Saturday, May 18, 2024
Homeराजनीति'संदेशखाली की बहनों को डराया जा रहा, हिन्दुओं को बना दिया दोयम दर्जे का...

‘संदेशखाली की बहनों को डराया जा रहा, हिन्दुओं को बना दिया दोयम दर्जे का नागरिक’: बंगाल में गरजे PM मोदी, मिल कर रोने लगीं महिलाएँ

ममता बनर्जी की सरकार पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा, "बंगाल में TMC सरकार राम का नाम नहीं लेने देती। बंगाल में TMC सरकार रामनवमी नहीं मनाने देती। कांग्रेस और लेफ्ट के लोगों ने भी राम मंदिर के विरुद्ध मोर्चा खोल रखा है। TMC के MLA ने कहा कि हिंदुओं को भागीरथी में बहा देंगे। सोचिए, इतनी हिम्मत, इतना साहस। इन्होंने हिंदुओं को दोयम दर्जे का नागरिक बनाकर रख दिया है।"

लोकसभा चुनाव 2024 के प्रचार के लिए रविवार (12 मई 2024) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल के बैरकपुर और हुगली पुहँचे। यहाँ पीएम मोदी ने भाजपा कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। वे प्रधानमंत्री से मिलकर भावुक हो गए। उन्होंने मोदी-मोदी और जय श्रीराम के नारे लगाए। प्रधानमंत्री से मुलाकात को उन्होंने अपने लिए सौभाग्य की बात कही।

प्रधानमंत्री ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कहा कि बंगाल में तृणमूूल कॉन्ग्रेस (TMC) सरकार वोटबैंक के लिए तुष्टिकरण की राजनीति करती है। उन्होंने कहा कि यहाँ बंगाल में आज राम का नाम नहीं लेने दिया जाता। रामनवमी नहीं मनाने दी जाती। CAA का विरोध किया जाता है। हिंदुओं को दोयम दर्जे का नागरिक समझा जाता है।

इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संदेहखाली और उसके आरोपित शाहजहाँ शेख का जिक्र किया। संदेशखाली में यौन उत्पीड़न के मामले को लेकर पीएम मोदी ने कहा, “संदेशखाली के गुनहगारों को पहले TMC की पुलिस ने बचाया। अब TMC ने एक नया खेल शुरू किया है। TMC के गुंडे संदेशखाली की बहनों को डरा रहे हैं, धमका रहे हैं। सिर्फ इसलिए कि अत्याचारी का नाम शाहजहाँ शेख है।”

मोदी ने कहा, कभी बंगाल में एक से बढ़कर एक वैज्ञानिक खोज हुआ करती थीं। आज TMC के राज में जगह-जगह बम बनाने की होम इंडस्ट्री चल रही है। एक समय था, जब बंगाल घुसपैठियों के खिलाफ क्रांति किया करता था, लेकिन आज TMC के संरक्षण में यहाँ घुसपैठी फल-फूल रहे हैं। बंगाल में अपनी आस्था का पालन करना भी गुनाह है। यहाँ रामनवमी नहीं मनाने दिया जाता।”

ममता बनर्जी की सरकार पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा, “बंगाल में TMC सरकार राम का नाम नहीं लेने देती। बंगाल में TMC सरकार रामनवमी नहीं मनाने देती। कांग्रेस और लेफ्ट के लोगों ने भी राम मंदिर के विरुद्ध मोर्चा खोल रखा है। TMC के MLA ने कहा कि हिंदुओं को भागीरथी में बहा देंगे। सोचिए, इतनी हिम्मत, इतना साहस। इन्होंने हिंदुओं को दोयम दर्जे का नागरिक बनाकर रख दिया है।”

बताते चलें कि शाहजहाँ शेख TMC में था, तब संदेशखाली की महिलाओं का यौन उत्पीड़न करता था और उनकी जमीनों पर जबरन कब्जा करता था। इसके विरोध में महिलाओं ने प्रदर्शन किए और देश भर में बवाल हुआ तो ममता बनर्जी की सरकार ने आरोपित शाहजहाँ शेख को गिरफ्तार किया और पार्टी से निकाला। इसके बाद से वहाँ की महिलाओं को डराने-धराने का आरोप लगते रहे है।

अब खबर आई है कि TMC नेताओं पर रेप का आरोप लगाने वाली तीन महिलाओं में से दो ने केस वापस ले लिया है। महिलाओं ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी के स्थानीय नेता ने कई महिलाओं से सादे कागज पर दस्तखत करवाए और बाद में सत्तारूढ़ तृणमूल कॉन्ग्रेस के नेताओं के खिलाफ रेप और यौन उत्पीड़न की शिकायत दर्ज करवाने में इनका इस्तेमाल किया गया।

इसको लेकर भाजपा ने आरोप लगाया कि संदेशखाली की महिलाओं को डराया धमकाया जा रहा है। पश्चिम बंगाल भाजपा के अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने आरोप लगाया कि वीडियो और कथित स्टिंग ऑपरेशन फर्जी था और उन्हें शक है कि विडियो आर्टिफिशल इंटेलिजेंस की मदद से बनाया गया है। बता दें कि यहाँ की महिलाएँ पहले ही डर जता चुकी है कि उन्हें डराया धमकाया जा रहा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘AAP झूठ की बुनियाद पर बनी पार्टी, इसकी विश्वसनीयता शून्य नहीं, माइनस में’ – BJP के साथ स्वाति मालीवाल मुद्दे पर जेपी नड्डा का...

दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने कहा कि स्वाति मालीवाल लंबे समय से भाजपा नेताओं के संपर्क में हैं और उनके ही इशारे पर ये साजिश रची गई।

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -