Monday, August 15, 2022
Homeराजनीतिजापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे की हत्या पर भी कॉन्ग्रेस ने की ओछी...

जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे की हत्या पर भी कॉन्ग्रेस ने की ओछी राजनीति, अग्निपथ से जोड़ झूठ फैलाने की कोशिश, बीजेपी ने लगाई लताड़

"एक लिमिट होनी चाहिए। यह शर्मनाक और काफी निंदनीय है। यह न केवल तथ्यों से रहित है, बल्कि एक महान वैश्विक नेता और भारत के सच्चे मित्र की मृत्यु का राजनीतिकरण करने के लिए नैतिकता की भावना से भी रहित है।"

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की दुर्भाग्यपूर्ण हत्या का सहारा लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी अपने राजनीतिक हितों को साधने की कोशिश कर रही है। दरअसल, जापान के नारा शहर में एक व्यक्ति द्वारा आबे को गोली मारने के बाद कॉन्ग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया पैनलिस्ट सुरेंद्र राजपूत ने ट्विटर के जरिए दावा किया कि आबे का हत्यारा जापानी आत्मरक्षा बलों (एसडीएफ) का सदस्य था। इसी के साथ ही उन्होंने इसे भारत सरकार की अग्निपथ योजना से जोड़ने की कोशिश की।

ट्वीट में राजपूत ने कहा, “शिंजो आबे को शूटर तेत्सूयायागामी ने गोली मार दी। उसने जापान के एसडीएफ यानी सेना में बिना पेंशन के काम किया था।”

कॉन्ग्रेस नेता का ट्वीट

उल्लेखनीय है कि जापानी आत्मरक्षा बल जापान के वो सैन्य बल हैं, जिसमें जापान ग्राउंड सेल्फ-डिफेंस फोर्स, जापान मैरीटाइम सेल्फ-डिफेंस फोर्स और जापान एयर सेल्फ-डिफेंस फोर्स शामिल हैं। जापानी रक्षा बलों के कर्मियों को उनकी सेवानिवृत्ति के बाद एकमुश्त भुगतान मिलता है, लेकिन उनके लिए नियमित पेंशन योजना नहीं है। इसी को ध्यान में रखते हुए कॉन्ग्रेस नेता ने एसडीएफ की तुलना अग्निपथ से करने की कोशिश की, ताकि इस हत्या पर अपने लिए पॉलिटिकल प्वाइंट हासिल कर सकें। जबकि, दुनियाभर के नेताओं ने इसकी निंदा की है।

इसी बीच भारतीय जनता पार्टी ने कॉन्ग्रेस पार्टी के प्रवक्ता सुरेंद्र राजपूत के इस बयान की निंदा की है। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कहा कि कॉन्ग्रेस आधिकारिक प्रवक्ता ने शिंजो आबे की दर्दनाक हत्या को अपनी क्षुद्र राजनीति की पूर्ति के लिए इस्तेमाल किया।

शहजाद पूनावाला ने कहा, “एक लिमिट होनी चाहिए। यह शर्मनाक और काफी निंदनीय है। यह न केवल तथ्यों से रहित है, बल्कि एक महान वैश्विक नेता और भारत के सच्चे मित्र की मृत्यु का राजनीतिकरण करने के लिए नैतिकता की भावना से भी रहित है। मुझे उम्मीद है कि कॉन्ग्रेस बिना देर किए उन पर कार्रवाई करेगी।”

बता दें कि जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की शुक्रवार को नारा शहर में एक बदमाश ने गोली मारकर हत्या कर दी। पश्चिमी जापान में एक रैली को संबोधित करते हुए आबे को पीछे से गोली मार दी गई। जिसके बाद उन्हें तुरंत इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया, जहाँ इलाज के दौरान उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

गौरतलब है कि भारत सरकार ने तीनों सेनाओं में भर्ती के लिए अग्निपथ योजना को लॉन्च किया है। इसका कॉन्ग्रेस समेत विपक्षी पार्टियाँ लगातार विरोध कर रही हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

₹180 करोड़ की फिल्म, 4 दिन में बस ₹38 करोड़: लाल सिंह चड्ढा के फ्लॉप होते ही सदमे में आमिर खान, डिस्ट्रीब्यूटर्स ने माँगा...

लाल सिंह चड्ढा की बॉक्स ऑफिस पर भद्द पिटने के बाद आमिर खान सदमे में चले गए हैं। वहीं डिस्ट्रीब्यूटर्स ने भी मेकर्स से मुआवजे की माँग शुरू कर दी है।

वो हिंदुस्तानी जो अभी भी नहीं हैं आजाद: PoJK के लोग देख रहे आशाभरी नजरों से भारत की ओर, हिंदू-सिखों का यहाँ हुआ था...

विभाजन की विभीषिका को भी भुलाया नहीं जा सकता। स्वतंत्रता-प्राप्ति का मूल्य समझकर और स्वतन्त्रता का मूल्य चुकाकर ही हम अपनी स्वतंत्रता को सुरक्षित और संरक्षित कर सकते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,977FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe