Wednesday, July 17, 2024
Homeराजनीतिमौत का सौदागर से लेकर जहरीला साँप तक, अमित शाह ने कर्नाटक को याद...

मौत का सौदागर से लेकर जहरीला साँप तक, अमित शाह ने कर्नाटक को याद दिलाया PM मोदी का अपमान: कहा- कॉन्ग्रेस की मति मारी गई है

"सोनिया गाँधी उन्हें मौत का सौदागर कहती हैं। प्रियंका गाँधी 'नीची जाति के लोग' कहती हैं और ये खड़गे कहते हैं 'विषैला साँप'। अरे, कॉन्ग्रेस वालों आपकी मति मारी गई है। मोदी जी को जितना गाली दोगे, कमल उतने ही अच्छे से खिलकर बाहर आने वाला है।"

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘जहरीला साँप’ बताने पर काॅन्ग्रेस घिरती जा रही है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कर्नाटक के नवलगुंड में शुक्रवार (28 अप्रैल 2023) को चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने लोगों को काॅन्ग्रेस द्वारा प्रधानमंत्री के किए गए अपमान याद दिलाए। उन्होंने मौत का सौदागर से लेकर जहरीला साँप तक काॅन्ग्रेस नेताओं के बयान का जिक्र किया।

काॅन्ग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने गुरुवार को प्रधानमंत्री को जहरीला साँप बताया था। इसका जवाब देते हुए शाह ने कहा कि पूरी दुनिया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) की सराहना और सम्मान करती है। लेकिन कॉन्ग्रेस पार्टी के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, सोनिया गाँधी और प्रियंका गाँधी उनका अपमान करते रहते हैं। मल्लिकार्जुन खड़गे ने हमारे पीएम को ‘जहरीला साँप’ कहा और सोनिया गाँधी उन्हें मौत का सौदागर कहती हैं।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, “विगत 9 सालों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरी दुनिया में देश का सम्मान बढ़ाया। भारत को समृद्ध करने का काम किया। देश के इंफ्रास्टक्चर को मजबूत बनाया। देश की सीमाओं को सुरक्षित किया। वे दुनिया में जहाँ-जहाँ जाते हैं, जनता मोदी-मोदी के नारे लगाकर उनका स्वागत करती है। पूरी दुनिया जिस प्रधानमंत्री का सम्मान करती है। ये कॉन्ग्रेस के अध्यक्ष खड़गे उन्हें ‘जहरीला साँप’ जैसे कहते हैं।”

शाह ने कहा, “मैं यहाँ आपसे पूछने आया हूँ कि मोदी जी कि तुलना साँप से करने वाली कॉन्ग्रेस पार्टी को आप चुनाव में जीता सकते हैं क्या? बताइए। कॉन्ग्रेस पार्टी हमारे खिलाफ नारे लगाती है। सोनिया गाँधी उन्हें मौत का सौदागर कहती हैं। प्रियंका गाँधी नीची जाति के लोग कहती हैं और ये खड़गे कहते हैं ‘विषैला साँप’। अरे, कॉन्ग्रेस वालों आपकी मति मारी गई है। मोदी जी को जितना गाली दोगे, कमल उतने ही अच्छे से खिलकर बाहर आने वाला है। आप मोदी जी को गाली देकर, कर्नाटक की जनता को नहीं बहका सकते हैं। मोदी जी को गाली देने से कॉन्ग्रेस का भला नहीं होने वाला। धूल आपके चेहरे पर जमी है, आइना साफ करने से कुछ नहीं होगा।”

गौरतलब है कि मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) ने कलबुर्गी में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था, “पीएम मोदी ‘जहरीले साँप’ की तरह हैं। आप सोच सकते हैं कि यह जहर है या नहीं। यदि आप इसे चाटते हैं, तो आप मर मर जाएँगे।” इस बयान पर विवाद होने के बाद खड़गे ने सफाई देते हुए कहा था कि उन्होंने प्रधानमंत्री को जहरीला साँप नहीं कहा था। उल्लेखनीय है कि कर्नाटक में विधानसभा चुनाव के लिए 10 मई को मतदान होना है। वोटों की गिनती 13 मई को होगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अमेरिकी राजनीति में नहीं थम रहा नस्लवाद और हिंदू घृणा: विवेक रामास्वामी और तुलसी गबार्ड के बाद अब ऊषा चिलुकुरी बनीं नई शिकार

अमेरिका में भारतीय मूल के हिंदू नेताओं को निशाना बनाया जाना कोई नई बात नहीं है। निक्की हेली, विवेक रामास्वामी, तुलसी गबार्ड जैसे मशहूर लोग हिंदूफोबिया झेल चुके हैं।

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -