Monday, June 24, 2024
Homeराजनीतिललन सिंह के JDU अध्यक्ष पद छोड़ने के चर्चे, क्या बदलने वाली है बिहार...

ललन सिंह के JDU अध्यक्ष पद छोड़ने के चर्चे, क्या बदलने वाली है बिहार की सियासी हवा: 29 दिसंबर को पर्दा उठा सकते हैं नीतीश कुमार

पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। यह सब ऐसे समय में हुआ है, जब पार्टी की राष्ट्रीय बैठक 29 दिसंबर 2023 को दिल्ली में होनी थी। इसके पीछे क्या तर्क दिया गया है, इसका अभी खुलासा नहीं हुआ है।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (JDU) से एक बड़ी खबर सामने आई है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। यह सब ऐसे समय में हुआ है, जब पार्टी की राष्ट्रीय बैठक 29 दिसंबर 2023 को दिल्ली में होनी थी। इसके पीछे क्या तर्क दिया गया है, इसका अभी खुलासा नहीं हुआ है।

सूत्रों के हवाले से मीडिया में कहा जा रहा है कि ललन सिंह ने अपना इस्तीफा नीतीश कुमार को सौंपते हुए पद से मुक्त करने का आग्रह किया है। हालाँकि, आधिकारिक तौर पर इसकी पुष्टि नहीं हुई है। माना जा रहा है कि नीतीश कुमार खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष बनेंगे। यह भी कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार किसी दूसरे नजदीकी को पार्टी अध्यक्ष बनाएँगे और ललन सिंह लोकसभा चुनावों की तैयारी करेंगे।

राजनीतिक गलियारे में यह भी चर्चा चल रही है कि ललन सिंह कुछ वजहों से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से नाराज चल रहे हैं। इसलिए वो पद छोड़ने की लगातार पेशकश कर रहे थे। यह भी कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार उन्हें मनाने में जुटे थे। रिपोर्ट्स में यह भी कहा जा रहा है कि नीतीश कुमार ने ललन सिंह को लोकसभा चुनावों तक कार्यवाहक अध्यक्ष बने रहने का आग्रह किया है।

बता दें कि नीतीश कुमार 23 दिसंबर की शाम की अचानक ललन सिंह के पटना स्थित आवास पर मिलने के लिए पहुँचे थे। इस दौरान ही अटकलें लगने लगी थीं कि जदयू में नेतृत्व परिवर्तन को लेकर चर्चा की गई है। इससे पहले सीएम आवास पर नीतीश कुमार, ललन सिंह और विजय चौधरी की मुलाकात हुई थी।

इस बैठक के बाद नीतीश कुमार ललन सिंह को उनके घर छोड़ने के लिए गए थे। हालाँकि, दोनों के बीच किसी तरह खटास नहीं बताई जा रही है। उधर भाजपा नेता सुशील मोदी ने दावा किया था कि ललन सिंह की लालू यादव के साथ नजदीकी बढ़ी। इससे नीतीश कुमार ललन सिंह से नाराज हैं और उन्हें पद से हटाने वाले हैं।

जानकारों का कहना है कि जब-जब JDU की राष्ट्रीय कार्यकारिणी और राष्ट्रीय परिषद की बैठक साथ हुई है, तब-तब उसके राष्ट्रीय अध्यक्ष बदले गए हैं। जब सुशील मोदी ने ललन सिंह को हटाने जाने की अटकलें लगाई थीं तो सीएम नीतीश कुमार ने इस बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि जिसको जो मन में आता है, वही बोल देता है।

इसको लेकर 25 दिसंबर के दिए गए बयान में सीएम नीतीश ने कहा था, “कौन क्या बोलता है, इसको हम ध्यान नहीं दे रहे हैं। आजकल कुछ लोगों को जो मन में आता है, वो बोलते रहते हैं, ताकि उनको फायदा मिले। हालाँकि, इससे किसी को कोई लाभ नहीं मिलने वाला है। हमारी पार्टी में कोई इधर-उधर नहीं है, सब एकजुट हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 साल की लड़की से 9 घुसपैठियों ने रेप किया, लेकिन सजा 20 साल की उस लड़की को मिली जिसने बलात्कारियों को ‘सुअर’ बताया:...

जर्मनी में 14 साल की लड़की का रेप करने वाले बलात्कारी सजा से बच गए जबकि उनकी आलोचना करने वाले एक लड़की को जेल भेज दिया गया।

‘बोलो मियाँ साहेब ज़िंदाबाद, अल्लाह-हू-अकबर’… बिहार में किशोर को पैर पर थूक कर चाटने को मजबूर किया, छड़ी और थप्पड़ से ताबड़तोड़ पिटाई का...

वीडियो में आरोपित कह रहा है कि 'अल्लाह-हू-अकबर' का नारा लगाने पर ही वो पीड़ित को जाने देगा। बंधक बना कर छड़ी और थप्पड़ से कई बार पीटा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -