Sunday, August 1, 2021
Homeराजनीतिसत्ता में आए तो केरल में लव जिहाद के खिलाफ कानून, ईसाई संगठन और...

सत्ता में आए तो केरल में लव जिहाद के खिलाफ कानून, ईसाई संगठन और चर्च भी कर रहे माँग: BJP

दिसंबर 2009 में खुद केरल हाईकोर्ट ने सरकार को ‘लव जिहाद’ की रोकथाम के लिए कानून बनाने के लिए कहा था। हाईकोर्ट ने कहा था कि कुछ पुलिस रिपोर्ट्स के हिसाब से ये स्पष्ट है कि लड़कियों के धर्मान्तरण के लिए साजिशन प्रयास किया गया और इसके पीछे कुछ संगठनों का हाथ भी दिख रहा है।

केरल में इसी साल विधानसभा चुनाव होने हैं। भाजपा (BJP) ने कहा है कि यदि वह राज्य की सत्ता में आती है तो ग्रूमिंग जिहाद/लव जिहाद के खिलाफ कानून लाएगी। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने कहा कि केरल में राजग गठबंधन के सत्ता में आने पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा पारित कानून की तर्ज पर धर्मांतरण विरोधी कानून बनया जाएगा।

भाजपा की केरल इकाई के प्रमुख ने कहा, “लव जिहाद एक गंभीर चिंता का विषय है। हिंदू संगठनों के अलावा, ईसाई संगठन और चर्च भी माँग (लव जिहाद के खिलाफ कानून) कर रहे हैं। हम इसे अपने घोषणा-पत्र (आगामी विधानसभा चुनाव के लिए) में शामिल करने की योजना बना रहे हैं। उत्तर प्रदेश सरकार की तरह हम भी लव जिहाद के खिलाफ कानून लाएँगे।” बता दें कि केरल में अप्रैल-मई में चुनाव होने वाले हैं।

गौरतलब है कि दिसंबर 2009 में खुद केरल हाईकोर्ट ने सरकार को ‘लव जिहाद’ की रोकथाम के लिए कानून बनाने के लिए कहा था। हाईकोर्ट ने कहा था कि कुछ पुलिस रिपोर्ट्स के हिसाब से ये स्पष्ट है कि लड़कियों के धर्मान्तरण के लिए साजिशन प्रयास किया गया और इसके पीछे कुछ संगठनों का हाथ भी दिख रहा है।

पिछले दिनों केरल में कैथोलिक पादरियों के एक संगठन ने कहा था कि ‘लव जिहाद’ एक वास्तविक समस्या है। केरल के चर्च ने इसके पीछे ISIS का हाथ बताते हुए कहा था कि ‘लव जिहाद’ के जरिए कई महिलाओं का जबरन धर्मान्तरण हो रहा है। केरल के चर्च का कहना था कि कुछ महीनों पहले केरल के जिन 21 लोगों को ISIS में शामिल कराया गया था, उनमें से आधे ईसाई थे। पादरियों का कहना था कि ‘लव जिहाद’ से सांप्रदायिक सद्भाव की भावना को ठेस पहुँच रही है। उनका ये भी आरोप था कि केरल का पुलिस-प्रशासन इस खतरे से निपटने को गंभीर नहीं है।

जब केरल के चर्चों ने ‘लव जिहाद’ को लेकर चर्चा शुरू की तो वामपंथी मीडिया घबरा गया और उसने इसे पादरियों पर ही हिंदुत्व के एजेंडे को आगे बढ़ाने का आरोप मढ़ दिया। रवीश कुमार ने लव जिहाद को ‘हिन्दू-मुस्लिम सिलेबस का हिस्सा’ भी बता दिया। रवीश कुमार ने केरल में ‘लव जिहाद’ के एक भी मामले साबित न होने की बात कही तो ‘Scroll’ इसे कंस्पिरेसी थ्योरी बताया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तानी मंत्री फवाद चौधरी चीन को भूले, Covid के लिए भारत को ठहराया जिम्मेदार, कहा- विश्व ‘इंडियन कोरोना’ से परेशान

पाकिस्तान के मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि दुनिया कोरोना महामारी पर जीत हासिल करने की कगार पर थी, लेकिन भारत ने दुनिया को संकट में डाल दिया।

ये नंगे, इनके हाथ अपराध में सने, फिर भी शर्म इन्हें आती नहीं… क्योंकि ये है बॉलीवुड

राज कुंद्रा या गहना वशिष्ठ तो बस नाम हैं। यहाँ किसिम किसिम के अपराध हैं। हिंदूफोबिया है। खुद के गुनाहों पर अजीब चुप्पी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,314FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe