Tuesday, July 27, 2021
Homeराजनीति'BJP लाखों गुंडों के साथ बंगाल कब्जा करने आई है... CRPF जवान कर रहे...

‘BJP लाखों गुंडों के साथ बंगाल कब्जा करने आई है… CRPF जवान कर रहे छेड़छाड़’: ममता ने कूचबिहार में लगाए आरोप

"हम स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव चाहते हैं, जनता को वोट डालने की अनुमति दी जानी चाहिए, सीआरपीएफ को उन्हें मतदान केंद्र में प्रवेश करने से रोकना नहीं चाहिए, मैं सीआरपीएफ का सम्मान करती हूँ जो असली जवान हैं, लेकिन मैं भाजपा सीआरपीएफ का सम्मान नहीं करती हूँ, जो उपद्रव कर रहे हैं।"

पश्चिम बंगाल के कूचबिहार में बुधवार (अप्रैल 7, 2021) को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा/ BJP) पर निशाना साधने के चक्कर में सीआरपीएफ जवानों के लिए भी काफी उलटी-सीधी बातें की।

जनसभा को संबोधित करते हुए ममता ने कहा कि भाजपा बाहर से लाखों गुंडो को लाकर बंगाल पर कब्जा करना चाहती है। लेकिन ये आसान नहीं है। पहले दिल्ली के बारे में सोचो फिर बंगाल के बारे में सोचना।

अपनी रैली में ममता बनर्जी ने सीआरपीएफ जवानों पर पक्षपातपूर्ण रवैया अपनाने का आरोप लगाया। वह बोलीं,  “हम स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव चाहते हैं, जनता को वोट डालने की अनुमति दी जानी चाहिए, सीआरपीएफ को उन्हें मतदान केंद्र में प्रवेश करने से रोकना नहीं चाहिए, मैं सीआरपीएफ का सम्मान करती हूँ जो असली जवान हैं, लेकिन मैं भाजपा सीआरपीएफ का सम्मान नहीं करती हूँ, जो उपद्रव कर रहे हैं।”

ममता बनर्जी ने कूच बिहार जिले में केंद्रीय बल के कर्मियों पर आरोप लगाया कि वह मौजूदा विधानसभा चुनावों के दौरान महिलाओं के साथ छेड़छाड़ और लोगों के साथ मारपीट कर रहे हैं।

इसके अलावा ममता ने लोगों को भड़काते हुए कहा “मेरा आपसे अनुरोध है कि उन सीआरपीएफ कर्मियों पर नजर रखें जो राज्य में अभी ड्यूटी पर हैं। उन्हें महिलाओं को परेशान करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। ऐसे मामले भी हैं जिनमें केंद्रीय बल के कर्मचारियों द्वारा लड़कियों के साथ छेड़छाड़ की गई है।”

गौरतलब है कि कल राज्य में तीसरे चरण के मतदान के दौरान विभिन्न प्रतिद्वंद्वी राजनीतिक पार्टियों के बीच झड़पों की बात सामने आई। कुछ जगह टीएमसी कार्यकर्ताओं ने जमकर हड़कंप मचाया और कुछ जगह उन्हें हिंसा का शिकार होना पड़ा।

भाजपा नेता शहनवाज हुसैन पर भी कल हावड़ा में रैली के दौरान पत्थरबाजी हुई। उन्होंने कहा, “टीएमसी गुंडे मुझे रैली नहीं करने देना चाहते थे इसलिए मुझपर पत्थर फेंके। कोई पुलिस प्रोटेक्शन नहीं थी। मुझे Y+ सुरक्षा मिली है फिर भी पुलिस ने कुछ नहीं किया।”

बता दें कि बंगाल में भाजपा प्रत्याशी पापिया अधिकारी का कल टीएमसी गुंडों ने गला दबाने की कोशिश की थी। साथ ही उनके सर पर भी मारा गया था। भाजपा ने आज इस संबंध में बंगाल के मुख्य चुनाव अधिकारी के सामने शिकायत की है। इस शिकायत में ममता बनर्जी के बयान का भी जिक्र है जिसमें वह सुरक्षाबल का घेराव करने की बात कह रही हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,361FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe