Tuesday, June 18, 2024
Homeराजनीति'हिटलर और मुसोलिनी से जुड़े हुए थे पिता, फिर सोनिया गाँधी को क्यों मिली...

‘हिटलर और मुसोलिनी से जुड़े हुए थे पिता, फिर सोनिया गाँधी को क्यों मिली भारतीय नागरिकता?’

"सोनिया गाँधी से पूछना चाहते हैं कि कपिल सिब्बल ने क्या 77 लाख रुपए लिया था? इंदिरा जयसिंह से पूछना चाहते हैं कि आपने कितना लिया था? इससे एक बात साबित होती है कि ये जो लिबरल्स, आम आदमी पार्टी, कॉन्ग्रेस वाले और तौहीन बाग़ वाले हैं, इन्हें केवल एक ही प्रकार के मुस्लिम पसंद हैं, जो मुस्लिम मोदी जी को, सर्वोच्च न्यायालय को, भारत की सेना और सरकार को गाली दें।"

अदनान सामी को केंद्र सरकार द्वारा पद्म श्री अवॉर्ड दिए जाने के बाद विपक्षी पार्टियों ने भाजपा को निशाना बनाया है। कॉन्ग्रेस पार्टी ने आरोप लगाया कि अदनान सामी के पिता पाकिस्तानी वायुसेना में थे और उन्होंने भारत के ख़िलाफ़ युद्ध में हिस्सा लिया था, इसीलिए अदनान सामी को पद्मश्री अवॉर्ड से सम्मानित करना सही नहीं है। कॉन्ग्रेस ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान का साथ देने की बात कह के दूसरों को घेरने वाली भाजपा ख़ुद पाकिस्तानियों को सम्मानित कर ही है। वहीं भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कॉन्ग्रेस के इन आरोपों का जवाब देते हुए एक प्रेस कॉन्फ्रेंस किया।

भाजपा की तरफ़ से प्रेस कॉन्फ़्रेस करते हुए संबित पात्रा ने कहा कि सोनिया गाँधी के पिता तो मुसोलिनी और हिटलर जैसे तानाशाहों से जुड़े हुए थे, फिर उन्हें भारत की नागरिकता क्यों दी गई? संबित पात्रा के इन आरोपों का अब तक कॉन्ग्रेस ने कोई जवाब नहीं दिया है। कॉन्ग्रेस व उसकी सहयोगी पार्टियों को घेरते हुए कहा कि इन विपक्षी दलों को वही मुस्लिम पसंद आते हैं जो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारत और भारतीय संस्थाओं के विरोधी होते हैं। पात्रा ने कहा:

ये वही सोनिया गाँधी जी की पार्टी है, जिसने जाकिर नाइक से डोनेशन लिया था। ये पूरा दिखाया गया था और बाद में उन्होंने कहा था कि हमने वापस कर दिया। आज हम कॉन्ग्रेस पार्टी से पूछना चाहते हैं, सोनिया गाँधी से पूछना चाहते हैं कि कपिल सिब्बल ने क्या 77 लाख रुपए लिया था? इंदिरा जयसिंह से पूछना चाहते हैं कि आपने कितना लिया था? इससे एक बात साबित होती है कि ये जो लिबरल्स, आम आदमी पार्टी, कॉन्ग्रेस वाले और तौहीन बाग़ वाले हैं, इन्हें केवल एक ही प्रकार के मुस्लिम पसंद हैं, जो मुस्लिम मोदी जी को, सर्वोच्च न्यायालय को, भारत की सेना और सरकार को गाली दें।”

इस दौरान संबित पात्रा ने अदनान सामी के लोकप्रिय गाने ‘लिफ्ट करा दे’ की तर्ज कर कॉन्ग्रेस पर कुछ यूँ निशाना साधा:

तेरी ऊँची शान है भगवन
मेरी अर्जी मान ले भगवन
तू है सब कुछ जानने वाला
मैं हूँ तेरा मानने वाला
कैसे-कैसों को दिया है
ऐसे वैसों को दिया है
कॉन्ग्रेस की सोच थोड़ी सी लिफ्ट करा दे
सद्बुद्धि उनको जरा गिफ्ट करा दे

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने विपक्षी दलों के हर सवाल का जवाब देते हुए कहा कि देशद्रोहियों के लिए इकरार और अच्छे मुस्लिमों के लिए इनकार अब कॉन्ग्रेस का फलसफा बन चुका है। बकौल पात्रा, जो देशद्रोह का काम करे, यासीन मलिक, याकूब मेमन, अफजल गुरु, बुरहान वानी इन सब के लिए इकरार। इसके उलट जो अच्छे काम करके आगे बढ़े उनके लिए इनकार। संबित ने पूछा कि ये कैसी बात है?

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘यहीं काटेंगे बकरा… जो करना है कर लो’ : मुंबई के मीरा रोड की सोसायटी में बकरीद पर हंगामा, कुर्बानी का विरोध करने पर...

मुंबई के मीरा रोड इलाके में एक सोसाइटी के अंदर मुस्लिम पक्ष के लोग बकरों की कुर्बानी देने पर आमादा हो गए। इस दौरान उन्होंने हिन्दुओं के देवताओं को भी गाली दी।

जिस जगन्नाथ मंदिर में फेंका गया था गाय का सिर, वहाँ हजारों की भीड़ ने जुट कर की महा-आरती: पूछा – खुलेआम कैसे घूम...

रतलाम के जिस मंदिर में 4 मुस्लिमों ने गाय का सिर काट कर फेंका था वहाँ हजारों हिन्दुओं ने महाआरती कर के असल साजिशकर्ता को पकड़ने की माँग उठाई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -