रही है। महाराष्ट्र सरकार के मंत्री और एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने एक बार फिर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) पर आरोप लगाए हैं। मलिक ने क्रूज पर छापेमारी को फर्जी करार देते हुए कहा है कि एनसीबी के अधिकारी समीर वानखेड़े और बीजेपी के बीच कुछ डील हुई है। उन्होंने वानखेड़े की कॉल डिटेल्स की जाँच की माँग की है।

मलिक ने दावा किया क्रूज पर रेड के दौरान एनसीबी को आर्यन खान के पास से कुछ भी नहीं मिला था। एनसीपी नेता ने आरोप लगाया है कि आर्यन खान को फँसाने के लिए प्रदीप गाबा और आमिर फर्नीचरवाला उसे वहाँ लेकर गए थे। मलिक का आरोप है कि एनसीबी ने ऋषभ सचदेवा, प्रदीप गाबा और आमिर फर्नीचरवाला को इसलिए छोड़ दिया, क्योंकि उनके लिए स्थानीय और दिल्ली के बीजेपी नेताओं ने एजेंसी को कॉल किया था।

एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, मलिक ने कहा कि मुंबई तट पर एक क्रूज पर छापेमारी के बाद एनसीबी के समीर वानखेड़े ने कहा था कि 8-10 लोगों को हिरासत में लिया गया है। लेकिन सच्चाई यह है कि 11 लोगों को हिरासत में लिया गया था। बाद में 3 लोगों को रिहा कर दिया। हम एनसीबी से पूछना चाहते हैं कि जब उन्होंने छापे के बाद 11 लोगों को हिरासत में लिया था, तो उन्होंने किसके निर्देश पर 3 लोगों को रिहा किया। हम एनसीबी से सबूतों को सामने रखने की माँग करते हैं। हमें लगता है कि समीर वानखेड़े और बीजेपी के बीच जरूर कुछ डील हुई होगी।

महाराष्ट्र सरकार के मंत्री मलिक ने इस केस की जाँच मुंबई पुलिस एंटी नारकोटिक्स सेल से करवाने की माँग की। उन्होंने कहा, “मैं सीएम को लिखूँगा। यदि आवश्यक हो तो छापे की जाँच के लिए एक जाँच आयोग का गठन किया जाना चाहिए।”

गौरतलब है कि इससे पहले भी मलिक ने इस मामले में एनसीबी पर कीचड़ उछाला था। उन्होंने कहा था कि आखिर कैसे आर्यन खान और अरबाज मर्चेंट जैसे हाईप्रोफाइल लोगों को NCB दफ्तर ले जा सकती है। एनसीपी प्रवक्ता ने दावा किया कि जिन दो लोगों ने आर्यन खान और अरबाज मर्चेंट को पकड़ कर NCB के ऑफिस पहुँचाया, उनमें से एक भाजपा कार्यकर्ता है। जबकि दूसरा एक फ्रॉड है और खुद को प्राइवेट डिटेक्टिव बताता है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Kuldeep Singh
Kuldeep Singh
हिन्दी पत्रकारिता के क्षेत्र में करीब आधे दशक से सक्रिय हूँ। नवभारत, लोकमत और ग्रामसभा मेल जैसे समाचार पत्रों में काम करने के अनुभव के साथ ही न्यूज मोबाइल ऐप वे2न्यूज व मोबाइल न्यूज 24 और अब ऑपइंडिया नया ठिकाना है।

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बकरों के कटने से दिक्कत नहीं, दिवाली पर ‘राम-सीता बचाने नहीं आएँगे’ कह रही थी पत्रकार तनुश्री पांडे: वायर-प्रिंट में कर चुकी हैं काम,...

तनुश्री पांडे ने लिखा था, "राम-सीता तुम्हें प्रदूषण से बचाने के लिए नहीं आएँगे। अगली बार साफ़-स्वच्छ दिवाली मनाइए।" बकरीद पर बदल गए सुर।

पावागढ़ की पहाड़ी पर ध्वस्त हुईं तीर्थंकरों की जो प्रतिमाएँ, उन्हें फिर से करेंगे स्थापित: गुजरात के गृह मंत्री का आश्वासन, महाकाली मंदिर ने...

गुजरात के गृह मंत्री हर्ष संघवी ने कहा कि किसी भी ट्रस्ट, संस्था या व्यक्ति को अधिकार नहीं है कि इस पवित्र स्थल पर जैन तीर्थंकरों की ऐतिहासिक प्रतिमाओं को ध्वस्त करे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -