Sunday, May 26, 2024
Homeराजनीति'दुर्जनों पर बुलडोजर चलते रहना चाहिए, विकास की स्पीड तेज होगी': सीएम योगी आदित्यनाथ...

‘दुर्जनों पर बुलडोजर चलते रहना चाहिए, विकास की स्पीड तेज होगी’: सीएम योगी आदित्यनाथ ने 300+ का बताया फॉर्मूला

सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की लोकप्रियता का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है और अब यह लड़ाई 80 और 20 की है। 80 में भाजपा और 20 फीसदी में बाकी सभी हैं। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि से लेकर किसान कर्जमाफी तक जनता भाजपा की कल्याणकारी योजनाओं को महसूस कर रही है।

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election-2022) के मद्देनजर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Aadityanath) ने शुक्रवार (4 फरवरी) को गोरखपुर की सदर सीट से अपना चुनावी नामांकन दाखिल किया। इसके साथ ही उन्होंने एक बार फिर से माफियाओं को चेतावनी देते हुए कहा है कि विकास के साथ बुलडोजर चलता रहेगा। विकास सज्जनों का होगा, लेकिन दुर्जनों पर तो बुल़डोजर ही चलेगा।

न्यूज 18 को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में सीएम योगी ने गोरखपुर से ही चुनाव लड़ने के पीछे की वजह का खुलासा किया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश उनके लिए अपरिचित नहीं है। उन्होंने कहा, “पार्टी ने चुनाव लड़ने के बारे में मुझसे पूछा था, लेकिन मैंने ये फैसला पार्टी पर ही छोड़ दिया था। अब पार्टी ने ही मुझे गोरखपुर से नामांकन भरने का मौका दिया है।”

सीएम योगी ने यह भी बताया कि भाजपा आखिर कैसे 300 का जादुई आँकड़ा पार करेगी। उन्होंने बताया कि प्रदेश में भाजपा की लोकप्रियता का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है और अब यह लड़ाई 80 और 20 के अनुपात की हो गई है। 80 में भाजपा और 20 फीसदी में बाकी सभी हैं। सीएम योगी का मानना है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि से लेकर किसान कर्जमाफी तक जनता भाजपा की कल्याणकारी योजनाओं को महसूस कर रही है और इसी के आधार पर वह कह सकते हैं कि बीजेपी 300 के पार होगी।

सीएम योगी ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) औऱ कॉन्ग्रेस (Congress) पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि 2017 में दो लड़कों की जोड़ी आई और 2019 में बुआ और बबुआ, लेकिन यूपी की जनता ने इनके गठबंधन को रिजेक्ट कर दिया।

एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, सीएम योगी ने गोरखपुर में कहा कि अगर विकास चलेगा तो विकास के साथ-साथ बुलडोज़र भी चलना चाहिए। दोनों का एक दूसरे के साथ संबंध है। विकास सज्जनों के लिए हैं और बुलडोजर दुर्जनों के लिए है। जब दोनों एक साथ चलेंगे तो विकास की स्पीड कई गुना ज़्यादा दिखाई देगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सेलिब्रिटियों का ‘तलाक’ बिगाड़े न समाज के हालात… इन्फ्लुएंस होने से पहले भारतीयों को सोचने की क्यों है जरूरत

सेलिब्रिटियों के तलाकों पर होती चर्चा बताती है कि हमारे समाज पर ऐसी खबरों का असर हो रहा है और लोग इन फैसलों से इन्फ्लुएंस होकर अपनी जिंदगी भी उनसे जोड़ने लगे हैं।

35 साल बाद कश्मीर के अनंतनाग में टूटा वोटिंग का रिकॉर्ड: जानें कितने मतदाताओं ने आकर डाले वोट, 58 सीटों का भी ब्यौरा

छठे चरण में बंगाल में सबसे अधिक, जबकि जम्मू कश्मीर में सबसे कम मतदान का प्रतिशत रहा, लेकिन अनंतनाग में पिछले 35 साल का रिकॉर्ड टूटा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -