Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीतिकेरल आए PM मोदी तो आस्था और विकास का हुआ समागम: गुरुवयूर और त्रिप्रयार...

केरल आए PM मोदी तो आस्था और विकास का हुआ समागम: गुरुवयूर और त्रिप्रयार मंदिर में की पूजा, ₹4000 करोड़ की विकास परियोजनाएँ, मलयालम सुपरस्टारों से भी मिले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवयूर मंदिर से निकल केरल में भगवान राम के मशहूर त्रिप्रयार श्री रामास्वामी मंदिर पहुँचे। ये मंदिर भी त्रिशूर में ही है। यहाँ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूजा अर्चना की। इस मंदिर का संबंध भगवान कृष्ण और द्वारका नगरी से भी है।

केरल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आस्था और विकास के समागम का उदाहरण फिर से पेश किया है। केरल दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुबह के समय श्रीगुरुवयूर और त्रिप्रयार श्री रामास्वामी मंदिर में पूजा अर्चना की, तो उसके बाद राज्य और देश को हजारों करोड़ रुपयों की परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इस बीच, वो एक विवाह समारोह में भी शामिल हुए। पीएम मोदी का पूरा केरल दौरा एक तरह से आस्था और देश के विकास का अद्भुत संयोग बनाता दिखा।

पीएम मोदी ने की श्री गुरुवयूर मंदिर में पूजा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुबह 7:30 के आसपास मशहूर श्री गुरुवयूर मंदिर में पूजा अर्चना की। खुद पीएम मोदी ने इसकी तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर शेयर की है। पीएम मोदी ने लिखा, “पवित्र गुरुवायुर मंदिर में प्रार्थना की। इस मंदिर की दिव्य ऊर्जा अपार है। मैंने प्रार्थना की कि हर भारतीय खुश और समृद्ध रहे।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्री गुरुवयूर मंदिर में नव-विवाहित जोड़ों से भी मिले और उन्हें शुभकामनाएँ दी। इन जोड़ों में मलयालम सुपरस्टार और बीजेपी नेता सुरेश गोपी की बेटी और दामाद भी शामिल रहे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भले ही सुबह सुबह 7.30 मंदिर पहुँचे थे, लेकिन उनके स्वागत में बीजेपी कार्यकर्ता उमड़ पड़े। उन्होंने पीएम मोदी का जोरदार स्वागत किया। पीएम मोदी ने सभी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद भी दिया। उन्होंने ‘एक्स’ पर लिखा, “सुबह का समय था लेकिन गुरुवयूर में लोग बड़ी संख्या में मुझे आशीर्वाद देने आए। मैं इस गर्मजोशी की सराहना करता हूँ और यह मुझे लोगों के लिए और भी अधिक मेहनत करने के लिए प्रेरित करता है।”

गुरुवयूर से त्रिप्रयार श्री रामास्वामी मंदिर पहुँचे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवयूर मंदिर से निकल केरल में भगवान राम के मशहूर त्रिप्रयार श्री रामास्वामी मंदिर पहुँचे। ये मंदिर भी त्रिशूर में ही है। यहाँ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूजा अर्चना की। इस मंदिर का संबंध भगवान कृष्ण और द्वारका नगरी से भी है।

भगवान राम को समर्पित है त्रिप्रयार श्री रामास्वामी मंदिर

त्रिप्रयार श्री रामास्वामी मंदिर भगवान राम को समर्पित है। इस मंदिर में भगवान राम की 6 फुट ऊँची प्रतिमा है। इस मंदिर के मुख्य देवता राम हैं, जो विष्णु के सातवें अवतार हैं, जिनकी चार भुजाओं में शंख, चक्र, धनुष और माला हैं। भगवान राम यहाँ राजघराने के पीठासीन देवता हैं, जिन्हें ‘ब्रह्मांड में सभी देवताओं से ऊपर’ का स्थान दिया गया है।

भगवान राम को यहाँ पर त्रिप्रयार थेवर या त्रिप्रयारप्पा के रूप में भी जाना जाता है। यह मंदिर करुवन्नूर नदी के तट पर स्थित है, जिसे त्रिप्रयार से बहते हुए थेवरा नदी कहा जाता है। मंदिर परिसर में भगवान राम के साथ-साथ दक्षिणमुखी शिव, गणेश और कृष्ण के मंदिर स्थापित हैं। यहाँ हनुमान की भी पूजा होती है। इस मंदिर का संबंध द्वापर युग में भगवान कृष्ण से भी जोड़ा जाता है।

पीएम मोदी की मौजूदगी में त्रिप्रयार श्री रामास्वामी मंदिर में सांस्कृतिक प्रस्तुति भी दी गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने त्रिप्रयार श्री रामास्वामी मंदिर में ‘मलयालम रामायण’ और सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले कलाकारों को सम्मानित भी किया।

इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के विकास को गति देने वाले कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए निकल पड़े। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोच्चि में 4000 करोड़ रुपए से अधिक मूल्य की तीन प्रमुख परियोजनाओं कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड (CSL) में न्यू ड्राई डॉक (NDD), सीएसएल की इंटरनेशनल शिप रिपेयर फैसिलिटी (ISRF) और पुथुवाइपीन, कोच्चि में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के एलपीजी आयात टर्मिनल का उद्घाटन किया। इनसे भारत के पत्‍तन, पोत परिवहन और जलमार्ग क्षेत्र में पूरी तरह बदलाव लाने और इसका क्षमता निर्माण कर इसे आत्मनिर्भर बनाने में मदद मिलेगी।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, “आज जब भारत वैश्विक व्यापार का केंद्र बन रहा है, तब हम अपनी समुद्री शक्ति बढ़ा रहे हैं। आज देश को अपना सबसे बड़ा ड्राई डॉक (एनडीडी) मिला। इसके अलावा, जहाज निर्माण, जहाज मरम्मत के बुनियादी ढाँचे और LPG आयात टर्मिनल का भी उद्घाटन किया गया है। इन नई सुविधाओं के साथ, शिपयार्ड की क्षमता कई गुना बढ़ जाएगी। मैं केरल के लोगों को इन सुविधाओं के लिए बधाई देता हूँ।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंच से त्रिप्रयार श्री रामस्वामी मंदिर के बारे में भी बात की। पीएम मोदी ने कहा कि कुछ दिनों पहले मैंने अयोध्या में वाल्मीकि इंटरनेशनल एयरपोर्ट का उद्घाटन करते समय भारत में भगवान राम से जुड़े 4 मंदिरों का जिक्र किया था। आज उसी पवित्र त्रिप्रयार श्री रामास्वामी मंदिर में आकर पूजा करने का सौभाग्य मिला है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संबोधनों में कई बार इस बात पर जोर डाल चुके हैं कि हमें अपनी जड़ों से जुड़कर विकास की यात्रा तय करनी है। हमें अपने गौरवशाली इतिहास को दरकिनार करने की जगह अपने पूर्वजों से आशीर्वाद लेकर विकास के पथ पर आगे बढ़ना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का केरल दौरा उनके इस कथन के अनुरूप ही प्रतीत होता है

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आरक्षण पर बांग्लादेश में हो रही हत्याएँ, सीख भारत के लिए: परिवार और जाति-विशेष से बाहर निकले रिजर्वेशन का जिन्न

बांग्लादेश में आरक्षण के खिलाफ छात्र सड़कों पर उतर आए हैं। वहाँ सेना को तैनात किया गया है। इससे भारत को सीख लेने की जरूरत है।

कर्नाटक के बाद अब तमिलनाडु में YouTuber अजीत भारती के खिलाफ FIR, कॉन्ग्रेस नेता सैमुअल MC ने की शिकायत: राहुल गाँधी से जुड़ा है...

"कर्नाटक उच्च न्यायालय ने स्थगन का आदेश दे रखा है, उस पर कथित घटना और केस पर स्टे के बाद, वापस दूसरे राज्य में केस करना क्या बताता है? "

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -