Thursday, May 23, 2024
Homeराजनीतिरेड में ED को मिली थी जो BMW वह हेमंत सोरेन की ही, झारखंड...

रेड में ED को मिली थी जो BMW वह हेमंत सोरेन की ही, झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री ने कबूला: एजेंसी ने 8.86 एकड़ जमीन भी जब्त की

हेमंत सोरेन की इस BMW गाड़ी को दिल्ली में स्थित झारखंड भवन में तैनात एक चालक चलाता था। उससे भी ED ने पूछताछ की है। चालक ने इस दौरान स्वीकार किया कि वह BMW हेमंत सोरेन की निजी गाड़ी है, वह इसका उपयोग दिल्ली में करते थे।

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने प्रवर्तन निदेशालय (ED) के सामने स्वीकार किया है कि दिल्ली में छापेमारी में बरामद हुई नीले रंग की BMW गाड़ी उनकी ही है। उन्होंने बताया है कि उनके दिल्ली स्थित आवास पर छापेमारी से पहले उन्होंने इस गाड़ी का उपयोग किया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हेमंत सोरेन ने ED को बताया कि दिल्ली से जब्त नीले रंग की BMW की SUV गाड़ी उनके निजी काम के लिए थी। यह गाड़ी हरियाणा के गुरुग्राम में पंजीकृत है। इसे खरीदने के लिए सोरेन खुद ही BMW के शोरूम में गए थे। उन्होंने यह भी बताया कि 28 जनवरी, 2024 को वह इसी गाड़ी से दिल्ली स्थित अपने आवास से निकले थे।

हेमंत सोरेन की इस BMW गाड़ी को दिल्ली में स्थित झारखंड भवन में तैनात एक चालक चलाता था। उससे भी ED ने पूछताछ की है। चालक ने इस दौरान स्वीकार किया कि वह BMW हेमंत सोरेन की निजी गाड़ी है, वह इसका उपयोग दिल्ली में करते थे।

ED द्वारा जब्त की गई यह BMW भगवानदास होल्डिंग नाम की एक कम्पनी के साथ रजिस्टर्ड है। 29 जनवरी, 2024 को यह गाड़ी ED अपने साथ ले गई थी। ED दिल्ली स्थित आवास पर हेमंत सोरेन की तलाश में आई थी। इस गाड़ी के कॉन्ग्रेस सांसद और शराब कारोबारी धीरज साहू से लिंक होने की भी बात सामने आई थी।

एक रिपोर्ट में बताया गया था कि धीरज साहू ने ही इस गाड़ी के लिए भुगतान किया था। बताया गया था कि जिस कम्पनी के नाम पर यह गाड़ी रजिस्टर्ड है, उसका धीरज साहू से सम्बन्ध है। यह जिस पते पर रजिस्टर्ड थी वह धीरज साहू की सम्पत्ति है। इस मामले में ED ने साहू से भी पूछताछ की थी।

गौरतलब है कि साहू वही कारोबारी और सांसद हैं जिनके ठिकानों पर 2023 में छापेमारी के बाद आयकर विभाग को ₹350 करोड़ से अधिक की नकदी बरामद हुई थी। यह छापेमारी ओडिशा, बंगाल और झारखंड स्थित उनके ठिकानों पर हुई थी।

ED ने इस दौरान हेमंत सोरेन से पूछताछ में उस जमीन के बारे में भी पूछा जिसके कारण वह गिरफ्तार हैं। यह जमीन राँची के बरियातू में है। इसकी बाजार कीमत ₹31 करोड़ बताई जाती है। हेमंत सोरेन ने इस जमीन के विषय में कोई भी जानकारी होने इनकार किया। मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि ED ने यह 8.86 एकड़ जमीन जब्त भी कर ली है।

गौरतलब है कि ED ने 31 जनवरी, 2024 को झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को गिरफ्तार कर लिया था। उन्हें इससे पहले भी एजेंसी ने 9 समन भेजे थे लेकिन वह इन पर हाजिर नहीं हुए थे। ED ने इसके बाद उन्हें राँची स्थित आवास से गिरफ्तार किया था। सोरेन पर आरोप है कि उन्होंने गड़बड़ी से करोड़ों की जमीन हथियाई।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मी लॉर्ड! भीड़ का चेहरा भी होता है, मजहब भी होता है… यदि यह सच नहीं तो ‘अल्लाह-हू-अकबर’ के नारों के साथ ‘काफिरों’ पर...

राजस्थान हाईकोर्ट के जज फरजंद अली 18 मुस्लिमों को जमानत दे देते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि चारभुजा नाथ की यात्रा पर इस्लामी मजहबी स्थल के सामने हमला करने वालों का कोई मजहब नहीं था।

‘प्यार से माँगते तो जान दे देती, अब किसी कीमत पर नहीं दूँगी इस्तीफा’: स्वाति मालीवाल ने राज्यसभा सीट छोड़ने से किया इनकार

आम आदमी पार्टी की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने अब किसी भी हाल में राज्यसभा से इस्तीफा देने से इनकार कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -