Monday, July 4, 2022
Homeराजनीतिनुपुर शर्मा और नवीन जिंदल के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने दर्ज की FIR, सबा...

नुपुर शर्मा और नवीन जिंदल के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने दर्ज की FIR, सबा नकवी सहित कई और पर भी नफरत फैलाने का मामला

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को नोटिस जारी कर रिपोर्ट में नूपुर शर्मा द्वारा कथित विवादित टिप्पणी को लेकर दिल्ली पुलिस ने अब तक क्या-क्या एक्शन लिया है, इसका व्यौरा माँगा गया है।

पैगंबर मोहम्मद पर कथित विवादित टिप्पणी को लेकर भाजपा से निलंबित हो चुकीं नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल की मुसीबत बढ़ती जा रही है। जानकारी के मुताबिक राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग (एनसीएम) ने जहाँ इस मामले में दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर रिपोर्ट तलब किया। वहीं अब पता चला है कि बीजेपी के दोनों पूर्व नेताओं के ऊपर दिल्ली पुलिस द्वारा FIR दर्ज कर ली गई है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को नोटिस जारी कर रिपोर्ट में नूपुर शर्मा द्वारा कथित विवादित टिप्पणी को लेकर दिल्ली पुलिस ने अब तक क्या-क्या एक्शन लिया है, इसका ब्यौरा माँगा है। राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को नोटिस जारी कर 3 हफ्ते में पूरे मामले की रिपोर्ट माँगी है।

ऐसे में दिल्ली पुलिस की IFSO यूनिट ने अलग-अलग प्रावधानों के तहत समाज में नफरत फैलाने वालों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की है। एफआईआर में नुपूर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल के अलावा शादाब चौहान, सबा नकवी, मौलाना मुफ्ती नदीम, अब्दुर रहमान, गुलजार अंसारी, अनिल कुमार मीणा, पूजा शकुन का नाम शामिल है।

बता दें कि नूपुर शर्मा के खिलाफ मुंबई में भी रजा अकादमी की शिकायत पर FIR दर्ज हो चुका है और मुंबई पुलिस द्वारा नूपुर शर्मा को इस मामले में समन भी जारी किया गया है।

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पैगंबर मोहम्मद पर किए गए कथित विवादित टिप्पणी के लिए रविवार (5 जून, 2022) को राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा को पार्टी से निलंबित कर दिया था, वहीं दिल्ली इकाई के मीडिया प्रमुख नवीन कुमार जिंदल को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। यह यह भी उल्लेखनीय है कि बीजेपी ने अपने दोनों प्रवक्ताओं के खिलाफ यह कार्रवाई ऐसे समय में की है, जब उनके बयानों को लेकर सोशल मीडिया से लेकर विदेशों में भी विवाद खड़ा हो गया था और इस्लामिक देशों ने भारत को इसी मुद्दे पर घेरने की कोशिश की थी।

बता दें कि इस मुद्दे पर सोशल मीडिया से लेकर मीडिया में मचे बवाल के बाद बीजेपी ने अपने दोनों प्रवक्ताओं पर जहाँ एक्शन लिया था वहीं सोशल मीडिया पर तभी से नुपुर शर्मा को उनके सच बोलने की वजह से अपार जनसमर्थन भी मिल रहा है।

दरअसल, नूपुर शर्मा ने टाइम्स नाउ पर एक बहस के दौरान इस्लाम के संस्थापक पैगंबर मोहम्मद के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी की थी जबकि जिंदल ने उनके बारे में ट्विटर कर एक आपत्तिजनक पोस्ट किया था, हालाँकि जिसे उन्होंने बाद में डिलीट भी कर दिया था।

वहीं नुपुर शर्मा की क्लिप ऑल्ट न्यूज़ के मोहम्मद जुबैर ने वायरल कर दिया था लेकिन यह बात छिपा ली थी कि वह किस बात पपर प्रतिक्रिया दे रहीं थी। वहीं इन दोनों के वीडियो और ट्वीट की आलोचना करने के लिए पूरी मुस्लिम उम्माह और वामपंथी समूह उतर आया था। इन दोनों की टिप्पणियों पर कई मुस्लिम समूहों ने आपत्ति जताई थी और इसके खिलाफ वे हिंसक विरोध प्रदर्शन तक भी उतर गए। कानपुर मामले में अभी एक्शन जारी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

AG के पास पहुँचा TMC वाला साकेत गोखले, हमारे खिलाफ चलाना चाहता है अदालत की अवमानना का मामला: हम अपने शब्दों पर अब भी...

ऑपइंडिया की एडिटर नुपूर शर्मा के लेख की शिकायत लेकर टीएमसी नेता साकेत गोखले अटॉर्नी जनरल के पास गए हैं ताकि अदालत की अवमानना का केस चलवा सकें।

‘शौच करने गई थी, मोहम्मद जाकिर हुसैन सर पीछे-पीछे आ गए’: मिडिल स्कूल में शिक्षक ने नाबालिग छात्रा से की छेड़खानी, हुआ गिरफ्तार

बिहार के सुपौल में शिक्षक जाकिर हुसैन ने 7वीं कक्षा की लड़की के साथ छेड़छाड़ किया। परिजनों ने थाने में दर्ज कराया मामला। आरोपित गिरफ्तार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,064FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe