Sunday, August 1, 2021
Homeराजनीति'तमीज से बात करो, जल्दी पता चल जाएगा मैं कौन हूँ': MP के अस्पताल...

‘तमीज से बात करो, जल्दी पता चल जाएगा मैं कौन हूँ’: MP के अस्पताल में अब कॉन्ग्रेस की नूरी खान ने डॉक्टर को हड़काया

नूरी खान माधव नगर अस्पताल में व्यवस्था देखने पहुँचीं। उनके साथ मोबाइल कैमरा ऑन किए हुए करीब 10 और लोग वार्ड में घुस गए। वार्ड में भीड़ देख डॉक्टर ने कहा आप कौन हैं, कृपया कोविड गाइडलाइंस का पालन कीजिए। इसी बात पर नूरी खान भड़क गईं।

‘तमीज से बात करो, जल्द ही पता लग जाएगा मैं कौन हूँ।’ ये शब्द मध्य प्रदेश कॉन्ग्रेस की प्रवक्ता नूरी खान के हैं। कुछ दिनों पहले भोपाल के जेपी अस्पताल से कॉन्ग्रेस नेता और पूर्व मंत्री पीसी शर्मा द्वारा की गई अभद्रता का एक वीडियो सामने आया था। अब एक वीडियो उज्जैन के माधव नगर अस्पताल से सामने आया है, जिसमें कॉन्ग्रेस नेता नूरी खान डॉक्टर से अभद्रता करते नजर आईं हैं।

कॉन्ग्रेस नेता कथित तौर पर अस्पताल में व्यवस्था देखने पहुँची थीं। इस दौरान अस्पताल के ही डॉक्टर से किसी बात पर उनकी बहस शुरू हो गई। डॉक्टर ने उनसे पूछा कि आप कौन हैं, कोविड गाइडलाइन का ध्यान रखिए। इस पर कॉन्ग्रेस नेता ने कहा, “मैं कौन हूँ, आपको जल्द ही पता लग जाएगा।”

क्या है पूरा मामला

उज्जैन के 130 कोविड मरीजों की क्षमता वाले माधव नगर अस्पताल में इस वक्त 150 से भी ज्यादा मरीज हैं। दूसरे अस्पतालों में जगह के अभाव के चलते मरीजों को यहाँ रखा गया। किसी जगह एक बेड पर दो मरीजों को रखना पड़ा, तो कहीं फर्श पर जगह कर मरीजों के इलाज की व्यवस्था की गईं। कई मरीजों को साँस लेने में दिक्कत भी हो रही थीं, डॉक्टरों ने OPD खाली कर ऐसे मरीजों को वार्ड में भर्ती करा दिया।

नूरी खान माधव नगर अस्पताल में व्यवस्था देखने पहुँचीं। उनके साथ मोबाइल कैमरा ऑन किए हुए करीब 10 और लोग वार्ड में घुस गए। वार्ड में भीड़ देख डॉक्टर भोजराज शर्मा व अन्य स्वास्थ्यकर्मी वहाँ इकट्ठा हो गए। मरीजों को फर्श पर देख नेता डॉक्टरों से कहने लगीं ये व्यवस्थाएँ हैं आपके अस्पताल की, इस तरह दो गज दूरी का पालन हो रहा है। जिस पर डॉक्टर ने कहा आप कौन हैं, कृपया कोविड गाइडलाइंस का पालन कीजिए।

डॉक्टर की बात सुन नूरी खान ने कहा, “आप तमीज से बात कीजिए, आपको जल्द ही पता लग जाएगा कि मैं कौन हूँ।” उन्होंने पूछा कि ये मरीजों को रखने का कोई तरीका है, यहाँ बिना दूरी के कोरोना मरीजों का इलाज कैसे हो रहा है। डॉक्टर ने कहा कि ये कोई तरीका नहीं हुआ बात करने का। कुछ देर दोनों में बहस जारी रहने के बाद कॉन्ग्रेस नेता मोबाइल कैमरों के सामने अपना पक्ष रख कर चली गईं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

पीवी सिंधु ने ओलम्पिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता: वेटलिफ्टिंग और बॉक्सिंग के बाद बैडमिंटन ने दिलाया देश को तीसरा मेडल

भारत की बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता। चीनी खिलाड़ी को 21-13, 21-15 से हराया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,477FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe