Tuesday, June 28, 2022
Homeराजनीति'जवान न बूथ के अंदर गए, न किसी को वोट डालने से रोका': ममता...

‘जवान न बूथ के अंदर गए, न किसी को वोट डालने से रोका’: ममता बनर्जी के आरोपों को EC ने बताया बेबुनियाद

आयोग ने ममता के लगाए सभी आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि वोटिंग के दौरान किसी तरह की कोई गड़बड़ी नहीं हुई।आयोग ने सबूत के तौर पर सीसीटीवी फुटेज का जिक्र भी किया।

नंदीग्राम में चुनाव के दौरान गड़बड़ी के आरोपों पर चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी को 6 पन्नों का जवाब भेजा है। ममता के आरोपों को बेबुनियाद बताया है। ममता ने नंदीग्राम के गोकुलनगर इलाके के एक पोलिंग बूथ पर हंगामा करते हुए आरोप लगाया था कि स्थानीय लोगों को वोट डालने से रोक जा रहा है। उन्होंने बूथ से ही राज्यपाल से बात कर इस मुद्दे पर संज्ञान लेने को कहा था। चुनाव आयोग ने ममता के आरोपों के बाद पूरी टाइमलाइन जारी की है और सबूत के तौर पर सीसीटीवी फुटेज का भी जिक्र किया है।

यह मामला 1 अप्रैल का है जब बंगाल में दूसरे चरण की 30 सीटों पर मतदान हुआ था। इनमें एक सीट नंदीग्राम की भी थी जहाँ मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और भाजपा के शुभेन्दु अधिकारी आमने-सामने हैं। वोटिंग के दौरान ही ममता गोकुलनगर इलाके के एक बूथ पर पहुँची थीं। इसके बाद टीएमसी के सदस्य उग्र होकर घूमने लगे। जवाब में ‘जय श्री राम’ के नारे लगे जिनसे ममता नाराज हो गईं और बूथ से ही राज्यपाल को फोन करके कहा कि उनके समर्थकों को वोट डालने से रोक जा रहा है।

केन्द्रीय सुरक्षा बलों पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा था कि जवान लोगों को वोट डालने से रोक रहे हैं। उन्होंने कहा कि वो सुबह से ही इलाके में हैं और देख रही हैं कि स्थानीय लोगों को वोट नहीं डालने दिया जा रहा है, इसीलिए वो अपील करती हैं कि राज्यपाल संज्ञान लें।

ममता बनर्जी के आरोपों का जवाब देते हुए चुनाव आयोग ने उन्हें ‘तथ्यात्मक रूप से गलत’ कहा है। आयोग ने यह भी कहा कि वह आदर्श आचार संहिता और जनप्रतिनिधित्व अधिनियम के तहत कार्रवाई पर भी विचार कर रहा है। आयोग ने सबूत के रूप में सीसीटीवी फुटेज का जिक्र किया और कहा कि ड्यूटी के दौरान केन्द्रीय बल के जवान न तो बूथ के अंदर गए और न ही उन्होंने किसी को वोट डालने से रोका।

चुनाव आयोग द्वारा ममता के आरोपों को नकारने के बाद भाजपा नेता सुनील देवधर ने ट्वीट कर कहा कि भारतीय चुनाव आयोग द्वारा ममता दीदी के झूठ का पर्दाफाश कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि बंगाल और नंदीग्राम में अपनी हार नजदीक देखर क्या अब ममता केन्द्रीय सुरक्षा बलों और चुनाव आयोग पर आरोप लगाएँगी? देवधर ने आगे पूछा कि आगे क्या वे बंगाल के लोगों पर भी दोषारोपण करेंगी? अपने ट्वीट में सुनील देवधर ने चुनाव आयोग के जवाब की कॉपी भी पोस्ट की है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अब AltNews वाला प्रतीक सिन्हा नपेगा? जिस ‘हनुमान भक्त’ के ट्वीट से मोहम्मद जुबैर की हुई गिरफ्तारी, वह ‘भगवान गणेश के अपमान’ पर भी...

मोहम्मद जुबैर की शिकायत करने वाले ट्विटर यूजर ने ऑल्ट न्यूज के सह-संस्थापक प्रतीक सिन्हा के खिलाफ भी कार्रवाई करने की पुलिस से माँग की है।

‘पवार’ पर 1 पोस्ट, 22 FIR ठोके- 40 दिन हिरोइन के जेल में बीते: अब कोर्ट में महाराष्ट्र पुलिस ने कहा- नहीं करेंगे गिरफ्तार

एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के कथित अपमान से जुड़े मामलों में मराठी अभिनेत्री केतकी चितले को बड़ी राहत मिली है। महाराष्ट्र पुलिस उनकी गिरफ्तारी नहीं करेगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,893FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe