Saturday, July 20, 2024
Homeराजनीतिफहराया उलटा तिरंगा, केरल के मंत्री अहमद ने सैल्यूट भी किया: शिकायत होने पर...

फहराया उलटा तिरंगा, केरल के मंत्री अहमद ने सैल्यूट भी किया: शिकायत होने पर दोबारा हुआ कार्यक्रम

तिरंगे के खुलते ही कुछ पत्रकारों ने इस गलती को नोटिस किया और अधिकारियों को इस संबंध में सूचित किया। इसके बाद मंत्री ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए जिला पुलिस अध्यक्ष से फौरन कार्यक्रम रुकवाकर राष्ट्रीय ध्वज को सही से फहराने के लिए कहा।

केरल के कासरगोड़ जिला प्रभारी मंत्री अहमद देवरकोविल को गणतंत्र दिवस के मौके पर शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा। 26 जनवरी के अवसर पर अहमद को अपनी फजीहत उस समय महसूस हुई जब उन्होंने राष्ट्रीय ध्वज को फहराया लेकिन तिरंगा उलटा फहरा। शर्मिंदगी की बात ये है कि बंदरगाह मंत्री एवं जिला पुलिस प्रमुख वैभव सक्सेना, प्रभारी जिला कलेक्टर एडीएम एके रामेंद्रन और अन्य पुलिस अधिकारियों ने उलटे तिरंगे को ही सैल्यूट कर दिया। ये पूरी घटना विद्यानगर के कासरगोड़ नगर निगम स्टेडियम में घटी।

हालाँकि तिरंगे के खुलते ही कुछ पत्रकारों ने इस गलती को नोटिस किया और अधिकारियों को इस संबंध में सूचित किया। इसके बाद मंत्री ने अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए जिला पुलिस अध्यक्ष से फौरन कार्यक्रम रुकवाकर राष्ट्रीय ध्वज को सही से फहराने के लिए कहा। 10 मिनट के अंदर तिरंगा नीचे उतारा गया। सही से लगाया गया और फिर गणतंत्र दिवस समारोह में दोबारा राष्ट्रीय ध्वज फहराया गया। अब इस संबंध में जिला पुलिस प्रमुख सक्सेना कन्नूर रेंज के उप महानिरीक्षक राहुल आर नायर को अपनी रिपोर्ट सौंपेगें।

उल्लेखनीय है कि उलटा झंडा फहराने की ये पहली घटना नहीं है। मध्य प्रदेश के शिवपुरी के खनियाधाना में शासकीय माध्यमिक विद्यालय में भी शिक्षकों ने उलटे झंडे को फहराया। अब इस घटना की वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर हो रही है। बता दें कि 1 नवंबर, 2021 को कर्नाटक के मंगलुरु में राज्योत्सव समारोह के दौरान, बंदरगाह मंत्री और पड़ोसी दक्षिण कन्नड़ जिले के प्रभारी मंत्री एस अंगारा ने भी राष्ट्रीय ध्वज को उल्टा फहराया था। इसके बाद वो खुद को स्टेज पर वापस आ गए थे, मगर अधिकारियों ने इ गलती को सुधारा था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फैक्ट चेक’ की आड़ लेकर भारत में ‘प्रोपेगेंडा’ फैलाने की तैयारी कर रहा अमेरिका, 1.67 करोड़ रुपए ‘फूँक’ तैयार कर रहा ‘सोशल मीडिया इन्फ्लूएंसर्स’...

अमेरिका कथित 'फैक्ट चेकर्स' की फौज को तैयार करने की योजना को चतुराई से 'डिजिटल लिटरेसी' का नाम दे रहा है, लेकिन इनका काम होगा भारत में अमेरिकी नरेटिव को बढ़ावा देना।

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -