Tuesday, July 27, 2021
Homeराजनीतिभूमाफिया आजम खान पर वक्फ सम्पत्तियाँ हड़पने के आरोप में मुकदमा दर्ज

भूमाफिया आजम खान पर वक्फ सम्पत्तियाँ हड़पने के आरोप में मुकदमा दर्ज

आजम खान और अन्य पर मुकदमें आईपीसी की धाराओं 420, 467, 468, 471, 447, 409, 201, 120B, और सार्वजनिक संपत्ति नुकसान निवारण अधिनियम की धारा 3 के अंतर्गत दर्ज किए गए हैं।

पूर्व मंत्री और सपा के नंबर दो नेता से भूमाफिया घोषित हुए आजम खान पर अब वक़्फ़ बोर्ड की सम्पत्तियाँ हड़पने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है। इसके अलावा उन पर शत्रु सम्पत्ति को वक़्फ़ सम्पत्ति बनाने का भी आरोप है।

रामपुर के अल्लामा नकवी ने की शिकायत

रामपुर के लोक सभा सांसद आजम खान पर मुकदमा भी रामपुर में ही दर्ज कराया गया है। रामपुर के अजीमनगर थाने में अल्लामा जमीर नकवी ने शिकायत की कि आजम खान, उनकी पत्नी तंजीन फातिमा, बेटे अब्दुल्ला आजम, उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल बोर्ड लखनऊ के अध्यक्ष वसीम रिजवी और सुन्नी वफ्फ बोर्ड के अध्यक्ष जुफर फारुखी सहित नौ लोगों ने कानून का उललंघन कर शत्रु सम्पत्ति को वक़्फ़ सम्पत्ति बनाया और नकली वक़्फ़ बोर्ड का भी गठन किया। उन्होंने अपनी शिकायत में लिखा कि कानून के मुताबिक वक़्फ़ की सम्पत्ति न किसी को ऐसे दी जा सकती है न ही उपहार में; इसी तरह शत्रु संपत्ति भी किसी को नहीं दी जा सकती।

आजम खान और अन्य पर मुकदमें आईपीसी की धाराओं 420, 467, 468, 471, 447, 409, 201, 120B, और सार्वजनिक संपत्ति नुकसान निवारण अधिनियम की धारा 3 के अंतर्गत दर्ज किए गए हैं।

रिसॉर्ट पर चल चुका है बुलडोजर, किताबें चुराने का भी आरोप

आजम खान पर इससे पहले मदरसे से किताबें चुराने, क्लब से शेर की मूर्तियाँ चुराने और बेटे के नाम पर रिसॉर्ट सिंचाई विभाग की ज़मीन ‘चुरा’ कर (अवैध कब्ज़ा कर) बनवाने के भी आरोप है। उनके ‘हमसफ़र रिसॉर्ट’ के एक हिस्से को तोड़ने के आदेश उपजिलाधिकारी ने तीन हफ्ते पहले ही दिए थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe