Wednesday, July 17, 2024
Homeराजनीतिएक साथ 1.25 लाख लोगों ने किया योगाभ्यास, 'अंतरराष्ट्रीय योग दिवस' पर सूरत ने...

एक साथ 1.25 लाख लोगों ने किया योगाभ्यास, ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस’ पर सूरत ने बनाया गिनीज बुक वर्ल्ड रिकॉर्ड: CM भूपेंद्र पटेल का ऐलान – गुजरात में 51 नए योग स्टूडियो बनेंगे

सूरत द्वारा बनाए गए इस विश्व रिकॉर्ड के ऐतिहासिक अवसर पर 'गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड' के प्रतिनिधियों ने अधिकृत रूप से इसका ऐलान किया तथा गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल को रिकॉर्ड का प्रमाण पत्र सौंपा।

जब पूरी दुनिया उत्साह के साथ ‘विश्व योग दिवस’ मना रही है, तब गुजरात के सूरत शहर में 1.25 लाख लोगों ने एक साथ योगाभ्यास कर एक नया इतिहास रच दिया है। ‘मिनी इंडिया’ के नाम से पहचाने जाने वाले सूरत में एक साथ, एक ही स्थान पर 1.25 लाख नागरिकों के योग अभ्यास की इस ऐतिहासिक घटना को ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ में दर्ज किया गया है। बुधवार (21 जून, 2023) को सूरत के वाई जंक्शन में आयोजित राज्य स्तरीय योग कार्यक्रम में सुबह से ही लोगों का जमावड़ा होना शुरू हो गया था।

योग कार्यक्रम में वाई जंक्शन से लेकर SVNIT सर्किल तक और वाई जंक्शन से रत्नभूमि पार्टी प्लॉट तक 4-4 किलोमीटर तक तथा वाई जंक्शन से सूरत एयरपोर्ट गेट तक 4.5 किमी तक के दायरे सहित कुल 12.5 किमी के मार्ग पर प्रति किमी लगभग 10,000 लोगों समेत कुल 1,25,000 से अधिक नागरिकों ने योगाभ्यास किया। उल्लेखनीय है कि इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए जारी ऑनलाइन लिंक पर केवल एक ही दिन में एक लाख से अधिक लोगों ने रजिस्ट्रेशन कर लिया था।

भारत की प्राचीन परंपरा और संस्कृति की अमूल्य देन योग को बढ़ावा देने के लिए आयोजित इस कार्यक्रम में लोगों का उत्साह देखते ही बनता था। सूरत द्वारा बनाए गए इस विश्व रिकॉर्ड के ऐतिहासिक अवसर पर ‘गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड’ के प्रतिनिधियों ने अधिकृत रूप से इसका ऐलान किया तथा गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल को रिकॉर्ड का प्रमाण पत्र सौंपा। सूरत महानगर पालिका और जिला प्रशासन ने इस कार्यक्रम को लेकर पूरी तैयारियाँ की थीं।

लाखों लोगों की सुविधा के लिए समुचित बुनियादी व्यवस्थाएँ की गई थीं। आयोजन स्थल पर मोबाइल वैन के साथ चिकित्सकों की टीमें, पार्किंग, पेयजल और मोबाइल टॉयलेट का इंतजाम किया गया था। इस अवसर पर मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने कहा कि हमारी स्वास्थ्य धरोहर योग को वैश्विक स्वीकृति मिल चुकी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सार्थक प्रयासों से पूरी दुनिया में योगविद्या के प्रचलित होने से भारत माता को अनूठा गौरव मिला है।

उन्होंने कहा कि भारत की भव्य विरासत योग के कारण दुनिया में ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ की भावना अधिक मजबूत हुई है, जिसका श्रेय हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को जाता है। उन्होंने कहा कि स्वस्थ और तनाव मुक्त जीवन कैसे जिया जा सकता है, इसका बेहतरीन उदाहरण हमारे ऋषि-मुनियों और योगाचार्यों ने पूरी दुनिया को बताया है। सीएम पटेल ने कहा कि राज्य में योग को प्रोत्साहन देने के लिए राज्य सरकार ने योग बोर्ड की स्थापना की है, जिससे 5000 लोगों को रोजगार प्राप्त हुआ है।

उन्होंने इन प्रयासों को और आगे बढ़ाते हुए राज्य में 51 नए योग स्टूडियो के निर्माण की घोषणा भी की। ‘विश्व योग दिवस’ के अवसर पर पूरे गुजरात में सवा करोड़ से अधिक नागरिक ‘योगमय गुजरात’ अभियान में हर्षोल्लास के साथ शामिल हुए। गृह, युवक सेवा और सांस्कृतिक मंत्री श्री हर्ष संघवी ने कहा कि पूरी दुनिया विशाल जनभागीदारी के साथ योग दिवस मना रही है, तब सूरत में रचा गया इतिहास हम सभी के लिए गौरवशाली क्षण है।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष और सांसद श्री सीआर पाटिल ने उपस्थित लोगों से स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए जनसाधारण की पसंद बने योग को जीवन का एक हिस्सा बनाने का आग्रह किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री और अन्य अतिथियों ने योग के महत्व और इतिहास पर आधारित एक कॉफी टेबल बुक ‘योग’ का विमोचन किया और योग अवॉर्ड प्रदान किए। योग बोर्ड के चेयरमैन शीशपाल राजपूत ने कॉमन योग प्रोटोकॉल अभ्यास कराया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सरकारी नौकरियों में अग्निवीरों को 10% आरक्षण: हरियाणा के CM सैनी का ऐलान- आयुसीमा में भी मिलेगी छूट, बंदूक का लाइसेंस भी मिलेगा

हरियाणा के सीएम सैनी ने कहा कि राज्य में अग्निवीरों को पुलिस भर्ती और माइनिंग गार्ड समेत कई अन्य पदों की भर्ती में 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा।

12वीं पास को ₹6000, डिप्लोमा वाले को ₹8000, ग्रेजुएट को ₹10000: क्या है महाराष्ट्र की ‘लाडला भाई योजना’, कैसे और किनको मिलेगा फायदा?

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने 'लाडला भाई योजना' की घोषणा की है। इस लाडला भाई योजना में युवाओं को फैक्ट्रियों में अप्रेंटिसशिप मिलेगी और सरकार की तरफ से उन्हें वजीफा दिया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -