Sunday, July 3, 2022
Homeराजनीति'बंगाल से राजनीतिक हिंसा को मिटा कर रहेंगे': JP नड्डा ने भाजपा नेताओं के...

‘बंगाल से राजनीतिक हिंसा को मिटा कर रहेंगे’: JP नड्डा ने भाजपा नेताओं के साथ ली शपथ, पुलिस पर मंच तोड़ने के आरोप

जेपी नड्डा ने इस दौरान खुद भी शपथ ली और भाजपा के अन्य नेताओं को भी शपथ दिलाई कि वो पश्चिम बंगाल को राजनीतिक हिंसा से मुक्त करा कर रहेंगे। उन्होंने कहा कि TMC वाले शपथ ले सकते हैं, सबका अधिकार है, लेकिन इसी दिन एक शपथ भाजपा भी ले रही है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा बुधवार (मई 5, 2021) को पश्चिम बंगाल के दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने मृत भाजपा कार्यकर्ताओं के परिजनों से मुलाकात की, जो TMC के गुंडों द्वारा पिछले 3 दिनों से की जा रही हिंसा के शिकार हुए। उन्होंने कोलकाता में कार्यकर्ताओं को सम्बोधित भी किया। लगभग इसी समय राजभवन में ममता बनर्जी ने भी लगातार तीसरी बार प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली।

जेपी नड्डा ने इस दौरान कहा कि भाजपा बाबासाहब भीमराव आंबेडकर द्वारा स्थापित किए गए संवैधानिक सिद्धांतों की स्थापना करेगी और पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा के खिलाफ आवाज़ उठाएगी। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी राज्य में सभी के लिए बराबरी का माहौल सुनिश्चित करेगी। नड्डा ने कहा कि जिन लोगों के पास लोकतंत्र की रक्षा करने का दायित्व है, वही लोग इस हिंसा के साजिशकर्ता हैं।

जेपी नड्डा ने इस दौरान खुद भी शपथ ली और भाजपा के अन्य नेताओं को भी शपथ दिलाई कि वो पश्चिम बंगाल को राजनीतिक हिंसा से मुक्त करा कर रहेंगे। उन्होंने कहा कि TMC वाले शपथ ले सकते हैं, सबका अधिकार है, लेकिन इसी दिन एक शपथ भाजपा भी ले रही है। उन्होंने कहा, “हम शपथ लेते हैं कि हम हमारी जिम्मेदारियों को निभाएँगे। हम जनादेश को स्वीकार करते हुए विपक्ष की भूमिका निभाएँगे।”

उन्होंने कहा, “हमने बंगाल में राजनीतिक हिंसा, तुष्टिकरण और अत्याचार के खिलाफ लड़ाई लड़ी। हम अपनी जिम्मेदारियों के निर्वहन से पीछे नहीं हटेंगे।” इधर भाजपा ने ये भी आरोप लगाया है कि पार्टी मुख्यालय के सामने जेपी नड्डा के धरने के लिए जो मंच बनाया था, उसे कोलकाता पुलिस ने ध्वस्त कर दिया। जेपी नड्डा अपने दौरे में पार्टी के 77 नए विधायकों और सभी 18 सांसदों से मुलाकात भी करेंगे।

चेन्नई की एक NGO ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका डाल कर माँग की है कि बंगाल के हिंसाग्रस्त इलाकों में अर्धसैनिक बलों की तैनाती हो और वहाँ बिगड़ती कानून-व्यवस्था के आलोक में राष्ट्रपति शासन लगाया जाए। कॉन्ग्रेस के जतिन प्रसाद ने कहा कि TMC के गुंडों द्वारा की जा रही हिंसा अस्वीकार्य है, वो महिलाओं और बच्चों तक को नहीं छोड़ रहे। TMC सांसद महुआ मोइत्रा ने दावा किया कि भाजपा देश भर में ऐसा माहौल बना रही है जैसे बंगाल जल रहा है, जबकि ऐसा कुछ भी नहीं है।

पश्चिम बंगाल ही नहीं, कश्मीर से लेकर तमिलनाडु तक भाजपा नेताओं ने धरना प्रदर्शन करके पश्चिम बंगाल में अपने कार्यकर्ताओं के खिलाफ हुई हिंसा को लेकर रोष जताया। अब तक भाजपा के 12 कार्यकर्ताओं की हत्या का आरोप लगा है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने भी ममता बनर्जी को राज्य में कानून का राज स्थापित करने की नसीहत दी, जिसके जवाब में ममता ने कहा कि उन्होंने तो अभी शपथ ली है और अब तक कानून-व्यवस्था चुनाव आयोग के हाथ में थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिर कलम करने में जिस डॉ युसूफ का हाथ, वो 16 साल से था दोस्त: अमरावती हत्याकांड में कश्मीर नरसंहार वाला पैटर्न, उदयपुर में...

अमरावती में उमेश कोल्हे की हत्या में उनका 16 साल पुराना वेटेनरी डॉक्टर दोस्त यूसुफ खान भी शामिल था। उसी ने कोल्हे की पोस्ट को वायरल किया था।

‘1 बार दलित को और 1 बार महिला आदिवासी को चुना राष्ट्रपति’: BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में भारत को पुनः विश्वगुरु बनाने की बात

"सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक, अनुच्छेद 370 खत्म करने, GST, आयुष्मान भारत, कोरोना टीकाकरण, CAA, राम मंदिर - कॉन्ग्रेस ने सबका विरोध किया।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,752FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe