Saturday, September 25, 2021
Homeराजनीतिसोनिया गॉंधी के 'दुर्भाग्यपूर्ण' बताते ही मोदी की तारीफ करने के लिए शशि थरूर...

सोनिया गॉंधी के ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ बताते ही मोदी की तारीफ करने के लिए शशि थरूर पर टूट पड़े कॉन्ग्रेसी

पार्टी नेताओं की आलोचनाओं से बेपरवाह थरूर ने कहा है कि जयराम रमेश और सिंघवी ने जो कुछ कहा है, वह गलत नहीं है। अगर पीएम मोदी ने कुछ अच्छा किया है, तो हमें इसे स्वीकार करना चाहिए। अन्यथा हम लोगों के बीच अपना विश्वास खो बैठेंगे।

लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद ही यह जाहिर हो गया था कि कॉन्ग्रेस के भीतर सब कुछ ठीक नहीं है। आर्टिकल 370 और प्रधानमंत्री मोदी के कामकाज को लेकर पार्टी का विभाजन साफ-साफ दिखने लगा है।

कॉन्ग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गॉंधी ने पिछले दिनों पार्टी सांसद शशि थरूर के उस बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताया था, जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ की थी। इसके बाद से केरल कॉन्ग्रेस के नेता इस मुद्दे पर थरूर के पीछे पड़ गए हैं। थरूर केरल की ही तिरुवनंपुरम सीट से सांसद हैं।

प्रधानमंत्री की सही चीजों के लिए प्रशंसा करने के थरूर के बयान की रविवार (अगस्त 25, 2019) को केरल कॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने तीखी आलोचनी की। हालाँकि पार्टी नेताओं की आलोचनाओं से बेपरवाह थरूर ने कहा है कि उनके रुख में कुछ भी गलत नहीं है।

केरल विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्नितला ने कहा कि मोदी सरकार की गलतियों को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। वहीं प्रदेश कॉन्ग्रेस अध्यक्ष मुल्लापल्ली रामचंद्रन ने कहा कि थरूर का बयान दुर्भाग्यपूर्ण है और कहा कि वो इस बारे में उनसे बात करेंगे।

थरूर ने कहा था कि सही चीज करने पर प्रधानमंत्री की सराहना करने से विपक्ष की आलोचना की साख बनेगी। उन्होंने और पार्टी के एक अन्य नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने पिछले हफ्ते पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश का समर्थन किया था। रमेश ने कहा था कि मोदी के काम को नहीं स्वीकारने और उन्हें हर समय उन्हें खलनायक की तरह पेश करने से कोई फायदा नहीं होने वाला है।

चेन्नितला ने अलप्पुझा के हरिपद में थरूर के बयान पर मीडिया से बात करते हुए कहा कि केंद्र सरकार कई ऐसे निर्णय ले रही है, जो लोगों को अस्वीकार्य हैं और किसी एक अच्छे काम के लिए उनका महिमामंडन करने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि कॉन्ग्रेस मोदी सरकार की गलत नीतियों के खिलाफ लड़ाई जारी रखेगी। मोदी सरकार के हजारों गलत काम के बाद एक अच्छे कार्य के लिए प्रधानमंत्री मोदी की गुणगान करने की जरूरत नहीं है।

रामचंद्रन ने तिरुवनंतपुरम में पत्रकारों से कहा कि थरूर ने 5 सालों तक भाजपा नीत एनडीए सरकार का खुलकर विरोध किया है। रामचंद्रन ने कहा कि वो नहीं जानते कि पिछले एक हफ्ते में क्या बदलाव आया है कि वो अचानक से मोदी सरकार का समर्थन कर रहे हैं।

थरूर ने रविवार को अपने, अभिषेक मुन सिंघवी और जयराम रमेश द्वारा की गई टिप्पणियों का बचाव करते हुए मलयालम टीवी पर कहा, “जयराम रमेश और सिंघवी ने जो कुछ कहा है, वह गलत नहीं है। अगर पीएम मोदी ने कुछ अच्छा किया है, तो हमें इसे स्वीकार करना चाहिए। अन्यथा हम लोगों के बीच अपना विश्वास खो बैठेंगे। यदि जरूरत हो, तो हमें उनकी कड़ी आलोचना भी करनी चाहिए।”

पार्टी अध्यक्ष सोनिया गाँधी ने 22 अगस्त को थरूर के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताया था। उन्होंने कहा था कि थरूर को इस तरह के बयान सार्वजनिक तौर पर देने की बजाए कॉन्ग्रेस संसदीय दल के समक्ष रखना चाहिए था।

गौरतलब है कि, इससे पहले भी लोकसभा में कॉन्ग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन चौधरी समेत अन्य नेताओं ने जयराम रमेश, अभिषेक मनु सिंघवी और शशि थरूर के बयान की आलोचना की थी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ममता बनर्जी के खिलाफ खड़ी BJP उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल पर बंगाल पुलिस ने किया ‘शारीरिक हमला’: पार्टी ने EC को लिखा पत्र

बंगाल बीजेपी ने चुनाव आयोग को पत्र लिखकर आरोप लगाया है कि कोलकाता पुलिस के डीसीपी साउथ ने प्रियंका टिबरेवाल पर ‘हमला और छेड़छाड़’ की।

अलीगढ़ में मौलवी ने मस्जिद में किया 12 साल के बच्चे का रेप, कुरान पढ़ने जाया करता था छात्र: यूपी पुलिस ने भेजा जेल

अलीगढ़ के एक मस्जिद में एक नाबालिग के यौन शोषण का मामला सामने आया है। मौलवी ने ही इस वारदात को अंजाम दिया। बच्चा कुरानशरीफ पढ़ने गया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,162FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe