Friday, May 24, 2024
Homeराजनीति'मुझे बंदूक दिखाओगे तो मैं बंदूक का संदूक दिखाऊँगी': BJP पर बरसीं 'जय श्री...

‘मुझे बंदूक दिखाओगे तो मैं बंदूक का संदूक दिखाऊँगी’: BJP पर बरसीं ‘जय श्री राम’ से भड़कीं ममता

“जो बीजेपी के साथ जुड़ने जा रहे हैं। मैं उन्हें बताना चाहती हूँ। जल्दी-जल्दी टीएमसी छोड़ो। उन्हें टीएमसी से कभी टिकट नहीं मिलती इसलिए वह TMC छोड़ रहे हैं। बीजेपी के पास तांडव करने के अतिरिक्त कोई विकल्प नहीं है।”

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विक्टोरिया मेमोरियल में हुई घटना के संबंध में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा/BJP) के ऊपर निशाना साधा है। उन्होंने सोमवार (जनवरी 25, 2021) को हुगली के पुरसुआ में रैली को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा चाहे तो उनकी बेइज्जती कर सकती है, लेकिन पश्चिम बंगाल का अपमान वह किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेंगी।

भाजपा को ‘भगवा’ पार्टी करार देते हुए सीएम बनर्जी ने जनता से कहा, “अगर भाजपा पैसे दे तो ले लेना लेकिन वोट TMC को ही देना। बीजेपी पूरी तरह फर्जी है। वो मेरी बेईज्जती कर सकते हैं, लेकिन पश्चिम बंगाल का अपमान बर्दाश्त नहीं करूँगी। बीजेपी एक महिला की इज्जत करना भी नहीं जानती।”

शुभेंदु अधिकारी पर निशाना साधते हुए बनर्जी ने कहा कि जो लोग टीएमसी छोड़ कर भाजपा के साथ मिल रहे हैं वो लालच में भगवा पार्टी से जुड़ रहे हैं। वह बोलीं, “जो बीजेपी के साथ जुड़ने जा रहे हैं। मैं उन्हें बताना चाहती हूँ। जल्दी-जल्दी टीएमसी छोड़ो। उन्हें टीएमसी से कभी टिकट नहीं मिलती इसलिए वह TMC छोड़ रहे हैं। बीजेपी के पास तांडव करने के अतिरिक्त कोई विकल्प नहीं है।”

विक्टोरिया मेमोरियल घटना पर सीएम बनर्जी ने कहा, “मैं नेताजी के कार्यक्रम में गई। उनकी हिम्मत कैसे हुई! मुझे चिढ़ाने की, वो भी देश के प्रधानमंत्री के सामने। वो मुझे नहीं जानते।” उन्होंने कहा कि यदि उन्हें बंदूक दिखाई गई तो वह बंदूक का संदूक दिखा सकती हैं, लेकिन वह राजनीति में विश्वास करती हैं, बंदूक में नहीं। 

वह कहती हैं, “अगर उन्होंने नेताजी का नारा बुलंद किया होता तो मैं उनकी तारीफ करती लेकिन उन्होंने रबीन्द्रनाथ टैगोर का अपमान किया है।” सीएम ने कहा कि भाजपा का नाम ‘भारत जलाओ पार्टी रखा जाना चाहिए।

गौरतलब है कि हाल में पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता में आयोजित नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती समारोह में जब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मंच पर सम्बोधन देने आईं तो भीड़ में से कुछ लोगों ने ‘जय श्री राम’ के नारे लगा दिए, जिसे उन्होंने अपनी बेइज्जती करार देते हुए भाषण देने से इनकार कर दिया। इसके बाद सोशल मीडिया पर भी ‘ममता बनर्जी को जय श्री राम’ ट्रेंड होने लगा। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मौजूद थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बाबरी का पक्षकार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आ गया, लेकिन कॉन्ग्रेस ने बहिष्कार किया’: बोले PM मोदी – इन्होंने भारतीयों पर मढ़ा...

प्रधानमंत्री ने स्पष्ट ऐलान किया कि अब यह देश न आँख झुकाकर बात करेगा और न ही आँख उठाकर बात करेगा, यह देश अब आँख मिलाकर बात करेगा।

कॉन्ग्रेस नेता को ED से राहत, खालिस्तानियों को जमानत… जानिए कौन हैं हिन्दुओं पर हमले के 18 इस्लामी आरोपितों को छोड़ने वाले HC जज...

नवंबर 2023 में जब राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मी चरम पर थी, जब जस्टिस फरजंद अली ने कॉन्ग्रेस उम्मीदवार मेवाराम जैन को ED से राहत दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -