Wednesday, July 28, 2021
Homeराजनीतिहैदराबाद चुनावों से पहले ओवैसी ने खुद को बताया 'लैला', बिहार चुनावों के बाद...

हैदराबाद चुनावों से पहले ओवैसी ने खुद को बताया ‘लैला’, बिहार चुनावों के बाद कहा था- फँस गई रजिया गुंडो में

"बिहार में कॉन्ग्रेस ने कह दिया कि मैं बीजेपी की बी टीम हूँ। अब यहाँ कॉन्ग्रेस कह रही है ओवैसी नहीं है तो हमको वोट दे दो। बीजेपी कुछ और कह रही है। मुझे कोई फिक्र नहीं है। मैं एक लैला हूँ और मेरे चाहने वाले इतने हैं कि हर कोई चाहता है मुझे मुद्दा बना कर वोट हासिल किया जाए।”

हैदराबाद निकाय चुनावों से पहले ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने अजीबोगरीब बयान दिया है। ओवैसी ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए एबीपी न्यूज को दिए साक्षात्कार में कहा कि उन्हें ऐसा लगता है जैसे वे कई मजनू से घिरी एक लैला हों

ओवैसी ने कहा,

“देखिए मेरा हाल ऐसा है न, कि मैं लैला हूँ और मेरे हजारों मजनू हैं। बिहार में कॉन्ग्रेस ने कह दिया कि मैं बीजेपी की बी टीम हूँ। अब यहाँ कॉन्ग्रेस कह रही है ओवैसी नहीं है तो हमको वोट दे दो। अब बीजेपी कुछ और कह रही है। मुझे कोई फिक्र नहीं है। मैं एक लैला हूँ और मेरे चाहने वाले इतने हैं कि हर कोई चाहता है मुझे मुद्दा बना कर वोट हासिल किया जाए।”

ओवैसी का कहना कि कॉन्ग्रेस और भाजपा उन्हें निशाना बनाकर वोट माँग रही हैं। वहीं उनकी पार्टी हैदराबाद की परेशानियों- जैसे वाटर सप्लाई, जल निकास समस्या व आदि नागरिक मुद्दों पर जनता से वोट माँग रही है। उनका कहना है कि अन्य पार्टियाँ उनके नाम का इस्तेमाल करके विवाद खड़ा करना चाहती हैं।

इससे पहले भी ओवैसी ने बिहार चुनावों के नतीजे देखकर अपनी पार्टी की तुलना एक महिला से की थी। उन्होंने कहा था कि उनकी स्थिति, ‘फँस गई रजिया गुंडो में’ जैसी हो गई है। ओवैसी की पार्टी ने 5 सीट पर जीत दर्ज कराने के बाद ये टिप्पणी इसलिए की थी, क्योंकि भाजपा उन्हें एंटी नेशनल कहती है और महागठबंधन उन्हें वोट-कटुआ।

गौरतलब है कि ओवैसी ने ‘लैला-मजनू’ वाली टिप्पणी करने से पहले भाजपा को बीफ खिलाने की बात कही थी। इसे सुन भाजपा विधायक राजा सिंह ने उन्हें पोर्क बिरयानी का निमंत्रण भेजा था। राजा सिंह ने कहा था,

“मैं आपको आज बिरयानी का निमंत्रण दे रहा हूँ। मेरे इलाके में कई वाल्मिकी समुदाय के लोग हैं, जो पोर्क के साथ बिरयानी अच्छी बनाते हैं। अगर आपको बिरयानी इतनी पसंद है तो आइए हम आपको स्वादिष्ट बिरयानी ऑफर करते हैं।”

बता दें कि हैदराबाद में निगम चुनाव कल यानी 1 दिसंबर को होने हैं। रिजल्ट 4 दिसंबर को घोषित होगा।। इन चुनावों में बैलेट पेपर का इस्तेमाल किया जाएगा। बीजेपी ने इन चुनावों में पूरी ताकत झोंक रखी है। अमित शाह, तेजस्वी सूर्या और अरविंद धर्मपुरी व जी कृष्ण रेड्डी वहाँ प्रचार कर चुके हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

एक शक्तिपीठ जहाँ गर्भगृह में नहीं है प्रतिमा, जहाँ हुआ श्रीकृष्ण का मुंडन संस्कार: गुजरात का अंबाजी मंदिर

गुजरात के बनासकांठा जिले में राजस्थान की सीमा पर अरासुर पर्वत पर स्थित है शक्तिपीठों में से एक श्री अरासुरी अंबाजी मंदिर।

5 या अधिक हुए बच्चे तो हर महीने पैसा, शिक्षा-इलाज फ्री: जनसंख्या बढ़ाने के लिए केरल के चर्च का फैसला

केरल के चर्च के फैसले के अनुसार, 2000 के बाद शादी करने वाले जिन भी जोड़ों के 5 या उससे अधिक बच्चे हैं, उन्हें प्रत्येक माह 1500 रुपए की मदद दी जाएगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,580FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe