Tuesday, July 16, 2024
Homeराजनीतिपवार ने मोदी की तारीफ में पढ़े कसीदे, बेटी सुप्रिया सुले ने कहा- ये...

पवार ने मोदी की तारीफ में पढ़े कसीदे, बेटी सुप्रिया सुले ने कहा- ये PM का बड़प्पन

“मैं उस चर्चा (NCP अध्यक्ष शरद पवार और मोदी के बीच) में नहीं थी। मुझमें ऐसा भरोसा और विश्वास जताने के लिए मैं प्रधानमंत्री को अपने दिल की गहराइयों से शुक्रिया अदा करती हूँ। उन्होंने जो कुछ कहा, उससे मैं अभिभूत हूँ।"

राष्ट्रवादी कॉन्ग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार ने बीते दिनों एक इंटरव्यू के दौरान दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें साथ मिलकर काम करने का ऑफर दिया था। पवार के मुताबिक महाराष्ट्र में मिलकर सरकार बनाने की सूरत में प्रधानमंत्री ने उनकी बेटी सुप्रिया सुले को केंद्रीय कैबिनेट में जगह देने की भी पेशकश की थी। बारामती से लोकसभा सांसद सुप्रिया सुले ने अब इसके लिए प्रधानमंत्री का आभार जताया है।

मंगलवार (दिसंबर 3, 2019) को सुप्रिया सुले ने कहा, “ये प्रधानमंत्री जी का बड़प्पन है कि उन्होंने ऐसा सुझाव दिया। मैं उनकी आभारी हूँ उन्होंने कहा, लेकिन वो हो नहीं पाया।” उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, “मैं उस चर्चा (NCP अध्यक्ष शरद पवार और मोदी के बीच) में नहीं थी। मुझमें ऐसा भरोसा और विश्वास जताने के लिए मैं प्रधानमंत्री को अपने दिल की गहराइयों से शुक्रिया अदा करती हूँ। उन्होंने जो कुछ कहा, उससे मैं अभिभूत हूँ। लेकिन पवार ने स्पष्ट रूप से बेहद विनम्रतापूर्वक प्रधानमंत्री को बता दिया कि यह संभव नहीं है।”

वहीं पवार ने इंटरव्यू के दौरान राष्ट्रहित पर पीएम मोदी के साथ होने की बात कही। उन्होंने पीएम मोदी की तरफ इशारा करते हुए कहा, “हमारे उनके साथ कल भी रिश्ते अच्छे थे। आज भी हैं और आगे भी रहेंगे। जब तक वे देश के हित की बात करेंगे, भलाई की बात करेंगे, तो राजनीति में इसका विरोध करने की कोई आवश्यकता नहीं है। राजनीतिक मुद्दों पर जो असहमति रहती है वो रहेगी। इसमें कोई बदलाव नहीं आएगा। लेकिन जब बात राष्ट्रीय हित की होगी, तो मेरा सहयोग उनके साथ रहेगा। इसमें कोई दोराय नहीं है।”

गौरतलब है कि एनसीपी, कॉन्ग्रेस और शिवसेना में महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए चल रही बातचीत के बीच पिछले महीने पवार ने प्रधानमंत्री से मुलाकात की थी। बाद में उनके भतीजे अजित ने पार्टी निर्देश से इतर जाते हुए बीजेपी से हाथ मिला लिया था। अजित पवार ने 23 नवंबर को महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। हालाँकि बाद में उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया और फिर पार्टी में वापस लौट आए।

इसके बाद महाराष्ट्र में शिवसेना-कॉन्ग्रेस-एनसीपी की सरकार बन गई। नई सरकार में अजित पवार की भूमिका के बारे में पूछे जाने पर सुप्रिया ने कहा कि वह एनसीपी के वरिष्ठ नेता हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि अजित पवार बीजेपी में शामिल नहीं हुए थे। सुप्रिया ने कहा, “यह हमारी पार्टी और परिवार का आंतरिक मामला है। वह (अजित पवार) मेरे बड़े भाई और हमेशा एनसीपी के वरिष्ठ नेता बने रहेंगे।”

शरद पवार ने खोल दिए राज: कॉन्ग्रेस से चिढ़ा था अजित, फडणवीस से चल रही बात का पता था

शरद पवार की 2 डिमांड पूरी कर देते मोदी-शाह तो उद्धव ठाकरे नहीं बनते महाराष्ट्र के सीएम

शरद पवार ने भतीजे अजित के लिए माँगा 2.5 साल CM पद: सर मुँड़ाते ही उद्धव ठाकरे को पड़े ओले

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी फैसले की प्रतीक्षा में कन्हैयालाल का परिवार, नूपुर शर्मा पर भी खतरा; पर ‘सर तन से जुदा’ की नारेबाजी वाले हो गए...

रिपोर्ट में यह भी कहा गया था कि गौहर चिश्ती 17 जून 2022 को उदयपुर भी गया था। वहाँ उसने 'सर कलम करने' के नारे लगवाए थे।

किसानों के प्रदर्शन से NHAI का ₹1000 करोड़ का नुकसान, टोल प्लाजा करने पड़े थे फ्री: हरियाणा-पंजाब में रोड हो गईं थी जाम

किसान प्रदर्शन के कारण NHAI को ₹1000 करोड़ से अधिक का नुकसान झेलना पड़ा। यह नुकसान राष्ट्रीय राजमार्ग 44 और 152 पर हुआ है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -