Tuesday, June 18, 2024
Homeराजनीतिसत्येंद्र जैन के मसाज को AAP ने बताया फिजियोथेरेपी तो भड़की मेडिकल संस्था, IAP...

सत्येंद्र जैन के मसाज को AAP ने बताया फिजियोथेरेपी तो भड़की मेडिकल संस्था, IAP ने कहा – देश भर के डॉक्टर करें विरोध: कोर्ट पहुँचे सत्येंद्र जैन के वकील इरशाद

वायरल वीडियो से जुड़े एक अन्य घटनाक्रम में सत्येंद्र जैन ED के खिलाफ कोर्ट पहुँच गए हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि कोर्ट में शपथ पत्र जमा करने के बाद भी प्रवर्त्तन निदेशालय (ED) ने इसे लीक कर दिया है।

दिल्ली की तिहाड़ जेल में भ्रष्टाचार के आरोप में बंद अरविंद केजरीवाल सरकार के मंत्री सत्येंद्र जैन का वीडियो वायरल हुआ है। वायरल वीडियो में उन्हें जेल में ही मसाज कराते हुए देखा जा सकता है। वहीं आम आदमी पार्टी की तरफ से सफाई में इसे सत्येंद्र जैन की बीमारी बताते हुए फिजियोथेरेपी बताया गया है। AAP के इस फिजियोथेरेपी वाले दावे को तिहाड़ जेल प्रशासन और भारतीय फिजियोथेरेपी एसोशिएशन ने सामूहिक रूप से नकार दिया है। वहीं अपना वीडियो वायरल होने से नाराज सत्येंद्र जैन कोर्ट पहुँच गए हैं।

‘इंडियन एसोशिएशन ऑफ़ फिजियोथेरेपी’ के चीफ डॉक्टर संजीव झा ने उन दावों का खंडन किया है, जिसमें तिहाड़ के वायरल वीडियो में सत्येंद्र जैन की मालिश को उपचार बताया जा रहा है। IAP इंडिया ऑफिसियल हैंडल से वीडियो जारी करते हुए संजीव झा ने बताया कि फुटेज में जो कुछ भी दिख रहा है उसे फिजियोथेरेपी नहीं कहा जा सकता। संजीव झा ने इस हरकत की निंदा करते हुए इसे फिजियोथेरेपी का अपमान बताया है। वीडियो में हो रही गतिविधि को फिजियोथेरेपी बताने वालों से डॉक्टर संजीव झा ने माफ़ी माँगने के लिए कहा है।

इसी वीडियो में संजीव झा ने आगे कहा है कि मैं विनती करता हूँ भारत के सभी फिजियोथेरपी वाले डॉक्टर एकजुट हो कर ऐसी खबरों का विरोध करें। IAP चीफ ने आगे कहा कि फिजियोथेरेपी बाकायदा परीक्षण आदि की प्रक्रियाओं से की जाती है।

गौरतलब है कि दिल्ली सरकार के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने सतेंद्र जैन के वीडियो को फिजियोथेरेपी बताया था। 19 नवम्बर को उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “सत्येंद्र जैन के स्पाइन-इंजरी के दो ऑपरेशन हुए हैं। उनको डॉक्टर ने रेगुलर फ़िज़ियोथेरेपी बताई है। कोविड के बाद से उनके फेंफड़े में पैच है जो अभी ठीक नहीं हुआ है। किसी आदमी की बीमारी और उसको दिए जा रहे इलाज का मज़ाक़ बनाने की सोच ही बहुत घटिया है।”

कोर्ट पहुँचे सत्येंद्र जैन

वायरल वीडियो से जुड़े एक अन्य घटनाक्रम में सत्येंद्र जैन ED के खिलाफ कोर्ट पहुँच गए हैं। उन्होंने आरोप लगाया है कि कोर्ट में शपथ पत्र जमा करने के बाद भी प्रवर्त्तन निदेशालय (ED) ने इसे लीक कर दिया है।

सत्येंद्र जैन के वकील मोहम्मद इरशाद ने जानकारी देते हुए बताया है कि इस मामले पर कोर्ट सोमवार (21 नवम्बर, 2022) को सुनवाई करेगा। अधिवक्ता इरशाद के मुताबिक ED को कोर्ट में बताना पडेगा कि जेल के अंदर का वीडियो भाजपा वालों तक कैसे पहुँचा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘माँ गंगा ने मुझे गोद ले लिया है, मैं काशी का हो गया हूँ’: 9 करोड़ किसानों के खाते में पहुँचे ₹20000 करोड़, 3...

"गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो - ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।"

दलितों का गाँव सूना, भगवा झंडा लगाने पर महिला का घर तोड़ा… पूर्व DGP ने दिखाया ममता बनर्जी के भतीजे के क्षेत्र का हाल,...

दलित महिला की दुकान को तोड़ दिया गया, क्योंकि उसके बेटे ने पंचायत चुनाव में भाजपा की तरफ से चुनाव लड़ा था। पश्चिम बंगाल में भयावह हालात।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -