Monday, June 27, 2022
HomeराजनीतिDMK सुप्रीमो स्टालिन के दामाद के 4 ठिकानों पर IT रेड, ससुर के हैं...

DMK सुप्रीमो स्टालिन के दामाद के 4 ठिकानों पर IT रेड, ससुर के हैं सबसे करीबी सलाहकार: पार्टी ने बताया राजनीति से प्रेरित

सबारेसन को अपने ससुर MK स्टालिन का सबसे करीबी सहयोगी और सलाहकार माना जाता है। साथ ही वो पार्टी के प्रमुख रणनीतिकारों में से भी एक हैं। सबारेसन के इंजीनियरिंग कॉलेज में भी छापेमारी हुई।

तमिलनाडु में DMK (द्रविड़ मुनेत्र कड़गम) के मुखिया MK स्टालिन के दामाद सबारेसन के आवास और दफ्तर स्थित 4 ठिकानों पर आयकर (IT) विभाग ने शुक्रवार (अप्रैल 2, 2021) को छापेमारी की। वो तमिलनाडु के दिवंगत मुख्यमंत्री करूणानिधि की पोती सेंथराइ के पति हैं। सबारेसन के जिस घर पर छापेमारी हुई, वो राजधानी चेन्नई के ईस्ट कोस्ट रोड के नीलंकरई में स्थित है। उनके ठिकानों पर छापेमारी अभी भी जारी है।

वहीं उनका दफ्तर तेनमपेट में स्थित है। बताया जा रहा है कि IT विभाग इन दोनों ठिकानों के अलावा दो अन्य जगहों पर भी छापेमारी कर रहा है। सबारेसन को MK स्टालिन का सबसे करीबी सहयोगी और सलाहकार माना जाता है। साथ ही वो पार्टी के प्रमुख रणनीतिकारों में से भी एक हैं। वो कई सालों से ये भूमिका निभा रहे हैं, लेकिन मीडिया से दूर लो प्रोफाइल इमेज ही मेंटेन करने में विश्वास रखते हैं।

इनकम टैक्स के करीब 25 अधिकारी सबारेसन और सेंथराइ के ठिकानों पर तलाशी अभियान चला रहे हैं। शुक्रवार की सुबह से ही ये कार्रवाई चालू है। सबारेसन गुरुवार को कोयम्बटूर में थे लेकिन छापेमारी की खबर के बाद वो चेन्नई लौट आए हैं। इससे पहले तिरुवन्नामलाई में DMK के बड़े नेता EV वेलु के ठिकानों पर छापेमारी हुई थी। वेलु वहाँ से चुनाव लड़ रहे हैं। जब ये छापेमारी हुई, तब स्टालिन उसी क्षेत्र में उनके लिए चुनाव प्रचार कर रहे थे।

वेलु ने 1993 में अरुणाई इंजीनियरिंग कॉलेज की स्थापना की थी। वहाँ भी छापेमारी हुई। इसके अलावा उनके गेस्ट हाउस में भी तलाशी अभियान चलाया गया था, जहाँ एमके स्टालिन रुके थे। DMK का कहना है कि स्टालिन जिस कमरे में रुके थे, उसमें रेड डालना अलोकतांत्रिक और अनुचित है। पार्टी ने इसे राजनीतिक रूप से प्रेरित कार्रवाई बताते हुए कहा कि IT विभाग को वहाँ कुछ नहीं मिला। पार्टी ने आरोप लगाया कि भाजपा इन संस्थानों का राजनीतिक धमकी के लिए उपयोग कर रही है।

तमिलनाडु में अप्रैल 6 को विधानसभा चुनाव होने हैं और मुख्य मुकाबला DMK व सत्ताधारी AIADMK में है। जहाँ DMK ने कॉन्ग्रेस को साझीदार बनाया है, वहीं AIADMK राजग गठबंधन का हिस्सा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मौसी फ़िलहाल तमिलनाडु में ही चुनाव प्रचार कर रहे हैं और 1 दिन पहले ही उन्होंने मिनाक्षी मंदिर में पूजा-अर्चना की है। ओपिनियन पोल्स में स्टालिन की पार्टी को बहुमत मिलते हुए दर्शाया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बाबा बिरयानी के 6 रेस्टॉरेंट्स सील, कानपुर के पत्थरबाजों को फंडिंग करने वाला मुख्तार है मालिक: केमिकल मिलाकर बेचता था बिरयानी, फूड लाइसेंस भी...

कानपुर जिला प्रशासन ने कड़ी कार्रवाई करते हुए बाबा बिरयानी की रेवमोती मॉल, रूपनगर समेत 6 रेस्टॉरेंट्स को सील कर दिया है।

मदरसाछाप सोच पर यूनेस्को की भी मुहर: रिपोर्ट में बताया- मदरसों में जिनकी तालीम, उनके लिए औरतें बच्चों की मशीन

यूनेस्को ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि मदरसा में शिक्षित लोगों का महिलाओं के प्रति नजरिये में कोई विशेष बदलाव नहीं होता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,774FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe