Wednesday, April 17, 2024
Homeराजनीतिकॉन्ग्रेसी नेता ने बताया- रम, काली मिर्च और अंडे से कोरोना वायरस का इलाज,...

कॉन्ग्रेसी नेता ने बताया- रम, काली मिर्च और अंडे से कोरोना वायरस का इलाज, सोशल मीडिया पर जमकर लोगों ने उड़ाया मजाक

कॉन्ग्रेस नेता इतने पर भी नहीं रुके बल्कि उन्होंने यहाँ तक कहा, “मैंने कई दवाइयाँ आजमाईं, लेकिन सिर्फ इसी घरेलू नुस्खे ने काम किया। मैं एक राजनेता के रूप में नहीं, बल्कि कोरोना समिति के सदस्य के रूप में आपको ये सुझाव दे रहा हूँ”

देश और दुनिया में कोरोना वायरस के कहर ने कोहराम मचा रखा है। दुनियाभर के वैज्ञानिक कोरोना वैक्सीन पर लगातार काम कर रहे हैं। सभी को कोरोना की दवा या वैक्सीन का बेसब्री से इंतज़ार है। इसी बीच कर्नाटक के उल्लाल शहर नगरपालिका के कॉन्ग्रेस पार्षद का वीडियो (17 जून, 2020) सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें उन्होंने कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए लोगों को एक अजीबोगरीब उपाय सुझाया है।

दरअसल, कर्नाटक के मंगलुरु के कॉन्ग्रेस पार्षद रविचंद्र गट्टी ने एक भ्रामक वीडियो के जरिए बताया कि कैसे रम, काली मिर्च और अंडे से कोरोना संक्रमण से बचा जा सकता है। उन्होंने बकायदा इसकी पूरी जानकारी दी है। इस वायरल वीडियो में कॉन्ग्रेस नेता गट्टी ने कहा, “बेंगलुरू और मेदिकरी में कई लोग रम पीते है। मैं ना रम पीता हूँ ना मछली खाता हूँ। आप बस एक चम्मच काली मिर्च के पाउडर को 90 मि.ली. रम में डालें। इसे अपने हाथों से अच्छी तरह से हिलाएँ और पी लें। कोरोना को पूरी तरह से ख़त्म करने के लिए इसके साथ ही दो आधे उबले हुए आमलेट खाएँ।”

कॉन्ग्रेस नेता गट्टी इतने पर भी नहीं रुके बल्कि उन्होंने यहाँ तक कहा, “मैंने कई दवाइयाँ आजमाईं, लेकिन सिर्फ इसी घरेलू नुस्खे ने काम किया। मैं एक राजनेता के रूप में नहीं, बल्कि कोरोना समिति के सदस्य के रूप में आपको ये सुझाव दे रहा हूँ”

कॉन्ग्रेस नेता रविचंद्र गट्टी ने यह वीडियो 1 मिनट का बनाया है। जिसमें वे कन्नड़ में बोलते हुए नजर आ रहे है। इस भ्रामक वीडियो में उन्होंने एक विशेष ब्रांड को दिखाते हुए एक रम की बोतल भी पकड़ रखी है। यह वीडियो कई दिनों से सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल हो रहा है।

जहाँ कुछ लोग गलत सूचना फैलाने के लिए उल्लाल सीएमसी पार्षद की आलोचना कर रहे हैं, वहीं कुछ लोग जमकर कॉन्ग्रेसी नेता का मजाक उड़ा रहे हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, मंगलुरु के विधायक यूटी खदर ने कहा, “जिला प्रशासन को यह पता लगाना चाहिए कि उसने सोशल मीडिया पर ऐसा वीडियो क्यों साझा किया। गट्टी पिछले 15 वर्षों से एक सामाजिक कार्यकर्ता है। हम इस मुद्दे को लेकर पार्टी नेताओं से भी चर्चा करेंगे। पार्टी से बात कर गट्टी के खिलाफ आगे की कार्रवाई पर फैसला लिया जाएगा।”

बता दें, कर्नाटक में लगातार कोरोना वायरस का प्रकोप जारी हैं। राज्य में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 55 हज़ार के पार चली गई। जिसमें 33211 एक्टिव केस है। 20757 लोग ठीक होकर घर जा चुके हैं। वहीं 1147 लोग इस महामारी के चलते अपनी जान गँवा चुके हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रामनवमी पर भी कॉन्ग्रेस ने दिखाई हिंदू घृणा: तेलंगाना में शोभायात्रा की नहीं दी अनुमति, राजस्थान में शिकायत कर हटवाए भगवा झंडे

हैदराबाद में T राजा सिंह ने कहा कि कहा कि हमें कॉन्ग्रेस सरकार से इस तरह के फैसले की ही आशंका थी। जयपुर में बालमुकुंदाचार्य कॉन्ग्रेस पर बरसे।

‘सूर्य तिलक’ से पहले भगवान रामलला का दुग्धाभिषेक, बोले PM मोदी- शताब्दियों की प्रतीक्षा के बाद आई है ये रामनवमी, राम भारत का आधार

प्रधानमंत्री ने 'राम काज कीन्हें बिनु मोहि कहाँ विश्राम' वाली रामचरितमानस की चौपाई के साथ रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा वाली अपनी तस्वीर भी शेयर की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe