Tuesday, May 21, 2024
Homeराजनीतिपहले दिनभर अडानी-अंबानी को देते रहते थे गाली, चुनावों की घोषणा के बाद नाम...

पहले दिनभर अडानी-अंबानी को देते रहते थे गाली, चुनावों की घोषणा के बाद नाम भी नहीं ले रहे: PM मोदी ने पूछा- शहजादे बताएँ कितने पैसे मिले

राहुल गाँधी पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा, "जब से चुनाव घोषित हुआ है इन्होंने अंबानी-अडानी को गाली देना बंद कर दिया। अब शहजादे ये घोषित करें कि इस चुनाव में अंबानी-अडानी से उन्होंने कितना माल उठाया है। काले धन के कितने रूपये भर के मारे हैं? क्या टेम्पो भर के नोटें कॉन्ग्रेस के लिए पहुँची हैं? क्या सौदा हुआ है? आपने रातों-रात अंबानी-अडानी को गाली देना बंद कर दिया।"

लोकसभा चुनाव 2024 के प्रचार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार (8 मई 2024) को तेलंगाना के करीमनगर पहुँचे। इस एक जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कॉन्ग्रेस, राहुल गाँधी और गाँधी परिवार पर जमकर निशाना साधा। प्रधानमंत्री ने कहा कि कॉन्ग्रेस ने अपनी पार्टी के नेता एवं देश के पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिम्हाराव के पार्थिव शरीर का भी अपमान किया।

पीएम मोदी ने गाँधी परिवार पर आरोप लगाया कि कॉन्ग्रेस में ‘फैमिली फर्स्ट’ की नीति है। उन्होंने कहा, “फैमिली फर्स्ट की वजह से कॉन्ग्रेस ने पीवी नरसिम्हाराव जी का भी अपमान किया। उनके निधन के बाद उनके पार्थिव शरीर का भी अपमान किया। कॉन्ग्रेस दफ्तर में एंट्री तक नहीं दी। ये बीजेपी-एनडीए सरकार है, जिसने पीवी नरसिम्हाराव जी को भारत रत्न से सम्मानित किया।”

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, “मुझे मेरे लिए बहुत सुखद है कि कल ही मुझे उनके पूरे परिवार के साथ मुलाकात करने का, पीवी नरसिम्हाराव जी के बारे में बहुत कुछ सुनने का सौभाग्य मिला। बहुत देर तक उनके परिवार के दो-दो, तीन-तीन पीढ़ी के साथ मैं बैठा। मैं गर्व महसूस कर रहा था कि एक परिवार ने… नरसिम्हाराव जी ने देश के लिए कितना कुछ किया और कॉन्ग्रेस ने उनके साथ कैसा व्यवहार किया।”

राहुल गाँधी पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा, “कॉन्ग्रेस के शहजादे पिछले पाँच साल से सुबह उठते ही माला जपना शुरू कर देते हैं। जब से उनका राफेल वाला मामला ग्राउंडेड हो गया, तब से उन्होंने एक नई माला जपना शुरू किया। पाँच साल से एक ही माला जपते थे। पाँच उद्योगपति… पाँच उद्योगपति… पाँच उद्योगपति। फिर धीरे-धीरे कहने लगे अंबानी-अडानी… अंबानी-अडानी… अंबानी-अडानी।”

प्रधानमंत्री ने आगे कहा, “लेकिन, जब से चुनाव घोषित हुआ है इन्होंने अंबानी-अडानी को गाली देना बंद कर दिया। अब शहजादे ये घोषित करें कि इस चुनाव में अंबानी-अडानी से उन्होंने कितना माल उठाया है। काले धन के कितने रूपये भर के मारे हैं? क्या टेम्पो भर के नोटें कॉन्ग्रेस के लिए पहुँची हैं? क्या सौदा हुआ है? आपने रातों-रात अंबानी-अडानी को गाली देना बंद कर दिया।”

पीएम मोदी ने राहुल गाँधी से पूछा, “जरूर दाल में कुछ काला है। पाँच साल तक अंबानी-अडानी को गाली दी और रातों-रात अब बंद हो गई। मतलब कोई ना कोई चोरी का माल टेम्पो भर-भर के आपने पाया है। इसका जवाब आपको देश को देना पड़ेगा।” बता दें कि राहुल गाँधी प्रधानमंत्री मोदी पर उद्योगपति मुकेश अंबानी और गौतम अडानी को फायदा पहुँचाने का आरोप लगाते रहे हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ से लड़ रही लालू की बेटी, वहाँ यूँ ही नहीं हुई हिंसा: रामचरितमानस को गाली और ‘ठाकुर का कुआँ’ से ही शुरू हो...

रामचरितमानस विवाद और 'ठाकुर का कुआँ' विवाद से उपजी जातीय घृणा ने लालू यादव की बेटी के क्षेत्र में जंगलराज की यादों को ताज़ा कर दिया है।

निजी प्रतिशोध के लिए हो रहा SC/ST एक्ट का इस्तेमाल: जानिए इलाहाबाद हाई कोर्ट को क्यों करनी पड़ी ये टिप्पणी, रद्द किया केस

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने एक मामले की सुनवाई करते हुए SC/ST Act के झूठे आरोपों पर चिंता जताई है और इसे कानून प्रक्रिया का दुरुपयोग माना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -