Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाज'केजरीवाल मसाज सेंटर' के बाद हिटलर के साथ दिल्ली CM का पोस्टर: भाजपा नेता...

‘केजरीवाल मसाज सेंटर’ के बाद हिटलर के साथ दिल्ली CM का पोस्टर: भाजपा नेता बग्गा बोले- ये दूसरे ऐसे तानाशाह जिसने अपने शहर को ‘गैस चैंबर’ बना दिया

प्रदूषण के हालात को देखते हुए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और दिल्ली के मुख्य सचिवों को चर्चा के लिए 10 नवंबर को बुलाया है। मानवाधिकार आयोग का कहना है कि वायु प्रदूषण की स्थिति से निपटने के लिए अब तक उठाए गए कदमों से वह संतुष्ट नहीं है।

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण (Delhi Pollution) को लेकर भाजपा नेता तजिंदरपाल सिंह बग्गा (Tajinderpal Singh Bagga) ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने केजरीवाल की तुलना जर्मनी के तानाशाह एडोल्फ हिटलर (Adolf Hitler) से की है।

बग्गा ने दिल्ली के कई इलाकों में सीएम केजरीवाल के साथ हिटलर की तस्वीर वाला पोस्टर लगाया है। इस पोस्टर में लिखा है ‘केजरीवाल ऐसे दूसरे शासक हैं, जिन्होंने अपने शहर को गैस चैंबर में बदल दिया। ऐसा करने वाले पहले हिटलर थे।’

पोस्टर को लेकर बग्गा का कहना है, “ये मेरा नहीं सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का टिप्पणी है कि दिल्ली के मालिक ने दिल्ली को गैस चेंबर (Gas Chamber) में तब्दील कर दिया है। मुझे लगता है कि यह दुनिया में दूसरा उदाहरण होगा कि एक शासक ने अपने राज्य में रहने वाले लोगों को गैस चैंबर में मारने का प्रयास किया है। इससे पहले हिटलर ने ऐसा किया था।”

इसके पहले बग्गा ने तिहाड़ जेल में बंद दिल्ली सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन को दिए जा रहे वीआईपी ट्रीटमेंट को लेकर ‘केजरीवाल मसाज सेंटर’ का पोस्टर लगाया था। सत्येंद्र जैन पर ईडी ने आरोप लगाया था कि सत्येंद्र जैन जेल के अंदर आराम से हेड, फुट मसाज कराते हैं। उनकी पत्नी लगभग रोज उनसे मिलने जेल आती है और उन्हें घर का खाना दिया जाता है।

बता दें कि दिल्ली-एनसीआर प्रदूषण के खतरनाक स्तर को झेल रहा है। इसके कई इलाकों में AQI 500 को पार कर चुका है। यदि AQI 400 से अधिक हो तो उसे ‘गंभीर’ श्रेणी में माना जाता है। लोगों की सेहत पर इसका बेहद खतरनाक प्रभाव है। वहीं, पहले से बीमार व्यक्तियों की स्थिति को यह और भी गंभीर बना देता है।

प्रदूषण के हालात को देखते हुए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) ने पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और दिल्ली के मुख्य सचिवों को चर्चा के लिए 10 नवंबर को बुलाया है। मानवाधिकार आयोग का कहना है कि वायु प्रदूषण की स्थिति से निपटने के लिए अब तक उठाए गए कदमों से वह संतुष्ट नहीं है।

वहीं, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने शुक्रवार (4 अक्टूबर 2022) को कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल गुजरात और हिमाचल प्रदेश के चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि उनकी व्यस्था को देखथे हुए दिल्लीवासी खुद को प्रदूषण से बचाने के लिए मास्क पहनें।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आजादी के वक्त थे 3 मुस्लिम बहुल जिले, अब 9 हैं: बंगाल BJP प्रमुख ने कहा- असम और बंगाल में डेमोग्राफी बदलाव सोची-समझी रणनीति,...

बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने असम के सीएम हिमंता के उस बयान का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने डोमोग्राफी बदलाव की बात कही थी।

शुक्र है मीलॉर्ड ने भी माना कि वो इंसान हैं! चाइल्ड पोर्नोग्राफी देखने को मद्रास हाई कोर्ट ने नहीं माना था अपराध, अब बदला...

चाइल्ड पोर्नोग्राफी को अपराध नहीं बताने वाले फैसले को मद्रास हाई कोर्ट के जज एम. नागप्रसन्ना ने वापस लिया और कहा कि जज भी मानव होते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -