Monday, August 2, 2021
Homeराजनीतिअमित शाह की वो एक लाइन... और राजनीति कर रहीं ममता बनर्जी को कहना...

अमित शाह की वो एक लाइन… और राजनीति कर रहीं ममता बनर्जी को कहना पड़ा – Thank You

"मैंने अमित शाह से कहा, अगर आपको लगता है कि पश्चिम बंगाल अपने दम पर सब कुछ मैनेज नहीं कर सकता है, तो आप आइए और संभालिए। इस पर अमित शाह ने कहा कि चुनी हुई सरकार को हम कैसे तोड़ सकते हैं। यह कहने के लिए मैं उन्हें धन्यवाद देती हूँ।"

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने एक बार फिर केंद्र सरकार के खिलाफ जहर उगला है। कोरोना वायरस महामारी के बीच पश्चिम बंगाल सरकार की अक्षमता पर गृह मंत्रालय कई बार उन्हें सतर्क कर चुका है, जिससे बौखला कर ममता बनर्जी ने गृह मंत्री अमित शाह को कहा कि उन्हें आकर बंगाल को सम्भालना चाहिए।

बुधवार (मई 27, 2020) को बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कहा – “मैंने अमित शाह से कहा, अगर आपको लगता है कि पश्चिम बंगाल अपने दम पर सब कुछ मैनेज नहीं कर सकता है, तो आप आइए और संभालिए। इस पर अमित शाह ने कहा कि चुनी हुई सरकार को हम कैसे तोड़ सकते हैं। यह कहने के लिए मैं उन्हें धन्यवाद देती हूँ।”

ममता बनर्जी ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा- “मैंने प्रधानमंत्री और गृह मंत्री से अपील की है वे स्थिति पर गौर करें। मैं चाहती हूँ कि प्रधानमंत्री इस मामले में हस्‍तक्षेप करें। यह राजनीति करने का समय नहीं है। बिहार समेत बीजेपी शासित अन्‍य राज्‍यों में कोरोना वायरस के केस बढ़ रहे हैं। भारत एक देश है। कोरोना वायरस को फैलने से रोकना चाहिए।”

इसके साथ ही भरतीय रेलवे को निशाना बनाते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि रेलवे प्रवासी श्रमिकों के लिए विशेष रेलगाड़ियाँ अपनी मर्जी और शर्तों पर चला रहा है। इससे कोरोना वायरस के मामले बढ़ेंगे ही। उन्होंने कहा, “मैं नहीं जानती कि रेल मंत्रालय ऐसा क्‍यों कर रहा है। हम दो लाख प्रवासी मजदूरों की जाँच किस तरह करेंगे? क्‍या केंद्र मदद करेगा?”

ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी उन्हें राजनीतिक रूप से परेशान कर सकती है लेकिन वो राज्य को क्यों नुकसान पहुँचा रहे हैं? साथ ही रेलवे पर आरोप लगाते हुए उन्होंने कहा कि आप महाराष्‍ट्र को खाली कर रहे हैं और बंगाल में कोरोना फैला रहे हैं।

केंद्र सरकार से लगातार टकराव कर रही हैं ममता

उल्लेखनीय है कि हाल ही में अम्फान तूफान से हुई भारी तबाही का जायजा लेने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल गए थे। उन्होंने हवाई सर्वेक्षण कर प्रभावित इलाकों का जायजा लिया। ममता बनर्जी समेत राज्य अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की। फिर, हालातों को देखते हुए बंगाल को दोबारा खड़ा करने के लिए ₹1000 करोड़ के राहत पैकेज का ऐलान किया।

पीएम मोदी के इस त्वरित फैसले की तारीफ देश भर में हुई। लेकिन, ममता बनर्जी ने बैठक समाप्त होने के कुछ देर बाद ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिए राहत पैकेज पर सवाल खड़ा कर दिया। उन्होंने आरोप लगाया कि PM ने 1 हजार करोड़ रुपए का राहत पैकेज घोषित जरूर किया, लेकिन यह स्पष्ट नहीं किया कि उनके द्वारा दिया गया 1 हजार करोड़ रुपए एडवांस है या पैकेज है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,544FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe