Wednesday, May 22, 2024
Homeराजनीतिदिल्ली में इतने मुसलमान हैं कि गृहमंत्री का घर घेर सकते हैं, फिर कोई...

दिल्ली में इतने मुसलमान हैं कि गृहमंत्री का घर घेर सकते हैं, फिर कोई अरेस्ट नहीं होगा: अमानतुल्लाह का जहर

"मैं सिर्फ इतना कहने आया हूँ कि दिल्ली में मुसलमानों की बहुत बड़ी तादाद है, लेकिन यहाँ पर जितने मुसलमान आएँ हैं, अगर सिर्फ वही ये तय कर लें तो उनकी हिम्मत नहीं होगी।"

दिल्ली में हुए हिंदू विरोधी दंगों ने सबको झकझोक कर रख दिया है। काफी बड़ी में तादाद में मुस्लिम दंगाइयों ने अल्लाहु अकबर और नारा-ए-तकबीर के साथ हिंदुओं की हत्या की। दंगाइयों की भीड़ ने छतों पर गुलेल सेट करके उससे भारी मात्रा में पत्थरबाजी की, पेट्रोल बम और तेजाब वगैरह फेंके। बता दें कि यह दंगा स्वतः ही नहीं हुआ था। इस दंगे को सुनियोजित तरीके से साजिश के तहत अंजाम दिया गया था। मुस्लिम दंगाई भीड़ के अंदर का जो जहर दिखा, वो भी काफी सालों से उनके अंदर भरा था और इसी का नतीजा रहा ये खूनी दंगा।

इस दंगे के मुख्य साजिशकर्ता के रूप में आम आदमी पार्टी से निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन का हाथ सामने आया है, जिसके बचाव में पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान उतकर सामने आए। बता दें कि ये वही अमानतुल्लाह खान हैं, जो हमेशा ही हिंदुओं और सरकार के खिलाफ जहर उगलते रहते हैं। अभी फिर से उनका एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें वो समुदाय विशेष को भड़काते हुए नजर आ रहे हैं। यह वीडियो 2016 का बताया जा रहा है।

वीडियो में अमानतुल्लाह खान समुदाय विशेष को संबोधित करते हुए कहते हैं, “आप लोग जिस जिंदादिली से यहाँ आए हैं, अगर आप लोग सिर्फ ये तय कर लें ना कि आज के बाद एक भी गिरफ्तारी हुई तो होम मिनिस्टर के घर को घेरना है। तो मैं यकीन के साथ कह सकता हूँ कि इनकी इतनी हिम्मत नहीं होगी कि आपके एक बच्चे की तरफ भी ये आँख उठाकर देख लें। मैं सिर्फ इतना कहने आया हूँ कि दिल्ली में मुसलमानों की बहुत बड़ी तादाद है, लेकिन यहाँ पर जितने मुसलमान आएँ हैं, अगर सिर्फ वही ये तय कर लें तो उनकी हिम्मत नहीं होगी।”

अभी अमानतुल्लाह खान पार्टी के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन को बचाने के लिए जी-जान से जुटे हुए हैं। बता दें कि ताहिर पर आईबी अधिकारी अंकित वर्मा की हत्या हिंसा फैलाने का भी आरोप है। पार्टी द्वारा ताहिर को निलंबित करने के महज 16 मिनट बाद ही अमानतुल्लाह खान ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए उन्हें बेकसूर घोषित कर दिया।

पिछले साल सीएए के नाम पर दिल्ली में हुई हिंसा के समय में भी उनके ऊपर हिंसा भड़काने का आरोप लगा था। नागरिकता कानून को लेकर हो रहे प्रदर्शन में AAP विधायक अमानतुल्लाह खान भी दिखाई दिए थे। जिसके कुछ समय बाद उस इलाके में हिंसा फैलने की खबर आई थी। वहीं प्रदर्शन के दौरान हुई आगजनी को मनीष सिसोदिया ने एक वीडियो शेयर किया था। मनीष सिसोदिया ने अमानतुल्लाह खान को बचाने के लिए दिल्ली पुलिस पर ही बसों में आग लगाने का आरोप लगा दिया था।

इसके साथ ही इन्होंने रविवार (मार्च 1, 2020) तड़के एक भड़काऊ ट्वीट करते हुए कहा कि दिल्ली के सोनिया विहार में स्थित अंबे चौहान मोहल्ला में दंगाइयों ने एक घर को आग के हवाले कर दिया है। हालाँकि, अग्निशमन विभाग ने इसका खंडन करते हुए कहा कि इस घर में दंगों के दौरान आग नहीं लगी।

‘भाईजान’ की लाश को 24 घंटे घर में रखा, मुआवजे की घोषणा होते ही कराया पोस्टमॉर्टम: ग्राउंड रिपोर्ट

‘हमने चूड़ियाँ नहीं पहनी हैं, हमें मालूम है अमन-ओ-अमान कैसे जाएगा’: AIMIM विधायक मो इस्माइल के जहरीले बोल

15 साल का नितिन जो चाउमिन लाने गया था… न खा सका, न खिला सका: दिल्ली हिंदू विरोधी दंगे की क्रूरता

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘दिखाता खुद को सेकुलर है, पर है कट्टर इस्लामी’ : हिंदू पीड़िता ने बताया आकिब मीर ने कैसे फँसाया निकाह के जाल में, ठगे...

पीड़िता ने ऑपइंडिया को बताया कि आकिब खुद को सेकुलर दिखाता है, लेकिन असल में वो है इस्लामवादी। उसने महिला से कहा हुआ था वह हिंदू देवताओं को न पूजे।

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -