Monday, May 20, 2024
Homeराजनीतिलोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में 21 राज्य-केंद्रशासित प्रदेशों के 102 सीटों पर...

लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में 21 राज्य-केंद्रशासित प्रदेशों के 102 सीटों पर मतदान: 8 केंद्रीय मंत्री, 2 Ex CM और एक पूर्व राज्यपाल समेत मैदान में 1625 प्रत्याशी

19 अप्रैल को लोकसभा की 102 सीटों पर मतदान होना है। इन सीटों पर चुनाव प्रचार का शोर थम चुका है। इन सीटों पर 8 केंद्रीय मंत्रियों, 2 पूर्व मुख्यमंत्रियों और एक राज्यपाल समेत कुल 1625 उम्मीदवार मैदान में हैं।

लोकसभा चुनाव 2024 में शुक्रवार (19 अप्रैल 2024) को पहले चरण के लिए 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 102 संसदीय सीटों पर मतदान होगा। इन सभी लोकसभा एवं विधानसभा सीटों के लिए बुधवार शाम को चुनाव प्रचार थम गया। इसके साथ ही अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम राज्य की 92 विधानसभा सीटों पर भी शुक्रवार को मतदान कराया जाएगा। हालाँकि सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश विधानसभा के नतीजे 2 जून को ही आ जाएँगे। चुनाव आयोग ने इसके लिए सारी तैयारियाँ पूरी कर ली हैं।

21 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में मतदान

चुनाव आयोग के मुताबिक, लोकसभा चुनाव के पहले चरण में उत्तर प्रदेश की 8 लोकसभा सीटों, अरुणाचल प्रदेश की 2, असम की 14, बिहार की चार, छत्तीसगढ़ की 11, मध्य प्रदेश छह सीट, महाराष्ट्र की पाँच, मणिपुर की दो सीट, मेघालय की सभी दो सीट, मिजोरम की एक, सिक्किम की एक, नगालैंड की एक, राजस्थान की 12, तमिलनाडु की सभी 39, त्रिपुरा की एक सीट, लक्षद्वीप की इकलौती, पुडुचेरी की इकलौती सीट, उत्तराखंड की सभी पाँच, पश्चिम बंगाल की तीन, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह की इकलौती सीट और जम्मू-कश्मीर की एक लोकसभा सीट पर मतदान की प्रक्रिया पूरी कराई जाएगी। मतदान सुबह 8 बजे से शुरू होगा और 6 बजे तक चलेगा। 6 बजे के बाद जो लोग लाइन में होंगे, वो देर तक मतदान करते रहेंगे।

इस दौरान 18 लाख से अधिक मतदान अधिकारी 1.87 लाख मतदान केंद्रों पर 16.63 करोड़ से अधिक मतदाताओं का स्वागत करेंगे। मतदाताओं में 8.4 करोड़ पुरुष; 8.23 करोड़ महिला और 11,371 थर्ड जेंडर मतदाता शामिल हैं।

इन महत्वपूर्ण सीटों पर मतदान

लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में कुछ महत्वपूर्ण सीटों पर सबकी नजरें होंगी। इन महत्वपूर्ण सीटों में यूपी की सहारनपुर, रामपुर, पीलीभीत, मुजफ्फरनगर सीट है, तो असम की डिब्रूगढ़, सोनितपुर सीट पर भी सबकी नजर होगी। वहीं, नक्सल हिंसा प्रभावित छत्तीसगढ़ की बस्तर भी काफी अहम होगी। पहले चरण में बिहार की जमुई और गया सीट पर भी सबकी नजर रहने वाली है, तो केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर की उधमपुर सीट भी काफी अहम है।

इसके अलावा मध्य प्रदेश की छिंदवाड़ा, तमिलनाडु की चेन्नई उत्तर, चेन्नई दक्षिण, चेन्नई सेंट्रल, कोयंबटूर, थूथुक्कुडी, तिरुनेलवेली, कन्याकुमारी, मणिपुर दो आंतरिक और बाह्य सीट, राजस्थान की बीकानेर और पश्चिम बंगाल की कूचबिहार और अलीपुरद्वार पर भी सभी की निगाहें टिकी रहेंगी।

इन चेहरों पर सबकी निगाहें

उत्तर प्रदेश की मुजफ्फरनगर सीट से केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान चुनाव मैदान में हैं। राजस्थान के अलवर से केंद्रीय मंत्री और राज्यसभा सदस्य भूपेंद्र यादव अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। बीकानेर से केंद्रीय कानून मंत्री अर्जुन राम मेघवाल, तमिलनाडु की नीलगिरी लोकसभा सीट से केंद्रीय मंत्री एल मुरुगन चुनाव मैदान में हैं। तमिलनाडु भाजपा अध्यक्ष के. अन्नामलाई कोयंबटूर से मैदान में हैं, उनपर भी सभी की नजरें रहने वाली हैं।

लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में नागपुर लोकसभा सीट से नितिन गडकरी चुनाव मैदान में हैं। वो दो बार ये सीट जीत चुके हैं, इस बार वो हैट्रिक लगाने के लिए मैदान में हैं। जम्मू-कश्मीर की उधमपुर सीट से केन्द्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह मैदान में हैं। केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू तीन बार के सांसद हैं। उनपर भी सबकी निगाहें होगीं, तो केन्द्रीय मंत्री एवं असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल असम के डिब्रूगढ़ से चुनावी मैदान में हैं। तेलंगाना की राज्यपाल और पुडुचेरी की उपराज्यपाल पद से इस्तीफा देकर राजनीति में लौटी तमिलिसाई सौंदर्यराजन चेन्नई दक्षिण से चुनाव लड़ रही हैं।

कॉन्ग्रेस के बड़े उम्मीदवारों की बात करें तो शिवगंगा के सांसद कार्ति चिदंबरम फिर से चुनाव मैदान में हैं। उनके पिता और कॉन्ग्रेस सरकार में मंत्री रहे चिदंबरम यहाँ से सात बार जीत चुके थे। असम की कलियाबोर सीट से गौरव गोगोई पर सभी की नजरे होंगी। वहीं, उत्तरी राजस्थान में भाजपा के गढ़ चूरू से दो बार के पैरालंपिक स्वर्ण पदक विजेता भाला फेंक खिलाड़ी भाजपा उम्मीदवार देवेंद्र झाझरिया पहली बार चुनावी मैदान में हैं। एमपी के छिंदवाड़ा से नकुलनाथ पर भी सभी की निगाहें होंगी।

सात चरण में हो रहा लोकसभा चुनाव

गौरतलब है कि 19 अप्रैल को लोकसभा की 102 सीटों पर मतदान होना है। इन सीटों पर चुनाव प्रचार का शोर थम चुका है। चुनाव कार्यक्रम के अनुसार, लोकसभा चुनाव सात चरण में होंगे। दूसरे चरण के तहत 26 अप्रैल को 89, तीसरे चरण के तहत 7 मई को 94, चौथे चरण के तहत 13 मई को 96, पाँचवें चरण के तहत 20 मई को 49, छठे चरण के तहत 25 मई को 57 और सातवें चरण के तहत 1 जून को लोकसभा की 57 सीटों पर मतदान होगा। नतीजों की घोषणा 4 जून को होगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -